बिना खर्च तनाव को दूर करने के बेहतर उपाय, परेशान है तो आजमाकर देखें

कल्याण आयुर्वेद- आज के समय में बहुत से लोगों को तनाव प्रभावित कर रहा है. आज हर दूसरा व्यक्ति तनाव से परेशान हैं. काम का बोझ तो तनाव को बढ़ाता ही है, साथ ही खानपान भी तनाव के पीछे जिम्मेदार हो सकता है ऐसा कहना गलत नहीं होगा. अगर आप तनाव से दूर रहना चाहते हैं तो इस उपाय को एक बार जरूर आजमाकर देखें जरूर राहत मिलेगी.
बिना खर्च तनाव को दूर करने के बेहतर उपाय, परेशान है तो आजमाकर देखें
खूब पानी पिएं-
तनाव को दूर करने के लिए आपको सबसे पहले पानी पीने की आदत डालनी चाहिए. व्यक्ति को दिनभर में कम से कम 8 गिलास पानी जरूर पीना चाहिए. ऐसा करने से शरीर में डिहाइड्रेशन की समस्या नहीं होगी. हाल ही में एक शोध में यह भी पाया गया है कि डिहाइड्रेशन व्यक्ति की मेंटल कॉन्सेट्रेशन लेबल को बिगाड़ देता है.
न भूले सुबह का नाश्ता-
सुबह का नाश्ता शरीर के मेटाबॉलिज्म को बनाए रखने का काम करता है. स्वास्थ्य से जुड़े एक शोध में बताया गया है कि जो लोग सुबह का नाश्ता मिस नहीं करते हैं. उनमें न करने वाली की तुलना में डिप्रेशन की संभावना 30% कम होती है.
विटामिन डी-
विटामिन डी शरीर और दिमाग दोनों को पोषण देने का काम करता है. जिसकी वजह से व्यक्ति को डिप्रेशन यानी मानसिक परेशानियों का सामना करना पड़ता है. मनोवैज्ञानिकों ने पाया है कि विटामिन डी जिन लोगों के शरीर में कम होता है. उनमें डिप्रेशन की समस्या ज्यादा पाया जाता है. जबकि इसकी जरूरत भर मात्रा लेने वाले लोगों में डिप्रेशन कम होता है. विटामिन डी का सबसे बेहतर स्रोत सूरज की किरणें हैं. सप्ताह में कम से कम 30 मिनट तक दो बार सूरज के सामने खड़े रहने से आपको इसका लाभ मिल पाएगा.
करें ओमेगा 3 का सेवन-
मूड लिफ्टिंग से परेशान लोगों को अपनी डाइट में ऐसी चीजों को शामिल करना चाहिए जिसमें ओमेगा 3 फैटी एसिड पाया जाता हो. ओमेगा 3 फैटी एसिड अवसाद के इलाज के लिए काफी मददगार होता है. यह न व्यक्ति का अवसाद दूर करता है बल्कि अस्थमा और गठिया को भी ठीक करने में मददगार होता है. मछली, अखरोट, अलसी के बीज, ऑलिव आयल और गाढ़े हरे रंग की पत्तेदार सब्जियों में ओमेगा 3 फैटी एसिड प्रचुर मात्रा में पाया जाता है.
कम कर दें कैफीन का सेवन-
तनाव को लाइफ से दूर करने के लिए आपको कैफीन से दोस्ती तोड़नी होगी. जी हां, कैफिन उन लोगों में पैनिक अटैक की संभावना को बढ़ा देता है जिनको एंग्जायटी डिसऑर्डर है.
यह जानकारी अच्छी लगे तो लाइक, शेयर जरूर करें. धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments