भारत में जल्द तैयार होने वाली है कोरोनावायरस की दवा, क्लिनिकल ट्रायल का तीसरा चरण शुरू

फिलहाल कोरोनावायरस पूरी दुनिया में हड़कंप मचा कर रखा है क्योंकि पूरी दुनिया में इस वायरस के संक्रमण से लाखों लोगों की मौत हो चुकी है तो वहीं लाखों की संख्या में लोग इसके संक्रमण से जूझ रहे हैं. क्योंकि इससे बचने के लिए ना तो अभी तक कोई वैक्सीन उपलब्ध है और ना ही कोई सटीक दवा.
ऐसे में कोरोनावायरस का संक्रमण दिनों दिन बढ़ते ही चला जा रहा है. इससे बचाव के लिए डॉक्टर्स और वैज्ञानिक दिन-रात रिसर्च में लगे हुए हैं. इसी बीच अच्छी खबर यह है कि भारत में भी कोरोनावायरस से बचने के लिए एक दवाई तैयार हो रही है और इसका क्लीनिकल ट्रायल तीसरे चरण में पहुंच गया है.
बता दें कि पिछले महीने भारत में दवा बनाने वाली कंपनी ग्लेनमार्क फार्मास्युटिकल्स ने ऐलान किया था कि वह कोरोनावायरस के मरीजों के लिए दवाई का निर्माण कर रही है. अब कंपनी ने कहा है कि उसने क्लिनिकल ट्रायल का तीसरा चरण शुरू कर दिया है. कोरोना से संक्रमित मरीजों पर टेबलेट फेवीपीरावीर का परीक्षण किया जा रहा है. कंपनी को पिछले महीने दवा महानियंत्रक से इसे बनाने के लिए मंजूरी मिली थी.
आपको बता दें कि भारत में इस दवा का क्लिनिकल ट्रायल करीब 10 बड़े सरकारी हॉस्पिटलों में किया जा रहा है. कंपनी के अनुसार जुलाई या अगस्त तक इसका ट्रायल पूरा हो जाएगा. ग्लेनमार्क की वाइस प्रेसिडेंट मोनिका टंडन का कहना है कि हर कोई इसके नतीजे जानने के लिए बेहद ही उत्सुक है. कंपनी का यह भी कहना है कि अगर ट्रायल सफल रहा तो इस दवा की सप्लाई बिना किसी देर किए पूरे देश में कर दी जाएगी.
स्रोत- उपउकलाइव.

Post a Comment

0 Comments