स्वप्नदोष रोकने के आश्चर्यजनक उपाय, सिर्फ एक खुराक में ही होगा फायदा

स्वप्नदोष रोकने के आश्चर्यजनक उपाय, सिर्फ एक खुराक में ही होगा फायदा
कल्याण आयुर्वेद- अपने नाम के विपरीत स्वप्नदोष कोई दोष ना होकर एक स्वाभाविक शारीरिक क्रिया है. जिसके अंतर्गत एक पुरुष को नींद के दौरान वीर्यपात हो जाता है. यदि महीने में एक या दो बार ही हो तो यह सामान्य बात कही जा सकती है और यह कोई रोग नहीं है. लेकिन यदि स्वप्नदोष महीने में कई बार होता है तो वीर्य शुक्राणु की कमी होती है और व्यक्ति को फिजिकल कमजोरी का एहसस होने लगता है क्योंकि यह शुक्राणु भी रक्त कणों से पैदा होता है. अतःज्यादा मात्रा में शुक्राणु का छह व्यक्ति को कमजोर कर देता है. आज हम आपको स्वप्नदोष का इलाज और स्वप्नदोष रोकने के उपाय बताने जा रहे हैं.
स्वप्नदोष किशोरावस्था और शुरुआती व्यस्क वर्षों के दौरान होने वाली एक सामान्य घटना है. लेकिन यह उत्सर्जन यौन के बाद किसी भी समय हो सकता है. आवश्यक नहीं है कि प्रत्येक पुरुष स्वप्नदोष को अनुभव करें. जहां अधिकांश पुरुष इसे अनुभव करते हैं. वहीं कुछ पूर्ण रूप से स्वस्थ और सामान्य पुरुष भी इसका अनुभव नहीं करते हैं. स्वप्नदोष के दौरान पुरुष को कामोद्दीपक सपने आ सकते हैं और यह स्तंभन के बिना भी हो सकता है.
स्वप्नदोष रोकने के आश्चर्यजनक उपाय, सिर्फ एक खुराक में ही होगा फायदा
क्यों होता है स्वप्नदोष?
स्वप्नदोष या रात में वीर्यपात एक ऐसी स्थिति होती है जब कुछ पुरुषों को नींद में स्वखलन हो जाता है जो आमतौर पर सुबह के समय या देर रात की शुरुआती घंटों में होता है. शिश्न की मांसपशियां और तंत्रिकाओं में कमजोरी के कारण यह समस्या आती है. इसके पीछे अत्यधिक हस्तमैथुन के इतिहास, वीर्य चिपचिपापन, हार्मोन में अस्थिरता और मूत्राशय के भरे होने के कारण होती है.आमतौर पर पुरुष वीर्य को अपने अंदर रोकने में सक्षम होते हैं. लेकिन जब यह अत्यधिक होता है तो यह रात में स्वप्नदोष के रूप में निकल जाता है.
ज्यादा वीर्यपात और स्वप्नदोष में एक व्यक्ति को अनिद्रा, चक्कर आना, कमजोरी, स्मृति और दृष्टि की हानि होती है, घुटनों में दर्द, कमजोर यौन क्षमता, बांझपन, स्तंभन दोष, शिथिलता और तनाव का अनुभव हो सकता है. दुर्लभ मामलों में वीर्य के साथ मूत्र भी बाहर निकल सकता है.
स्वप्नदोष रोकने के आश्चर्यजनक उपाय-
1 .ऐसा माना जाता है कि स्वप्नदोष रोकने का सबसे अच्छा तरीका जीवन शैली को बदलकर और डॉक्टर के मार्गदर्शन में इलाज करना है. इसमें हस्तमैथुन की आदत को छोड़ देना है और अश्लील और पोर्न वीडियो से दूर रहना है. हालाकी निम्नलिखित तरीकों से प्राकृतिक रूप से स्वप्नदोष की समस्या को दूर किया जा सकता है.
2 .ध्यान और एकाग्रता बढ़ाकर आंतरिक भावनाओं को नियंत्रित किया जा सकता है. यह अवांछित गतिविधियों में शामिल होने से पुरुषों को रोकने में मदद करता है और स्वप्नदोष नियंत्रित करने का सबसे बेहतर तरीका होता है.
3 .व्यायाम और योग एक व्यक्ति को अपने दिमाग शरीर औरआत्मा का पूरा नियंत्रण प्रदान करने की अनुमति देता है जो नियमित योग करके और सेक्स से संबंधित गतिविधियों का अभ्यास करते हैं. वह स्वप्नदोष से बच सकते हैं.
स्वप्नदोष रोकने के आश्चर्यजनक उपाय, सिर्फ एक खुराक में ही होगा फायदा
4 .बिस्तर पर जाने से पहले आवश्यक तेलों के साथ स्नान करना सहायक होता है क्योंकि यह शरीर और मन को आराम देता है और नींद भी अच्छी आ जाती है.
5 .आहार में परिवर्तन कर स्वप्नदोष को रोका जा सकता है. इस समस्या से ग्रस्त पुरुष हों, अम्लीय भोजन से बचना चाहिए और अगर स्वप्नदोष की समस्या बनी रहती है तो आपको किसी सेक्सोलॉजिस्ट से परामर्श करने की आवश्यकता होती है. स्वप्नदोष का इलाज करना बहुत आसान है और इसे पहचान आ जाना चाहिए ताकि यह किसी व्यक्ति के सेक्स जीवन में बाधा ना पड़े.
6 .लौकी का जूस स्वप्नदोष को दूर करने में काफी मददगार होता है. इससे शरीर पर ठंडा प्रभाव पड़ता है और स्वप्नदोष रोकता है. यह 2 तरह से इस्तेमाल किया जा सकता है या तो सोने से पहले आधा ग्लास लौकी का जूस पी सकते हैं या तिल के तेल के साथ लौकी का रस मिलाकर इससे सिर की मालिश कर सकते हैं.
7 .आंवला शरीर की प्रतिरक्षा बढ़ाने में मदद करता है. यह माना जाता है कि एक गिलास आंवला के रस को पीने से स्वप्नदोष से छुटकारा मिल जाता है. यदि उपलब्ध ना हो तो एक चम्मच आंवले के चूर्ण को सुबह-शाम नियमित सेवन करने से कुछ ही दिनों में यह समस्या दूर हो जाती है.
8 .दूध के साथ केला, बादाम और अदरक को साथ मिलाकर सेवन करना इस समस्या को समाप्त करने में मदद मिलती है. केले में ठंडक होती है जो समस्या को नियंत्रित करने में मदद करती है. इसके अलावा दही खाना फायदेमंद होता है क्योंकि यह उन दिनों को ठीक कर शरीर को शांत करता है और प्रतिरक्षा में बढ़ोतरी करता है.
9 .अजवाइन और मेथी का रस स्वप्नदोष में और साथ ही समय से पहले स्वखलन को दूर करने में मददगार होता है, दो चम्मच अजवाइन का रस और एक चम्मच मेथी का रस शहद के साथ मिलाकर सेवन करना चाहिए.
10 .स्वप्न दोष को दूर करने का अचूक उपाय है चंद्रप्रभा वटी. यह वटी आयुर्वेद दवा दुकानों में आसानी से मिल जाती है. इसके दो गोली सुबह-शाम ठंडे पानी के साथ खाने से स्वप्नदोष की समस्या दूर हो जाती है. इसका असर एक खुराक दवा खाने पर ही होने लगता है. यह आजमाया हुआ दवा है.
यह जानकारी अच्छी लगे तो लाइक, शेयर करें और स्वास्थ्य से जुड़ी जानकारियां रोजाना पाने के लिए इस चैनल को अवश्य फॉलो कर लें. धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments