जीवन को खुशहाल बनाने के आसान टिप्स, आजमाएं और खुश रहे

जीवन को खुशहाल बनाने के आसान टिप्स, आजमाएं और खुश रहे
कल्याण आयुर्वेद- बचपन से ही हम सुनते आए हैं कि खुशियां बांटने से बढ़ती है और दुख बांटने से कम होता है. जब छोटे थे तो यह बात समझ नहीं आती थी. लेकिन बड़े होने के बाद इसे बड़ी शिद्दत से महसूस किया मन पर कितना भी भारी बोझ क्यों ना हो अगर आप उसे किसी अपने से शेयर कर देते हैं तो आपका मन हल्का हो जाता है. जीवन में खुशियों को नियंत्रित करने के लिए इन बातों पर अमल करें और खुश रहें.
रखें सकारात्मक सोच-
सकारात्मक सोच ना केवल बीमारियों को दूर रखती है बल्कि इससे कार्य क्षमता में भी बढ़ोतरी होती है. व्यक्ति सबसे ज्यादा दुखी अपने करियर को लेकर रहता है. उसके मन में हमेशा इस बात का भय बना रहता है कि कहीं मैं अपने खराब परफारमेंस की वजह से अपनी नौकरी ना खो दें या फिर पता नहीं मेरी प्रमोशन होगी या नहीं? इस तरह की सोच उसकी वर्क एफिशिएंसी को कम करती है अगर आप चाहते हैं कि आपको अपने काम में सफलता हासिल हो और नौकरी में आपका प्रमोशन हो तो आप इसके लिए जरूरी है कि हमेशा खुश रहें और अपने सोच को सकारात्मक रखकर सिर्फ अपने काम पर फोकस करें. यकीनन आपको सफलता मिलेगी. जिंदगी में कुछ भी पाने के लिए किसी किस्म का पूर्वाग्रह पालने के बजाय सिर्फ अपनी सोच को सकारात्मक रखने की जरूरत है. एक बार अच्छा सोच कर और बुराई में अच्छाई घोलने की कोशिश करके देखिए, यकीनन आपके जीवन में खुशियां बरसात होगी और सफलता आपके कदम चूमेगी.
नकारात्मक सोच से रहें दूर-
अगर अपने आसपास नजर दौड़ाई तो आपको ऐसे बहुत सारे लोग देखने को मिल जाएंगे जो अपने आसपास नकारात्मक सोच का जाल बनाकर रखते हैं. हर तरह की सुख सुविधा मौजूद रहने के बावजूद भी उनके चेहरे पर खुशी नजर नहीं आती है. इसका कारण उनकी सोच में नकारात्मक भाव की प्रधानता है. जिसकी वजह से भी अच्छी बातों पर भी खुश नहीं हो पाते हैं. अगर आप जीवन में खुश रहना चाहते हैं तो सबसे पहले अगर आपके आसपास ऐसे लोगों का जमावड़ा है तो आपको उनसे दूरी बना कर रहना चाहिए. उसके बाद अपने अंदर के नकारात्मक सोच को निकाल देना चाहिए. मेड्रिड यूनिवर्सिटी ने अपने एक शोध में बताया है कि अपने मन की नकारात्मक विचारों से छुटकारा पाने का सबसे बेहतर और आसान तरीका है. अपनी नकारात्मक सोच को एक सादे कागज पर लिखकर उसे फाड़ देना. इससे आपके नकारात्मक भाव स्वतः ही खत्म हो जाएंगे.
जीवन को खुशहाल बनाने के आसान टिप्स, आजमाएं और खुश रहे
एक्सरसाइज को भी दें महत्व-
जीवन में खुश रहने के लिए स्वस्थ रहना बहुत जरूरी है. इस संबंध में यूनिवर्सिटी आफ टोरंटो ने 25 से अधिक बार रिसर्च किया है उसके द्वारा किए गए रिसर्च में यह सिद्ध हो चुका है कि एक्सरसाइज करने से मूड अच्छा होता है. इससे न केवल आपका तनाव दूर होता है वरन नियमित एक्सरसाइज से आप डिप्रेशन से भी दूर रहते हैं. जब आप अपने पास के पार्क के दो- चार चक्कर लगाकर आते हैं तो अंदर से खुशी महसूस होती है, इसका कारण यह है कि जब आप अपने घर से बाहर जाते हैं तो फिर आपकी मुलाकात बहुत सारे नए लोगों से होती है. पार्क में जाते हैं तो वहां खेलते बच्चे को देखकर आप अपना सारा तनाव खो जाते हैं आपको अपने बचपन के दिन याद आने लगते हैं जो आपको खुश करने वाले होते हैं.
भरपूर नींद लें-
कई सर्वेक्षणों में यह सिद्ध हुआ है कि भरपूर नींद ना केवल स्वस्थ रहने के लिए जरूरी है बल्कि इससे आपके अंदर की नकारात्मकता भी खत्म होती है. जब आप सो कर उठते हैं तो आप पूरी तरह से तरोताजा होते हैं. उस समय आपके अंदर अपने काम को बेहतर तरीके से करने की इच्छा जागृत होती है जो कि आपको अपने काम को अच्छी तरह करने की एनर्जी प्रदान करती है. जब आप किसी काम को बेहतर तरीके से करते हैं तो आपके अंदर स्वतः ही अनुभूति का संचार होता है. अतः गहरी नींद से आपके अंदर की सारी नकारात्मकता खत्म हो जाती है.
अच्छी यादों को सहेजें-
हमेशा खुश रहने के लिए अपनी अच्छी यादों को सहेज कर रखें. अगर आपके साथ कुछ बुरा हुआ है तो उसे भूलकर अच्छी बातों को याद करने की कोशिश करें. इस संबंध में कॉर्नेल यूनिवर्सिटी के मनोवैज्ञानिक थॉमस गिलोविच ने एक शोध किया था. जिसमें यह बात सामने आई कि आपको महंगी चीजों की शॉपिंग करके भी वह खुशी नहीं मिलेगी जो अपने अच्छे लम्हों को याद करके और उन लोगों के साथ समय बिताकर मिलेगी, जो आपके दिल के करीब है और जिनके साथ आप अपनी भावनाओं और विचारों को बांट सकते हैं. सच तो यह है कि अच्छी यादों से मिलने वाली खुशी का कभी अंत नहीं होता है. खुद को तरोताजा रखने के लिए अपने पुराने दोस्तों से मिलकर उनके साथ बीते दिनों की यादों को ताजा करके तो देखिए, आपको असीम आनंद की प्राप्ति होगी.
करें थोड़ी सी मदद मिलेगी ढेर सारी खुशियां-
कभी किसी की मदद करके देखिए आप ऐसी अद्भुत खुशी मिलेगी कि आपका मन हमेशा किसी मदद को तैयार रहेगा. सच तो यह है कि किसी के चेहरे पर थोड़ी सी मुस्कान लाने में जो आनंद और सुकून मिलता है, वह आपको बेशुमार दौलत और बड़ा घर खरीदने पर भी नहीं मिलेगा. समय-समय पर किए गए विभिन्न सर्वेक्षणों में यह बात सामने आई है कि अपनी व्यस्त दिनचर्या से थोड़ी समय निकालकर किसी की मदद करने पर काफी खुशी का अहसास होता है.
अपने लक्ष्य पर करें ध्यान केंद्रित-
आपके जीवन में खुशियों का समावेश तभी हो सकता है जब आप अपने कार्य क्षेत्र में सफलता हासिल करते हैं और सामाजिक रूप से सक्रिय हैं. अपने काम में सफलता पाने के लिए यह बहुत जरूरी है कि आप बेकार की बकवास की बजाय वह करे जो आपकी प्राथमिकता हो. अपने लक्ष्य पर ध्यान केंद्रित करके न केवल आप अपनी नौकरी और व्यवसाय में सफलता की ऊंचाइयों तक पहुंच सकते हैं बल्कि अपने लिए खुशियों के संसार की संरचना भी कर सकते हैं.
जीवन को खुशहाल बनाने के आसान टिप्स, आजमाएं और खुश रहे
आमतौर पर आप अपने बारे में अपनी खुशियों के बारे में सोचने की जगह दूसरों के बारे में सोच कर ही अपनी जिंदगी का आधा हिस्सा बर्बाद कर देते हैं. खुश रहने के लिए बहुत जरूरी है कि आप अपने बारे में सोचें, अपने आप से प्यार करें, आप दूसरों के बारे में सोचने के साथ-साथ अपने बारे में भी सोचे यह ठीक है कि जिम्मेदारियों का निर्वाह करना बहुत जरूरी होता है. लेकिन यह भी उतना ही सच है कि आप अपने आप को संतुष्ट रखें. तभी अपने जीवन में खुशियां ला पाएंगे. अपने लिए थोड़ा समय निकालकर अपना मनपसंद काम करें. आप अपने आप से प्यार करें तभी आप भी खुश रह पाएंगे और दूसरों को भी प्यार कर पाएंगे.
विकसित करें लेट गो की प्रवृत्ति-
बहुत से लोगों की यह आदत होती है कि वे अपने जीवन की बुरी बातों को आसानी से भूल नहीं पाते हैं. यह सच है कि किसी ने आपके साथ बुरा किया है तो उसकी कसक हमेशा बनी रहती है. लेकिन जीवन में खुश रहने की मूल मंत्र है कि आप बीती बातों को भूलकर आगे बढ़ने की कला सीखे. अपने अंदर लेट गो की प्रवृत्ति विकसित करें और दूसरों को माफ करके जीवन में आगे बढ़ने का प्रयास करें. आपके अंदर जो हुआ उसे भूल जा की भावना आएगी तो आप उन्हीं बातों का याद रखेंगे जो आपको खुशी प्रदान करती है.
यह जानकारी अच्छी लगे तो लाइक, शेयर करें और स्वास्थ्य से जुड़ी जानकारियां रोजाना पाने के लिए इस चैनल को अवश्य फॉलो कर लें. धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments