गर्मी ही नहीं, ये भी हैं नकसीर के कारण, आप भी जान लें

दोस्तों, बहुत से लोग हैं जिन्हें नकसीर की समस्या है. यानी की नाक से खून आने की समस्या. अधिकतर लोगों की यह समस्या गर्मी के कारण होती है. लेकिन कई लोग हैं, जो इसे आम बात समझ कर इग्नोर कर देते हैं. परंतु यह बीमारी भी हो सकती है. आज हम आपको नकसीर के कुछ ऐसे कारण बताएंगे, जो शायद आप नहीं जानते होंगे.
गर्मी ही नहीं, ये भी हैं नकसीर के कारण, आप भी जान लें 
तो आइए जानते हैं विस्तार से -
दोस्तों, गर्मियों मे सुखी हवाओं के कारण नाक के अंदर रूखापन आ जाता है और इससे नकसीर की समस्या बढ़ जाती है. कई लोगों को यह समस्या बार-बार होती है. इसलिए उन्हें इलाज भी करवाना पड़ता है. नकसीर दो प्रकार के होते हैं.
एंटीरियर नोज ब्लीड - इसमें नाक की अंदर वाली परत या नहीं खून की नलिया फट जाती है. लेकिन यह आम बात होती है. यह जल्द ही ठीक हो जाती है. इसमें इलाज करवाने की जरूरत नहीं पड़ती.
पोस्टीरियर नोज ब्लीड - यह गंभीर बीमारी ट्यूमर या दूसरे कारणों की वजह से होता है. इसमें खून बहुत मुश्किल से रुकता है. खून मुंह से सांस नली में जाकर रुकावट पैदा करने लगती है.
खैर, बता दें कि कई बार नाक की हड्डी टेढ़ी होने के कारण भी नकसीर की समस्या हो जाती है.
गर्मी ही नहीं, ये भी हैं नकसीर के कारण, आप भी जान लें 
ब्लीडिंग हो तो यह करें -
आगे की ओर झुक जाए और करीब 5 मिनट तक अपने नाक को हाथ से दबाए रखें. ध्यान रखें कि नाक से बाहर आ चुका खून वापस नाक में ना जा सके. इसलिए अपने सिर को ऊंचा रखें. जिन्हें यह समस्या होती है उन्हें दिन में कम से कम 3 बार बर्फ से सेकना चाहिए.
गर्मी ही नहीं, ये भी हैं नकसीर के कारण, आप भी जान लें 

Post a Comment

0 Comments