मासिक धर्म देर से होने के हो सकते हैं ये 6 कारण, लड़कियां जरूर पढ़ें

कल्याण आयुर्वेद- मासिक धर्म का होना एक प्राकृतिक प्रक्रिया है जो महिलाओं में 12-14 साल की उम्र से शुरू होकर 45 से 50 वर्ष की उम्र तक होता है. इस दौरान महिलाओं को कई तरह की शारीरिक व मानसिक परेशानियों का सामना करना पड़ता है.
मासिक धर्म देर से होने के हो सकते हैं ये 6 कारण, लड़कियां जरूर पढ़ें
लेकिन इसके अलावे महिलाओं व युवतियों को मासिक धर्म देरी से आने की समस्या भी कई बार हो जाती है तो आज हम कुछ ऐसे सामान्य कारणों के बारे में बताने जा रहे हैं जो महिलाओं व युवतियों में मासिक धर्म देर से आने के कारण हो सकते हैं.
चलिए जानते हैं उन पांच कारणों के बारे में-
1 .कम या अधिक उम्र में मासिक धर्म की शुरुआत होना, कई बार अनियमित मासिक धर्म पैदा करता है जो कि सामान्य बात है. अतः यह चिंता की कोई बात नहीं है.
मासिक धर्म देर से होने के हो सकते हैं ये 6 कारण, लड़कियां जरूर पढ़ें
2 .वजन का अधिक बढ़ना या मोटापा भी मासिक धर्म में अनियमितता का प्रमुख कारण है. कई बार यह समस्या थायराइड के कारण भी होती है. इसलिए आपको डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए.
3 .हमारी दिनचर्या और खान-पान में बदलाव के कारण भी कई बार मासिक धर्म में देरी से आने की समस्या उत्पन्न करती है. ऐसे में अपनी जीवनशैली और डाइट को व्यवस्थित कर आप नियमित कर सकते हैं.
4 .मासिक धर्म में देरी होने का एक गंभीर कारण पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम भी हो सकता है. अतः ऊपर बताए गए कारणों के अलावा अगर ऐसा होता है तो इसकी जांच कराएं.
5 .तनाव एवं जरूरत से ज्यादा एक्सरसाइज भी अनियमित मासिक धर्म का कारण हो सकता है, ओवरी यानी अंडाशय पर सिस्ट बन जाने के कारण भी अक्सर ऐसा होता है.
मासिक धर्म देर से होने के हो सकते हैं ये 6 कारण, लड़कियां जरूर पढ़ें
6 .एकाएक जगह बदलना भी अनियमित मासिक धर्म का कारण हो सकता है जैसे गर्म प्रदेश से ठंडे प्रदेश में जाना या ठंडे प्रदेश से गर्म प्रदेश में जाना.
नोट- यह पोस्ट शैक्षिक उद्देश्य से लिखा गया है. यदि एक दो बार अनियमित मासिक धर्म हो जाए तो कोई बात नहीं है लेकिन बार-बार ऐसा हो तो डॉक्टर की सलाह जरूर लें.
यह जानकारी अच्छी लगे तो लाइक, शेयर जरूर करें. धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments