कमजोर इम्युनिटी वालों को ज्यादा प्रभावित करता है कोरोना संक्रमण, जानें मजबूत करने के उपाय

कल्याण आयुर्वेद- चीन के वुहान शहर से शुरू हुए कोरोनावायरस आज पूरी दुनिया में हड़कंप मचाकर रखा है. जिसका ना तो कोई वैक्सीन उपलब्ध है और ना ही कोई सटीक इलाज. ऐसे में कोरोना संक्रमण से बचने का एक ही उपाय है सोशल डिस्टेंसिंग. जिसके लिए लॉक डाउन लगा दिया गया है. हालांकि इसके बावजूद भी दिनोंदिन व्यक्ति कोरोना वायरस से संक्रमित हो रहे हैं. हालांकि वायरस व उससे जुड़ी बीमारी को रोकना हमारे हाथों में नहीं है. लेकिन ऐसी बीमारियों के सामने डटकर मुकाबला करना हमारे हाथ में होने की संभावना है और इस बीमारी से तब हम लड़ सकते हैं जब हमारा रोग प्रतिरोधक क्षमता यानी इम्यूनिटी सिस्टम मजबूत रहेगा. यह हमारे शरीर का रक्षा कवच है जो हमें कई बीमारियों से रक्षा करता है.
कमजोर इम्युनिटी वालों को ज्यादा प्रभावित करता है कोरोना संक्रमण, जानें मजबूत करने के उपाय
क्या है इम्यून सिस्टम?
आपको बता दें कि इम्यून सिस्टम हमारे शरीर का वह रक्षा कवच है जो वायरस, बैक्टीरिया, फंगी, एलर्जी समेत उन तमाम रोगाणु के सामने डट कर खड़ा रहता है जो बीमारियों का कारण बनते हैं. यह सिस्टम कोई एक कोशिका नहीं है बल्कि कई कोशिकाओं के समूह के साथ शरीर का बाहरी डिफेंस सिस्टम है.
कमजोर इम्युनिटी वालों को ज्यादा प्रभावित करता है कोरोना संक्रमण, जानें मजबूत करने के उपाय
इसे प्रमुख रूप से दो भागों में बांटा जा सकता है पहला इनेट यानी जन्मजात इम्यून क्षमता त्वचा, नाक में उपस्थित स्नोट लार पहला रक्षा कवच होते हैं. दूसरा एडाप्टिव इम्यून सिस्टम यानी अनुकूल प्रतिरक्षा प्रणाली जो हम लाइफस्टाइल से प्राप्त करते हैं.
जब हम संक्रमण के शिकार होते हैं या किसी रोगजनक के संपर्क में आते हैं तो हमारा शरीर उसके विरूद्ध लड़ने के लिए तैयार होता है. कई बार रोगाणु रक्षात्मक प्रणाली को तोड़कर शरीर के अंदर प्रवेश कर जाते हैं. तब इनका मुकाबला हमारी व्हाइट ब्लड सेल्स से होता है.
लेकिन कई मामलों में इम्यून सिस्टम कुछ ब्लाइंड स्पोर्ट्स छोड़ देता है. कुछ बग्स को यह नहीं पकड़ पाता है. यही ब्लाइंड एस्पोर्ट्स नई-नई बीमारियों का कारण बनते हैं. इसका मतलब यह है कि मजबूत इम्यून सिस्टम के साथ इससे लड़ा जा सकता है.
कैसे बढ़ाएं अपनी इम्यूनिटी ? 
1 .शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता यानी इम्यूनिटी सिस्टम बढ़ाने में खाद पदार्थ अहम भूमिका निभाते हैं. ताजे फल और सब्जियों में भरपूर मात्रा में एंटी ऑक्सीडेंट मौजूद होते हैं. यह विभिन्न रोगों से शरीर को बचाते हैं. शोधकर्ताओं का मानना है कि आहार, व्यायाम, उम्र, मानसिक तनाव और अन्य कारणों का भी प्रतिरोधक क्षमता पर असर होता है. इसके अलावा सामान्य स्वस्थ जीवन शैली प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने का एक अच्छा तरीका है.
कमजोर इम्युनिटी वालों को ज्यादा प्रभावित करता है कोरोना संक्रमण, जानें मजबूत करने के उपाय
2 .इम्यूनिटी को बढ़ाने के लिए सबसे पहले आप स्वस्थ जीवन शैली को चुने. इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए कोई सामान्य स्वास्थ्य संबंधी दिशानिर्देशों का पालन करना जरूरी है. प्रतिरोधक क्षमता के साथ-साथ आपके शरीर के हर हिस्से भी इन सुझावों की मदद से बेहद तरीके से कार्य करना शुरू कर देंगे.
* धूम्रपान न करें.
* पोषित सब्जियां, फल, साबुत अनाज और कम संतृप्त वसा वाला आहार खाएं.
* प्रतिदिन व्यायाम करें.
* अपने वजन को नियंत्रित रखें.
* अपने ब्लड प्रेशर को सामान्य रखें.
* यदि आप शराब पीते हैं तो उसका सेवन कम से कम करें.
* नींद भरपूर लें.
* खाना खाने से पहले अपने हाथ अच्छी तरह से धोएं.
* खाना बनाने से पहले सब्जियों को अच्छी तरह से धो लें. जिससे कि आपको किसी तरह का संक्रमण ना हो.
* नियमित रूप से अपनी चिकित्सकीय जांच जरूर करवाएं.
इम्यून सिस्टम को मजबूत करने के लिए आहार में शामिल करें यह चीजें-
1 .हल्दी-
कमजोर इम्युनिटी वालों को ज्यादा प्रभावित करता है कोरोना संक्रमण, जानें मजबूत करने के उपाय
हल्दी एंटीऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर होता है. इसलिए यह एक इम्यूनिटी सिस्टम बूस्टर कहलाती है. साथ ही हल्दी खून को शुद्ध करने और शरीर के रंग और रूप को सुधारने का काम भी करती है. हल्दी में मौजूद गुणों की वजह से शरीर को कैंसर से लेकर अल्जाइमर तक की गंभीर बीमारियों से बचाने में मददगार होती है. इसके अलावा हल्दी में करक्यूमिन नामक तत्व शरीर के रक्त में शुगर के स्तर को नियंत्रित करता है. जिससे ग्लूकोज का मेटाबोलिज सही रह सके और व्यक्ति मधुमेह, संक्रमण जैसी बीमारियों से दूर रह सके.
2 .दालचीनी-
कमजोर इम्युनिटी वालों को ज्यादा प्रभावित करता है कोरोना संक्रमण, जानें मजबूत करने के उपाय
दालचीनी में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट खून को जमने से रोकने और हानिकारक बैक्टीरिया को बढ़ने से रोकने में मदद करते हैं. साथ ही दालचीनी शरीर के ब्लड शुगर और कोलेस्ट्रोल को भी नियंत्रित करती है. इसके नियमित सेवन करने से संक्रमण से बचाव करने में मदद मिलती है. इसलिए अपने आहार में दालचीनी को जरूर शामिल करें.
3 .मसाले-
काली मिर्च, मेथी दाना, हल्दी, अदरक, दालचीनी, इलायची, लौंग, ऑरेगैनो इनमें एंटीऑक्सीडेंट मौजूद होते हैं. इसके सेवन से शरीर में रोगों से लड़ने की क्षमता बढ़ती है. आप इनको चाय, खाना , चटनी, सलाद के ऊपर डाल कर नियमित सेवन कर अपनी इम्यूनिटी पावर को बढ़ा सकते हैं.
4 .ग्रीन टी-
कमजोर इम्युनिटी वालों को ज्यादा प्रभावित करता है कोरोना संक्रमण, जानें मजबूत करने के उपाय
ग्रीन टी एंटीऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर होती है. इसलिए इसका प्रयोग शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने वजन और मोटापे को कम करने के लिए किया जाता है. इसमें पॉलीफेनॉल उपस्थित होता है जो शरीर को रोगों से लड़ने के लिए मजबूत बनाता है. साथ ही इन्फ्लेमेशन को भी कम करता है. इसके साथ ही यह पाचन क्रिया एवं मस्तिष्क को भी ठीक से कार्य करने में मदद करता है.
5 .अलसी-
कमजोर इम्युनिटी वालों को ज्यादा प्रभावित करता है कोरोना संक्रमण, जानें मजबूत करने के उपाय
अलसी हमारे शरीर के लिए बेहतर इम्यूनिटी बूस्टर है. शरीर को स्वस्थ बनाए रखने के लिए इसमें बहुत से गुण मौजूद होते हैं. अलसी का नियमित सेवन करने से शरीर को कई प्रकार के रोगों से छुटकारा मिलती है. अलसी में अल्फा लिनोलेनिक एसिड, ओमेगा-3 और फैटी एसिड होता है जो कि हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत बनाने में मदद करता है.
6 .लहसुन-
कमजोर इम्युनिटी वालों को ज्यादा प्रभावित करता है कोरोना संक्रमण, जानें मजबूत करने के उपाय
लहसुन हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने वाले खाद्य पदार्थों में से एक माना जाता है. लहसुन एंटी ऑक्सीडेंट से भरपूर तत्व है जो हमारे शरीर को कई प्रकार की बीमारियों से लड़ने की शक्ति देता है. इसके अलावा लहसुन में एलिसिन नामक एक तत्व होता है जो कि शरीर को होने वाले कई प्रकार के संक्रमण और बैक्टीरिया से लड़ने की शक्ति देता है. लहसुन का इस्तेमाल करने से अल्सर और कैंसर जैसे रोगों से भी बचाव होता है.

Post a Comment

0 Comments