मर्द और औरत दोनों में ही प्रजनन और यौन क्षमता को मजबूत बनाता है यह सस्ती चीज

कल्याण आयुर्वेद- आजकल की गलत खानपान और असुरक्षित यौन संबंधों के कारण जहां पुरुषों में शुक्राणु की कमी देखी जा रही है. वहीं लड़कियों में गर्भधारण की समस्या आम बात हो गई है और इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए महिला व पुरुष कई उपाय करते हैं. लेकिन फिर भी उन्हें कोई खास लाभ नहीं नजर आता है.
मर्द और औरत दोनों में ही प्रजनन और यौन क्षमता को मजबूत बनाता है यह सस्ती चीज
लेकिन आज हम आपको एक ऐसी सस्ती चीज के बारे में बताने जा रहे हैं. जिसकी मदद से मर्द और औरत दोनों में ही प्रजनन और यौन क्षमता मजबूत होती है.
जी हां, हम जिस सस्ती चीज के बारे में बताने जा रहे हैं वह शतावर है. शतावर पुरुष और महिला दोनों की फर्टिलिटी क्षमता बढ़ाने के साथ ही काम इच्छा में भी बढ़ोतरी करता है. बस फिर क्या गर्भधारण की संभावना बढ़ जाती है.
चलिए जानते हैं कि कैसे महिलाओं में फर्टिलिटी की संभावना को शतावरी बढ़ा देती है?
1 .हार्मोन को करता है संतुलित-
कई महिलाएं प्रजनन क्षमता की उम्र के दौरान पॉलीसिस्टिक ओवेरियन सिंड्रोम की अवस्था से गुजरती हैं. जिसके कारण उन्हें हार्मोन असंतुलन की समस्या होती है. शतावर का सेवन इन लक्षणों को कम करने, हार्मोनल को संतुलित करने और फर्टिलिटी की संभावना को बढ़ाने के लिए अच्छा उपाय माना जाता है.
2 .ओव्यूलेशन में करता है सुधार-
शतावरी में पाए जाने वाले मुख्य घटकों में से एक घटक स्टेरॉइड सपोनिन है. यह घटक एस्ट्रोजन को नियंत्रित करने के लिए जाना जाता है. जिससे मासिक धर्म नियमित होते हैं और गर्भधारण करने की संभावना बढ़ जाती है.
3 .सर्वाइकल म्यूकस के सीक्रेशन को बनाए बेहतर-
सर्वाइकल म्यूकस सीक्रेशन कम होने के कारण भी गर्भधारण करने में परेशानी उत्पन्न होती है. सर्वाइकल म्यूकस गर्भाशय ग्रीवा द्वारा स्रावित होता है और सर्वाइकल म्यूकस और स्पर्म महिलाओं की रीप्रोडक्टिव ट्रैक्ट में जाकर अंडों के साथ मिलते हैं. शतावर म्युसिलेज होता है यह म्युसिलेज मेंब्रेन को सुरक्षित रखने में टॉनिक की तरह कार्य करता है.
4 .डिप्रेशन को करता है कम-
शतावरी का सेवन करने से शरीर में वाइट ब्लड सेल्स का उत्पादन बढ़ता है. जिससे सूजन कम करने, खून से हानिकारक विषाक्त पदार्थों और अपशिष्ट पदार्थों को अवशोषित करने में मदद मिलती है और गर्भधारण करने की संभावना अधिक हो जाती है, गर्भधारण की इच्छा रखने वाली महिलाओं को 1 दिन में शतावरी का सूखा संयंत्र 4.5 मिलीग्राम ही सेवन करना चाहिए.
5 .स्पर्म को बनाता है मजबूत-
पुरुषों में शतावरी का सेवन स्पर्म की गुणवत्ता को मजबूत बनाने के साथ ही नए स्पर्म के निर्माण में मददगार होता है. इसके सेवन से शीघ्रपतन, नपुंसकता, मर्दाना कमजोरी इत्यादि यौन समस्याएं दूर होती है. इसके लिए एक चम्मच शतावरी चूर्ण और एक चम्मच पिसी हुई मिश्री गुनगुने दूध के साथ रात को सोने से पहले पुरुषों को सेवन करना चाहिए.

Post a Comment

0 Comments