महिला हों या पुरुष इन 11 लक्षणों को न करें नजरअंदाज, हो सकता है किडनी खराब होने के संकेत

कल्याण आयुर्वेद- हमारे शरीर में जब कोई भी अंग खराब होने लगता है कुछ ना कुछ लक्षण जरूर दिखाई देते हैं. लेकिन कई बार हम सामान्य समझकर इन लक्षणों को नजरअंदाज कर देते हैं. लेकिन बाद में हमारे लिए काफी खतरनाक साबित होता है. आज हम आपको किडनी से जुड़ी कुछ लक्षणों के बारे में बताने जा रहे हैं जिसे आप को नजरअंदाज नहीं करना चाहिए.
महिला हों या पुरुष इन 11 लक्षणों को न करें नजरअंदाज, हो सकता है किडनी खराब होने के संकेत
चलिए जानते हैं विस्तार से-
हमारे शरीर के लीगल सिस्टम में मौजूद राजमा के आकार के 2 अंगों को किडनी कहा जाता है. इनके एक मानव शरीर में कई महत्वपूर्ण काम होते हैं. किडनी का काम खून को दोबारा दिल को भेजने से पहले फिल्टर कर मूत्र के रूप में अपशिष्ट उत्पादों और अतिरिक्त तरल पदार्थों को बाहर निकालना है ताकि शरीर में साल्ट्स, पोटैशियम और एसिड कंटेंट पर नियंत्रित रखा जा सके.
खून को साफ करने का काम करने वाली किडनी आमतौर पर हमारी लापरवाही का शिकार हो जाती है और हम बीमारियों से घिर जाते हैं.
आपको बता दें कि हमारी किडनियां शरीर के बीचो-बीच कमर के पास होती है, यह मुठी के बराबर होता है. हमारे शरीर में दो किडनियां होती है. अगर एक किडनी पूरी तरह से खराब हो जाए तो भी शरीर सही चलता रहता है. हृदय के द्वारा पंप किए गए रक्त का 20% किडनी में जाता है जहां यह साफ होकर वापस शरीर में चला जाता है. इस तरह से किडनी हमारे रक्त को साफ कर देती है और सारे टॉक्सिंस को पेशाब के रूप में शरीर से बाहर निकाल देती है.
खराब जीवनशैली और कभी-कभी दवाइयों के कारण किडनी पर बुरा असर पड़ता है. किडनी की बीमारी के बारे में सबसे बुरी बात यह है कि इसका पता पहली स्टेज के दौरान नहीं चल पाता है.
तो चलिए जानते हैं 11 लक्षण जो किडनी खराब होने के संकेत देते हैं-
1 .किडनी की बीमारी के प्रथम अवस्था में यूरिन की मात्रा और होने के समय में बदलाव आने लगे, आपको यूरिन कम आने लगे तो इसका सीधा संबंध आपकी किडनी की कार्य क्षमता से हो सकती है.
2 .यदि आपके शरीर का वजन अचानक बढ़ने लगे शरीर में सूजन रहने लगे तो आप को सावधान हो जाना चाहिए यह किडनी खराब होने का संकेत हो सकता है.
यदि आपके शरीर में हीमोग्लोबिन कम बनने लगे जिस वजह से आप उनके कमी के शिकार हो गए हो तब इसका संबंध आपकी किडनी खराब होने से हो सकता है
3 .यूरिन का रंग गाढ़ा हो जाना या रंग में बदलाव होना भी किडनी खराब होने का संकेत है.
4 .बार-बार पेशाब आने का एहसास होना, लेकिन पेशाब करने पर नहीं होना खराब किडनी की तरफ इशारा करता है.
5 .पेशाब करते समय दर्द महसूस होना, याद दबाव जैसा अनुभव होने लगे तब समझ ले कि मूत्रमार्ग यानि यूरिनरी ट्रैक्ट में कोई इंफेक्शन हुआ है.
6 .कभी-कभी ऐसे अवस्था में बुखार या मूत्र मार्ग में जलन जैसा अनुभव होने लगता है, कभी-कभी पीठ का दर्द भी दूसरे लक्षणों में शामिल होता है.
7 .यदि गर्मी के मौसम में भी ठंड का एहसास हो तो किडनी खराब होने के संकेत हो सकते हैं क्योंकि अगर किडनी ठीक से काम नहीं कर रही होती है तो व्यक्ति को गर्मी के मौसम में भी ठंड लग सकती है. शरीर हमेशा ठंडा रह सकता है. नींद ज्यादा आ सकती है और प्यास भी अधिक लग सकती है.
8 .किडनी खराब होने के कारण शरीर से अतिरिक्त पानी और नमक नहीं निकल पाता है. जिसकी वजह से पांव, टखने, हाथ और चेहरे में सूजन आ जाती है. इस अवस्था को ईडीमा कहते हैं.
9 .जल्दी थक जाना और कमजोरी आना भी किडनी खराब होने के संकेत हो सकते हैं. किडनी से एथ्रोप्रोटीन नाम का प्रोटीन निकलता है जो लाल रक्त कोशिकाओं को ऑक्सीजन लाने में मदद करता है.
10 .त्वचा में रैशेज और खुजली होना भी किडनी खराब होने के संकेत हो सकते हैं. हालांकि यह लक्षण कई तरह की बीमारियों के लक्षण होते हैं. लेकिन किडनी के खराब होने पर शरीर में विषाक्त पदार्थों के जम जाने के कारण शरीर की त्वचा के ऊपर रैशेज और खुजली होने लगती है.
इन उपर्युक्त लक्षणों को देखने के बाद आपको किडनी खराब होने का संदेह करना चाहिए और आपको डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए.
यह जानकारी अच्छी लगे तो लाइक, शेयर जरूर करें. साथ ही स्वास्थ्य से जुड़ी जानकारियां रोजाना पाने के लिए इस चैनल को अवश्य फॉलो कर लें. धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments