मासिक धर्म में क्यों महिलाओं को नहीं धोने चाहिए बाल, जानें कारण

कल्याण आयुर्वेद- महिलाओं में मासिक धर्म का होना एक नेचुरल प्रक्रिया है जो 12 से 14 साल की उम्र से शुरू होकर 45 से 50 वर्ष की उम्र तक चलता है. जिसमें शरीर का अशुद्ध खून बाहर निकलने का काम करता है. यही कारण है कि इस दौरान महिलाओं को आराम करने के साथ बहुत सी चीजें करने से मना की जाती है. जैसे कि वही पुरानी समय से मासिक धर्म के दौरान बाल न धोने की सलाह दी जाती है. लेकिन आजकल की महिलाएं इसे भ्रम मानकर बाल धो लेती हैं. लेकिन ऐसा भी माना जाता है कि यह महिलाओं की सेहत के लिए नुकसानदायक होता है. ऐसे में यह सही है या गलत ऐसा कह पाना थोड़ा मुश्किल हो सकता है.
मासिक धर्म में क्यों महिलाओं को नहीं धोने चाहिए बाल, जानें कारण
मासिक धर्म के दिनों में बाल धोने से क्या होते हैं नुकसान-
* मासिक धर्म के दौरान ब्लडिंग का अच्छे से होना बहुत जरूरी होता है क्योंकि यदि ब्लडिंग अच्छे से नहीं होती है तो यह गर्भाशय में थक्कों का रूप ले लेती है जो बाद में आपके लिए परेशानी का कारण बन जाती है और ब्लडिंग को बेहतर होने के लिए शरीर में गर्माहट रहना बहुत जरूरी होता है. लेकिन सिर धोने से शरीर का तापमान कम हो जाता है. जिसके कारण खुलकर ब्लडिंग नहीं हो पाता है. जिसके कारण पेट में दर्द की समस्या हो सकती है. इसलिए मासिक धर्म में खासकर पहले 3 दिन बाल न धोने की सलाह दी जाती है.
* मासिक धर्म के दिनों में नहाने या बाल धोने से विषैले पदार्थ पूरी तरह से शरीर से बाहर नहीं निकल पाते हैं जिसके कारण इन्फेक्शन, पेट में तेज दर्द जैसी कई परेशानियां हो सकती है. ऐसे में कम से कम 3 दिन तक बाल न धोएं. आप मासिक धर्म के आखिरी दिनों में बाल धोएं. अगर आप इस दौरान नहाने सिर धोने से परहेज नहीं कर सकती है तो इसके लिए आप गुनगुने पानी का प्रयोग करें.
* यदि मासिक धर्म के दौरान विषैले पदार्थ पूरी तरह से बाहर नहीं निकलते हैं तो इस वजह से शरीर में कई विकार उत्पन्न हो सकते हैं जिसके कारण आपको किसी न किसी शारीरिक समस्या का सामना करना पड़ सकता है जैसे कि इंफेक्शन, पेट में दर्द रहना, बच्चेदानी में सूजन आदि ऐसे में आप इन परेशानियों से बचना चाहती हैं तो आपको मासिक धर्म के दौरान बालों को नहीं धोना चाहिए,

Post a Comment

0 Comments