महिलाओं के प्रजनन तंत्र को मजबूत बनाने और यौन संबंधी विकारों को दूर करने के लिए रामबाण है यह चूर्ण

कल्याण आयुर्वेद- पृथ्वी पर कई ऐसी जड़ी- बूटियां मौजूद है जो हमारे शरीर को स्वस्थ रखने में मददगार होता है. आयुर्वेद में इन जड़ी- बूटियों के द्वारा जटिल बीमारियों को दूर किया जाता है. उन्हीं जड़ी- बूटियों में से एक है शतावरी.
महिलाओं के प्रजनन तंत्र को मजबूत बनाने और यौन संबंधी विकारों को दूर करने के लिए रामबाण है यह चूर्ण
शतावरी कई औषधीय गुणों से भरपूर होने के कारण यह महिला और पुरुषों के यौन विकारों को दूर करने में गुणकारी होता है. शतावरी को महिलाओं के लिए रामबाण औषधि के रूप में आयुर्वेद में देखा जाता है.
इस जड़ी- बूटी को एडेप्टोजेनिक माना जाता है यानी कि यह शरीर की क्षमता को बढ़ाती है. शरीर की प्रणालियों को मजबूत बनाती है और तनाव को कम करती है. शतावरी का चूर्ण गर्भावस्था में सेवन करना काफी लाभदायक माना गया है. इसके सेवन से सामान्य दुर्बलता, कमजोरी और मासिक धर्म से जुड़ी समस्याओं, बांझपन, स्तनपान, गर्भाशय की समस्या, योनि संबंधी विकारों आदि के लिए यह सबसे अच्छा टॉनिक है.
शतावरी के फायदे-
1 .शतावरी के चूर्ण हमें कई प्रकार की शारीरिक समस्याओं और रोगों से लड़ने की शक्ति यानी रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत बनाता है.
2 .यह महिलाओं के प्रजनन अंगों को स्वस्थ रखता है.
3 .शतावरी के सेवन से महिलाओं के स्तन में दूध उत्पादन अच्छा होता है.
4 .पाचन तंत्र और आंतों के लिए शतावरी का सेवन काफी लाभदायक होता है.
5 .शतावरी चूर्ण के सेवन से शरीर में ऊर्जा बढ़ती है और यह शरीर को स्वस्थ बनाए रखने में मदद करता है.
7 .शतावरी का उपयोग आयुर्वेद में पित्त और वात को संतुलित करने के लिए किया जाता है.
8 .सबसे खास बात तो यह है कि शतावरी प्राकृतिक एंटीऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर होता है.
9 .शतावरी चूर्ण का उपयोग महिलाओं के लिए काफी उपयोगी है. महिला स्वास्थ्य स्थितियों, प्रजनन संबंधी विकारों का इलाज और हार्मोनल असंतुलन और पॉलीसिस्टिक अंडाशय सिंड्रोम जैसी स्थितियों में सुधार कर सकता है.
10 .शतावरी चूर्ण के सेवन महिलाओं के प्रजनन तंत्र को मजबूत बनाता है और यौन संबंधी विकारों के दूर करने के लिए यह चूर्ण रामबाण औषधि का काम करती है. यह प्रजनन अंगों के सभी विकारों के उपचार में मदद करता है और यह एस्ट्रोजन उत्पादन को उत्तेजित करता है.
11 .पुरुषों में यह शुक्राणु की संख्या में बढ़ोतरी करता है. इसके सेवन से महिला व पुरुष दोनों में ही सेक्स पावर में बढ़ोतरी होती है.
सेवन विधि-
ऊपर बताए गए शतावरी से लाभों के लिए एक चम्मच शतावरी चूर्ण और एक चम्मच पिसी हुई मिश्री दूध के साथ सुबह- शाम सेवन करना चाहिए.
यह जानकारी अच्छी लगे तो लाइक, शेयर करें. धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments