जानिए- डायबिटीज के मरीजों को मूंगफली खाना चाहिए या नहीं?

कल्याण आयुर्वेद- आजकल के खराब जीवनशैली के कारण होने वाली बीमारियों में डायबिटीज जटिल रोगों में से एक है. शरीर में पेंक्रियाज इंसुलिन बनाने का काम करता है, यह हार्मोन खाने में मौजूद ग्लूकोज को सीमित मात्रा में हमारे शरीर को देता है. वही अगर शरीर में इंसुलिन कम मात्रा में बनने लगती है तो इससे डायबिटीज का खतरा अधिक हो जाता है.
जानिए- डायबिटीज के मरीजों को मूंगफली खाना चाहिए या नहीं?
डायबिटीज एक ऐसी बीमारी है जो किसी को एक बार हो जाए तो पूरी जिंदगी उसका साथ नहीं छोड़ता है. इसलिए डायबिटीज से ग्रस्त लोगों को रहन-सहन के साथ खानपान का विशेष ध्यान रखना पड़ता है क्योंकि खानपान का प्रभाव डायबिटीज के मरीजों पर तुरंत असर करता है.
हालांकि रहन-सहन और खान-पान का विशेष ध्यान रखा जाए और नियमित जरूरी दवाइयों का सेवन किया जाए तो ऐसे में ब्लड शुगर लेबल को नियंत्रित रखने में काफी मदद मिलती है.
जानिए- डायबिटीज के मरीजों को मूंगफली खाना चाहिए या नहीं?
आज हम आपको इस पोस्ट के माध्यम से डायबिटीज के मरीजों को मूंगफली खाना चाहिए या नहीं?, के बारे में बताने की कोशिश करेंगे.
डायबिटीज के मरीजों को मूंगफली खाना लाभदायक होता है क्योंकि-
* मूंगफली में प्रचुर मात्रा में फाइबर, प्रोटीन, गुड फैट्स और अल्फालिपॉइक एसिड मौजूद होती हैं, यह सभी तत्व डायबिटीज टाइप- 2 के मरीजों के लिए जरूरी है. ऐसे में डायबिटीज वालों को मूंगफली का सेवन करना फायदेमंद हो सकता है.
* डायबिटीज के मरीजों का पाचन ठीक रहे, इसके लिए फाइबर युक्त खाना भी आवश्यक होता है. आपको बता दें कि फाइबर युक्त खाद्य पदार्थों को डाइट में शामिल करने से शरीर की पाचन प्रक्रिया चुस्त-दुरुस्त रहती है. साथ ही इंटेस्टाइन यानी आंतें भी मजबूत रहती है. डायबिटीज के मरीजों में ब्लड शुगर को नियंत्रण में रखने के लिए फाइबर फूड महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं. एक शोध के अनुसार फाइबर युक्त खाद्य पदार्थ पचाने में आसान और रक्त शर्करा यानी ब्लड शुगर को नियंत्रित करने में मददगार होता है और मूंगफली में फाइबर प्रचुर मात्रा में पाया जाता है. इसलिए डायबिटीज के मरीजों को मूंगफली खाना लाभदायक है.
* डायबिटीज के मरीजों को डॉक्टर्स कम ग्लाइसेमिक इंडेक्स यानी कि GI वाले भोजन खाने की सलाह देते हैं. इससे ब्लड शुगर नियंत्रित करने में मदद मिलती है. बता दें कि मूंगफली का ग्लाइसेमिक इंडेक्स भी कम होता है ऐसे में बार-बार होने वाले फूड क्रेविंग को दूर करने के लिए मूंगफली बेहतर विकल्प हो सकता है.
जानिए- डायबिटीज के मरीजों को मूंगफली खाना चाहिए या नहीं?
मूंगफली का कैसे कर सकते हैं सेवन?
मूंगफली को लोग कई तरह से अपने आहार में शामिल कर सकते हैं. नाश्ते में बनने वाले पोहे से लेकर चटनी, चाट और पीनट बटर का सेवन कर सकते हैं. इसके अलावा मूंगफली के दानों को ड्राई रोस्ट कर उसमें काला नमक और चाट मसाला मिलाकर भी खाना फायदेमंद होगा.
Note- यह पोस्ट शैक्षणक उद्देश्य से लिखा गया है. अधिक जानकारी के लिए आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें.
यह जानकारी अच्छी लगे तो लाइक, शेयर करें. धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments