डब्ल्यूएचओ ने कहा- लॉक डाउन में ज्यादा छूट देना कोरोना को दावत देने जैसा होगा

डब्ल्यूएचओ ने कहा- लॉक डाउन में ज्यादा छूट देना कोरोना को दावत देने जैसा होगा
फिलहाल पूरी दुनिया में वायरस संक्रमण ने हड़कंप मचा कर रखा है. इससे पूरी दुनिया में लाखों की संख्या में लोग संक्रमित हो रहे हैं तो वहीं लाखों की संख्या में लोग जान भी गवां चुके हैं क्योंकि इस वायरस की रोकथाम के लिए न तो अभी तक कोई वैक्सीन उपलब्ध हो पाई है और न ही इसका कोई निश्चित इलाज उपलब्ध है.
ऐसे में इस संक्रमण को फैलाव से रोकने के लिए लॉक डाउन की स्थिति देश में बनी है. लेकिन धीरे-धीरे लॉक डाउन में छूट दी जा रही है.
ऐसे में डब्ल्यूएचओ ने देश को सचेत करते हुए कहा है कि भारत ने कई राज्यों को काफी छूट दे रखी है. जिसका नतीजा हो रहा है कि कोरोनावायरस संक्रमण काफी तेजी से फैल रहा है.
डब्ल्यूएचओ ने साफ-साफ कह दिया है कि अगर कोरोनावायरस से देश को बचाना है तो अधिक से अधिक सावधानियों को बरतना होगा. क्योंकि बिना सावधानी के कोरोना का संक्रमण काफी तेजी से फैलेगा.
उन्होंने कहा है कि लॉकडाउन में ज्यादा छूट देना कोरोना को दावत देने जैसा होगा.
इसलिए सरकार को इन सभी बातों को इग्नोर नहीं करना चाहिए वरना स्थिति काफी गंभीर भी हो सकती है.
अगर बिहार राज्य की बात की जाए तो कोरोना को लेकर बहुत ही ज्यादा सेंसिटिव हो गया है. प्रतिदिन बिहार में कोरोना के नए मामले सामने आ रहे हैं. जिससे बिहार की सरकार और जनता सब ही बहुत ही ज्यादा परेशान हैं.
बिहार में प्रवासियों के आने से और तेजी से कोरोना का संक्रमण फ़ैल रहा है.इसलिए प्रवासियों को खुद से सचेत रहने की जरुरत है.अगर वे खुद सचेत रहते हैं और लॉक डाउन के नियमों का पालन करते है तो उनका परिवार ही सुरक्षित नही रहता है बल्कि पूरा देश कोरोना संक्रमण से सुरक्षित रह सकता है.

Post a Comment

0 Comments