यूरिन में जलन हो तो खाएं रसगुल्ला, फायदे जानकर चौंक जाएंगे

कल्याण आयुर्वेद- मिठाइयों का नाम लिया जाए तो रसगुल्ला का नाम सबसे पहले आता है क्योंकि आमतौर पर हर किसी को रसगुल्ला खाना पसंद होता है. लेकिन सेहत को लेकर सजग रहने वाले ज्यादातर लोग रसगुल्ले से दूर रहते हैं. रसगुल्ला पसंदीदा मिठाई होने के साथ-साथ प्रोटीन का बेहतरीन सोर्स भी है. इसलिए अगर आप मिठाई खाना पसंद करते हैं तो रसगुल्ला सबसे बढ़िया विकल्प हो सकता है. जौंडिस को कम करने में रसगुल्ला काफी मदद करता है.
यूरिन में जलन हो तो खाएं रसगुल्ला, फायदे जानकर चौंक जाएंगे
तो चलिए जानते हैं रसगुल्ला खाने के फायदे-
आपको बता दें कि रसगुल्ला कम कैलोरी वाली मिठाइयों में शामिल है. 100 ग्राम रसगुल्ले में 153 कैलोरी कार्बोहाइड्रेट, 17 कैलोरी फैट और 16 कैलोरी प्रोटीन होता है. रसगुल्ला एनर्जी से भरपूर होता है. इसके अतिरिक्त रसगुल्ले में भरपूर लेक्टो एसिड और केसिन पाया जाता है जो सेहत के लिए काफी लाभदायक होता है.
आंखों की जलन और पीलापन को करता है दूर-
आंखों में जलन या दर्द होने पर भी रसगुल्ला का सेवन करना फायदेमंद होता है. इसके सेवन से आंखों में जलन की समस्या दूर हो जाती है और जिन लोगों की आंखें हमेशा पीली रहती है और जलन की समस्या बनी रहती है उनके लिए रसगुल्ला काफी लाभदायक होता है. इसके लिए नियमित रूप से प्रतिदिन एक रसगुल्ले का सेवन करें आंखें अच्छी रहेगी और आंखों का पीलापन भी दूर होगा.
यूरिन में जलन हो तो खाएं रसगुल्ला, फायदे जानकर चौंक जाएंगे
कैल्शियम का है अच्छा स्रोत-
जानकारी के अनुसार रसगुल्ला दूध के छेने से बनता है दूध के छेने में काफी मात्रा में कैल्शियम होता है. इसलिए रसगुल्ले के नियमित सेवन से हड्डियां भी मजबूत होती है. वही बुढ़ापे में हड्डियां घिस जाने या जोड़ों में दर्द होने जैसी समस्या से राहत मिलती है.
यूरिन में जलन को करती है दूर-
जिन लोगों को यूरिन में जलन की समस्या बनी रहती है वह यदि प्रतिदिन रसगुल्ले का सेवन करते हैं तो उनकी यह समस्या जल्द ठीक हो जाएगी. क्योंकि रसगुल्ला ठंडी तासीर का होता है.
मांस पेशियों को बनाए मजबूत-
शरीर की मांसपेशियों को मजबूती देने में प्रोटीन मददगार होता है. ऐसे में प्रोटीन की पूर्ति के लिए रसगुल्ले का सेवन फायदेमंद होता है. इसके अतिरिक्त जो लोग एक्सरसाइज करते हैं उनके लिए भी प्रोटीन आवश्यक होती है यह लोग भी रसगुल्ले का सेवन कर सकते हैं.
यूरिन में जलन हो तो खाएं रसगुल्ला, फायदे जानकर चौंक जाएंगे
इन लोगों को अधिक रसगुल्ले का सेवन करना हो सकता है नुकसान-
* गर्भवती महिलाओं को रसगुल्ले का सेवन करना नुकसान पहुंचा सकता है. यदि गर्भवती महिला दो रसगुल्ले से अधिक प्रतिदिन सेवन करती हैं तो नुकसान हो सकता है क्योंकि इससे उन्हें डायबिटीज की समस्या हो सकती है. रसगुल्ला खाने के बाद महिलाओं को थोड़ा पैदल जरूर चलना चाहिए.
* डायबिटीज के रोगियों को विशेष रूप से रसगुल्ला नहीं खाना चाहिए. क्योंकि इसमें मौजूद भरपुर कार्बोहाइड्रेट शरीर में ग्लूकोज की मात्रा को बढ़ा देता है. जिससे खून में शुगर लेवल अधिक हो जाता है. यदि उन्हें खाने की इच्छा हो तो शुगर फ्री रसगुल्ला खा सकते हैं या रसगुल्ले को निचोड़ कर सिर्फ छेने का सेवन कर सकते हैं वह भी 1-2 से अधिक नहीं.
यह जानकारी अच्छी लगे तो लाइक, शेयर करें. धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments