दुबले-पतले लोगों को मोटे- ताजे बना सकता है आलू, जानें सेवन करने का तरीका

कल्याण आयुर्वेद- आलू एक ऐसी सब्जी है जिसके बिना भोजन अधूरा माना जाता है. सबसे ज्यादा आलू की सब्जी ही खाई जाती है.
दुबले-पतले लोगों को मोटे- ताजे बना सकता है आलू, जानें सेवन करने का तरीका
लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि यदि आप दुबले- पतले हैं तो आपको यह मोटे- ताजे बनाने में काफी मददगार साबित हो सकता है. आलू दुनिया की सबसे ज्यादा खाने के लिए उगाई जाने वाली सब्जी है. आलू में विटामिन सी, पोटेशियम, विटामिन बी6 प्रचुर मात्रा में मौजूद होते हैं. इसके अलावा आलू में मैग्नीशियम, फास्फोरस, आयरन और जिंक भी मौजूद होता है. आलू से हमें कार्बोहाइड्रेट के रूप में स्टार्च प्राप्त होता है जिसका कुछ हिस्सा फाइबर की तरह काम करता है.
* सबसे पहली बात हम वह बताएंगे जो सभी जानते हैं आलू में कार्बोहाइड्रेट की मात्रा में होता है. अगर आपका शरीर दुबला- पतला है तो आप को मोटा- ताजा बनाने में काफी मददगार साबित होगा.
* बेरी- बेरी का सरलतम सीधा-साधा अर्थ है चल नहीं सकता. इस रोग को जंघागत नाड़ियों में कमजोरी का लक्षण विशेष रूप से होता है. आलू पीसकर या दबाकर रस निकाल लें एक चम्मच की मात्रा में प्रतिदिन 4-5 कच्चे आलू को चबाकर रस निकालने से भी यह लाभ प्राप्त किया जा सकता है.
* कच्चे आलू को साफ व स्वच्छ पत्थर पर घिसकर सुबह-शाम आंख में काजल की भांति लगाने से 5 से 6 वर्ष पुराना जाला और 4 वर्ष तक का पूरा 3 महीने में ठीक हो जाता है.
* आलू में मैग्नीशियम होता है जो हमारे रक्तचाप को सामान्य रखता है. इसलिए आलू का सेवन जरूर करना चाहिए.
* आलू का रस दूध पीते बच्चों और बड़ों को पिलाने से भी मोटे- ताजे हो जाते हैं. आलू के रस में मधु मिलाकर भी पिया जा सकता है यह अधिक फायदेमंद साबित होगा.
यह जानकारी अच्छी लगी तो लाइक, शेयर करें और स्वास्थ्य से जुड़ी जानकारियां रोजाना पाने के लिए इस चैनल को अवश्य फॉलो कर लें. धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments