थायराइड के मरीजों को ध्यान रखनी चाहिए ये बातें, वरना बढ़ सकती है परेशानियां

कल्याण आयुर्वेद- आजकल की बदलती जीवन शैली में अनियमित खानपान, खानपान में पौष्टिक तत्वों की कमी, कुछ गलत आदतें आदि के कारण कई तरह की गंभीर बीमारियां होना आम बात हो गई है. कैंसर, पाइल्स, मोटापा, शुगर आदि कई बीमारियों से ग्रस्त हो रहे हैं. इन्हीं में से एक बीमारी है थायराइड. जो दिखने में तो बहुत ही सामान्य लगती है. लेकिन यह थायराइड ध्यान नही देने पर गंभीर बीमारी बन जाती है.
थायराइड के मरीजों को ध्यान रखनी चाहिए ये बातें, वरना बढ़ सकती है परेशानियां
इसलिए यदि आप थायराइड बीमारी से ग्रसित है तो शरीर में किसी भी तरह के बदलाव आने पर आपको तुरंत चिकित्सक से जांच करानी चाहिए और उनके अनुसार दवा का सेवन अवश्य करना चाहिए.
थायराइड के मरीजों को ध्यान रखनी चाहिए ये बातें, वरना बढ़ सकती है परेशानियां
क्योंकि थायराइड ऐसी बीमारी है जब एक बार हो जाती है तो पूरी जिंदगी साथ नहीं छोड़ती है. इसलिए परहेज और दवाओं से ही इसे नियंत्रित रह कर स्वस्थ जीवन जिया जा सकता है.
हम जानते हैं कि कोई भी बीमारी से ग्रस्त व्यक्ति के खाने-पीने के साथ उसकी दिनचर्या में बदलाव बहुत आवश्यक है. हम स्वास्थ्य के प्रति अगर कोई गलत कदम उठाते हैं तो उसकी लापरवाही की सजा हमें भुगतनी पड़ती है. जब भी थायराइड जैसी खतरनाक बीमारी में जरा सी भूल हमारे स्वास्थ्य के लिए नुकसानदायक हो सकती है.
इस बीमारी से बचने के लिए हमें केवल अपनी दिनचर्या को बदलना होगा, बस फिर क्या हम थायराइड जैसी गंभीर बीमारी से छुटकारा प्राप्त कर सकते हैं.
आइए आज आपकी सही दिनचर्या बनाने के कुछ उपाय बताने की कोशिश करते हैं-
1 .थायराइड से ग्रस्त व्यक्ति को अपने शरीर में आयोडीन की मात्रा की जांच अवश्य करानी चाहिए. मेटाबोलिज्म के सही प्रकार से कार्य करने के लिए हमारे शरीर में आयोडीन का होना बहुत जरूरी है. आयोडीन की मात्रा को कम ना होने दें और समय-समय पर चिकित्सक से इसकी जांच कराते रहना चाहिए और उनके परामर्श के अनुसार दवाइयों का सेवन करते रहना चाहिए.
थायराइड के मरीजों को ध्यान रखनी चाहिए ये बातें, वरना बढ़ सकती है परेशानियां
2 .खाने में कार्बोहाइड्रेट और वसा को बिल्कुल न के बराबर कर दें जितना हो सके गाजर, अंडे का सेवन करें. जिसमें विटामिन ए की मात्रा बहुत ज्यादा बढ़ सके. जितना हो सके भोजन में हरी सब्जियों और पौष्टिकता प्रदान करने वाली चीजों का ज्यादा से ज्यादा सेवन करना चाहिए.
3 .ताजा दही व सेब का खाने में प्रयोग करें जो हमारे शरीर में कई लाभकारी बैक्टेरिया उत्पन्न करते हैं जो हमारी थायराइड की बीमारी में लाभकारी होते हैं.
4 .प्रतिदिन आधे घंटे प्राणायाम जैसे हलासन, मत्स्यासन, सर्वांगासन करना चाहिए दवाओं के साथ साथ यह हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभकारी होते हैं.
5 .थायराइड के मरीजों को काली मिर्च का सेवन अधिक मात्रा में करना चाहिए क्योंकि काली मिर्च थायराइड हार्मोन को कंट्रोल करने में बहुत ही मददगार होती है. चाहे कालीमिर्च को पीसकर सेवन करें या ऐसे भी खा सकते हैं. परंतु जितना हो सके काली मिर्च को अपने खाने में अवश्य शामिल करें.
6 .ठंडी चीजों के सेवन से दूर रहें और खाने में वैसे चीजों को शामिल करें जो आसानी से पच जाए क्योंकि कब्ज, गैस, एसिडिटी होने पर यह समस्या बढ़ने लगती है और जोड़ों में दर्द अकड़न की समस्या होने लगती है.
7 .जिन्हें थायराइड की समस्या हो उनको शराब से दूर रहना चाहिए, क्योंकि इससे रात को नींद ना आना, बेचैनी और घबराहट होने लगती है. इससे एनर्जी लेवल कम होने का खतरा भी रहता है.
8 .थायराइड के मरीजों को रेड मीट का सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि इसमें सैचुरेटेड फैट होता है जो वजन बढ़ाने का काम करता है. थायराइड के रोगी को इसे खाने से दूर रहना जरूरी है. इससे जलन होने का डर भी रहता है.
9 .थायराइड के मरीजों को वनस्पति घी से परहेज रखना चाहिए क्योंकि इसमें कई तरह के पदार्थों की मिलावट की जाती है जो सेहत को नुकसान पहुंचा सकती है. थायराइड के रोगी के लिए यह हानिकारक हो सकता है.
यह जानकारी अच्छी लगे तो लाइक, शेयर करें और स्वास्थ्य से जुड़ी जानकारियां रोजाना पाने के लिए इस चैनल को अवश्य फॉलो कर लें. धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments