महिलाओं के शरीर में कैल्शियम की कमी से हो सकती है यह गंभीर बीमारी, करें इन चीजों का सेवन

कल्याण आयुर्वेद- हमारे शरीर में सही मात्रा में सभी तरह के विटामिन का होना हमें स्वस्थ रखता है. लेकिन जब कोई भी विटामिन की कमी होने लगती है तो शरीर में बीमारियां उत्पन्न होने लगता है. ऐसे में आज हम इस पोस्ट के माध्यम से महिलाओं के शरीर में कैल्शियम की कमी होने पर होने वाली बीमारियों के बारे में बताने की कोशिश करेंगे.
महिलाओं के शरीर में कैल्शियम की कमी से हो सकती है यह गंभीर बीमारी, करें इन चीजों का सेवन
महिलाओं में मेनोपॉज एक ऐसी मेडिकल कंडीशन होती है. जिसमें महिलाओं को मासिक धर्म आना बंद हो जाता है. इस दौरान महिलाओं के शरीर की हड्डियां कमजोर होना शुरू हो जाती है और उन्हें पर्याप्त मात्रा में कैल्शियम की आवश्यकता पड़ती है. इसलिए ऐसी मेडिकल कंडीशन से जूझ रही महिलाओं में जब यह स्थिति उत्पन्न हो तो उन्हें अपने खाने-पीने पर विशेष ध्यान रखनी चाहिए.
खाने में ऐसे खाद्य पदार्थों को शामिल कर सकती है जो कैल्शियम से भरपूर हो ताकि उनके शरीर की हड्डियां कमजोर ना होने पाए. ऑस्टियोपोरोसिस हड्डियों से जुड़ी एक खास तरह की बीमारी होती है. यह महिला और पुरुष को एक समान रूप से प्रभावित करती है. जिन लोगों के द्वारा कैल्शियम पोषक तत्वों की पूर्ति शरीर में इस तरह से नहीं होती है उन्हें लंबे समय के बाद यह समस्या हो जाती है. इस मेडिकल कंडीशन में मानव शरीर की हड्डियां बहुत पतली और कमजोर हो जाती है और वह आंतरिक रूप से एक-दूसरे से जुड़ी हुई नहीं रहती है. जिस कारण हड्डियों के टूटने का खतरा बना रहता है.
कैल्शियम की कमी दूर करने के लिए करें इन चीजों का सेवन-
महिलाओं के शरीर में कैल्शियम की कमी से हो सकती है यह गंभीर बीमारी, करें इन चीजों का सेवन
1 .गहरे हरे रंग का पत्तेदार साग-
पालक, केला, सलिप, रोमन सलाद, अजवाइन, ब्रोकली, गोभी और शतावरी जैसे पत्तेदार हरी सब्जियों में कैल्शियम अधिक मात्रा में मौजूद होता है. कैल्शियम के स्तर में बढ़ोतरी करने के लिए आप इन सब्जियों को सलाद में खा सकते हैं और इसे अपने भोजन में शामिल कर सकते हैं.
2 .कम वसा वाला दूध और दही-
दूध कैल्शियम के सबसे अच्छे स्रोत माने जाते हैं. कम वसा वाले दूध की एक कप में 306mg या कैल्शियम का 31% डीवी होता है. कम वसा वाला दही एक और डेयरी उत्पाद है जो दूध की जगह एक अच्छा विकल्प हो सकता है. सादा दही में 10 से 14 ग्राम प्रोटीन भी होता है जो दैनिक प्रोटीन आवश्यकता के 20% के बराबर होता है. आप पौष्टिक भोजन के स्वाद को बेहतर बनाने के लिए सलाद, सूप और मीठे में दही का उपयोग कर सकते हैं.
3 .बादाम-
बादाम कैल्शियम का सबसे बेहतर स्रोत होता है. जिसमें 100 ग्राम बादाम 378 मिलीग्राम या कैल्शियम के 38% डीवी प्रदान करते हैं. एक औंस में 161 कैलोरी होती है तो कैल्शियम के साथ-साथ ह्रदय स्वस्थ, मोनो असंतृप्त वसा और मैग्नीशियम को बढ़ावा देने के लिए इन कुरकुरे के सेवन में बढ़ोतरी करें.
4 .संतरा-
कैल्शियम से समृद्ध होने के अलावा यह खट्टे फल विटामिन डी से भी समृद्ध होते हैं जो शरीर में कैल्शियम के अवशोषण के लिए आवश्यक होता है. एक मध्यम संतरे में 65 मिलीग्राम कैल्शियम होता है जो इस खनिज की लगभग 6% डीवी के बराबर होता है. यह विटामिन सी से समृद्ध होता है जो एक शक्तिशाली ऑक्सीडेंट है.

Post a Comment

0 Comments