ये है थायराइड की 10 शुरुआती लक्षण, न करें नजरअंदाज

कल्याण आयुर्वेद- थायराइड के मरीजों की संख्या दिन प्रतिदिन बढ़ती ही रही है. थायराइड एक गंभीर बीमारी है. जो धीरे-धीरे अपना असर दिखाती है. यह बीमारी पुरुषों के मुकाबले महिलाओं में अधिक देखी जाती है.
ये है थायराइड की 10 शुरुआती लक्षण, न करें नजरअंदाज
स्टडी की मानें तो पुरुषों के मुकाबले महिलाओं को थायराइड होने की आशंका 9 गुना अधिक होती है. थायराइड ग्रंथि गले में सांस नली के ऊपर वोकल कार्ड के दोनों ओर दो भागों में होती है, जिसका आकार तितली की तरह होता है. थायराइड बीमारी के कारण कई बार ग्रंथियां ज्यादा हार्मोन्स रिलीज करने लगते हैं और कई बार जरूरत से कम हार्मोन्स रिलीज करती है. इसे हायपर थायराइड कहते हैं. इस वजह से स्वास्थ्य समस्याएं होने लगती है.
ये है थायराइड की 10 शुरुआती लक्षण, न करें नजरअंदाज
थायराइड एक ऐसी बीमारी है जो किसी को एक बार हो जाती है तो पूरी जिंदगी उसका साथ नहीं छोड़ता है लेकिन अगर सही समय पर इस बीमारी का पता चल जाए तो इसका इलाज किया जा सकता है और दूसरी बीमारी से ग्रसित होने से बचा जा सकता है, इसलिए शुरुआत में ही इसके लक्षणों को पहचान लेना सही रहता है.
तो चलिए जानते हैं थायराइड के 10 शुरुआती लक्षण-
1 .कमजोरी और थकान होना थायराइड का प्रमुख लक्षण है. मेटाबोलिज्म पर थायरोक्सिन के प्रभाव से जब खाना पूरी तरह से एनर्जी में नहीं बदल पाता है तो शरीर को भरपूर मात्रा में ऊर्जा नहीं मिल पाती है. जिसके कारण थकान और कमजोरी महसूस होती है.
2 .थायराइड की बीमारी होने पर नींद बहुत कम लगती है. नींद कम होने की वजह से सुस्ती लगी रहती है, देर रात तक नींद उड़ी रहती है, जिससे सिर दर्द का एहसास होता रहता है,
3 .थायराइड के मरीजों को थोड़ी- थोड़ी देर बाद भूख लगती रहती है. खाना खाने के कुछ देर बाद ही खाने की इच्छा होने लगती है.
4 .व्यक्ति को खाने की इच्छा तो होती है और खता भी है, लेकिन इससे उसकी सेहत नहीं बन पाती है. खाना शरीर को नहीं लगता है. जिस वजह से उसका वजन बढ़ नहीं पाता है.
5 .थायराइड की बीमारी के कारण आपको डिप्रेशन की भी समस्या हो सकती है. अगर थायराइड ग्रंथि कम मात्रा में थायरोक्सिन उत्पन्न करती है तो इससे डिप्रेशन यानी अवसाद वाले हार्मोन एक्टिव हो जाते हैं. डिप्रेशन की वजह से आपको रात में सोने में भी परेशानी होने लगती है.
6 .थायराइड की समस्या होने पर महिलाओं में मासिक धर्म में गड़बड़ी होना शुरू हो जाती है और समय पर मासिक धर्म नहीं हो पाता है या कुछ दिनों के लिए बंद हो जाती है, कई बार इस वजह से मासिक धर्म का इंटरवल भी बढ़ जाता है और 28 दिन की बजाए मासिक धर्म अधिक दिनों पर होता है.
7 .थायराइड की समस्या में मौसम का प्रभाव है, शरीर पर ज्यादा दिखाई देने लगता है, अगर आपको हाइपोथायरायडिज्म है तो आपको ज्यादा ठंड और गर्मी दोनों ही बर्दाश्त नहीं होगी.
8 .अगर आपको हायपर थायराइडिज्म में हो गया है तो यह कोई गंभीर परिणाम ला सकता है. इसके कारण दिल की धड़कन भी प्रभावित होती है और इसकी वजह से धड़कन अनियमित भी हो सकती है. धड़कन की इसी अनियमितता के कारण कई बार सीने में तेज दर्द की समस्या भी हो सकती है.
ये है थायराइड की 10 शुरुआती लक्षण, न करें नजरअंदाज
9 .थायराइड होने पर पेट की गड़बड़ियां जैसे कब्ज आदि की समस्या होने शुरू हो जाती हैं. इसके कारण खाना पचाने में दिक्कत होती है. साथ ही इस रोग में खाना आसानी से गले से नीचे नहीं उतरता है.
10 .थायराइड याददाश्त शक्ति को भी प्रभावित करता है. यह स्मरण शक्ति और सोचने समझने की क्षमता को भी प्रभावित करता है. इस कारण से आपकी याददाश्त शक्ति कमजोर हो सकती है. इसके अलावा थायराइड की बीमारी व्यक्ति को चिड़चिड़ा बना देता है.
नोट- यदि इनमें से कोई लक्षण दिखाई दे तो आपको नजरअंदाज नहीं करना चाहिए, बल्कि डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए.
यह जानकारी अच्छी लगे तो लाइक, शेयर करें. धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments