डॉ. एंथनी का दावा- इस दवा से 31% जल्दी ठीक हो रहे हैं कोरोना संक्रमित मरीज

कल्याण आयुर्वेद- फिलहाल पूरी दुनिया में कोरोना संक्रमण की वजह से हड़कंप मचा हुआ है. ऐसे में डॉक्टर और वैज्ञानिक दवाओं की रिसर्च में लगे हुए हैं क्योंकि न तो अभी तक कोरोना संक्रमण रोकने के लिए कोई वैक्सीन उपलब्ध है और न ही सटीक इलाज.
डॉ. एंथनी का दावा- इस दवा से 31% जल्दी ठीक हो रहे हैं कोरोना संक्रमित मरीज
लेकिन आपको जानकर खुशी होगी कि कोरोना वायरस की वैक्सीन को लेकर एक अच्छी खबर है. खबर यह है कि एक दवा जिसे इबोला को खत्म करने के लिए बनाया गया था. वह कोरोनावायरस के मरीजों को ज्यादा जल्दी ठीक कर रही है. अमेरिका के वैज्ञानिकों ने कहा है कि इस दवा की सफलता से कोरोना को हराने के लिए नई उम्मीद जगी है. यहां तक कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के सलाहकार डॉ एंथनी ने भी इस दवा की तारीफ की है.
आपको बता दें कि इस दवा का नाम Remdesivir है. इस दवा से कोरोना मरीज एक 30 फ़ीसदी ज्यादा तेजी से ठीक हो रहे हैं. डॉक्टर एंथनी ने कहा है कि यह वाकई में जादुई दवा है. इसकी वजह से मरीजों का जल्दी ठीक होना मतलब इस दवा का उपयोग ज्यादा से ज्यादा कर सकते हैं. डॉक्टर एंथनी ने यह बात व्हाइट हाउस में डोनाल्ड ट्रंप के सामने मीडिया से कही.
बता दें कि अमेरिका ने कुछ दिन पहले ही इस दवा का क्लीनिकल ट्रायल शुरू किया था. जिसके परिणाम अब सामने आए हैं. डॉक्टर एंथनी ने कहा है कि आंकड़े बताते हैं कि Remdesivir दवा का मरीजों के ठीक होने के समय में बहुत स्पष्ट प्रभावी और सकारात्मक प्रभाव पड़ रहा है.
इन्होंने कहा है कि Remdesivir दवा का अमेरिका, यूरोप और एशिया के 68 स्थानों पर 1063 लोगों पर ट्रायल किया गया है. जिसमें यह जानकारी मिली है कि यह दवा ज्यादा जल्दी कोरोना संक्रमित मरीज को ठीक कर सकती है और ज्यादा तेजी से वायरस को रोक सकती है.
हालांकि Remdesivir इबोला के ट्रायल में फेल हो गई थी. इससे पहले विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा था कि इस दवा का असर कोरोना मरीजों पर कम हो रहा है. यह कारगर नहीं है लेकिन अब इस क्लिनिकल ट्रायल के बाद डब्ल्यूएचओ के वरिष्ठ अधिकारी माइकल रेयान टिप्पणी करने से मना कर रहे हैं.
डॉक्टर एंथनी की इस घोषणा के बाद पूरी दुनिया में एक सुकून और खुशी की लहर दौड़ गई है. यह बात तब सामने आई जब कोरोना ने 228239 लोगों की जान ले ली है. इस महामारी से 32,00,000 से ज्यादा लोग संक्रमित हैं.
Remdesivir दवा को इबोला के वैक्सीन के रूप में बनाया गया था. माना जाता था कि इससे किसी भी तरह का वायरस मारा जा सकता है. इससे पहले अमेरिका के शिकागो शहर में कोरोनावायरस गंभीर रूप से बीमार 125 लोगों को रेलवे शिविर दवा दी गई जिसमें से 123 लोग ठीक हो गए थे.
स्रोत- आज तक

Post a Comment

0 Comments