वास्तु शास्त्र- घर के बगीचे में लगा लें इनमें से एक भी पौधा, फिर देखे चमत्कार

वास्तुशास्त्र- घर के आसपास पेड़- पौधे का होना वातावरण को शुद्ध करता है तो वही कई ऐसे फूल होते हैं जो घर की सुंदरता को पढ़ाने के साथ ही वास्तु शास्त्र के हिसाब से शुभ माने जाते हैं, हालांकि कई ऐसे पेड़ पौधे हैं जिस घर के आस-पास गया बाग- बगीचों में लगाना अशुभ माना जाता है. आज हम आपको वैसे पेड़- पौधों के बारे में बताने जा रही हैं जो आपके घर के आसपास, घर में या घर के बगीचे में हो तो शुभ माना जाता है.

वास्तु शास्त्र- घर के बगीचे में लगा लें इनमें से एक भी पौधा, फिर देखे चमत्कार

चलिए जानते हैं विस्तार से-

समय के साथ कई बदलाव देखने को मिले हैं. इनमें एक घर का छोटा होना भी शामिल है. खासतौर पर शहरों में जहां आंगन का अस्तित्व तो लगभग खत्म हो गया है. जहां बड़ों की बैठकी लगती थी, बच्चे खेलते थे और साथ ही हरे भरे पेड़- पौधे आंगन की शोभा बढ़ाते थे, लेकिन इसका सिर्फ महत्व ही नहीं था, बल्कि इनसे घर की सुख समृद्धि व संपन्नता से भी जुड़ी हुई थी. वास्तु शास्त्र के अनुसार से आइए आपको के पौधों के बारे में बताते हैं जो आपके घर के लिए बेहद फायदेमंद हो सकते हैं. हालांकि भले ही घर में आंगन नहीं रहा हो मगर शुक्र मनाइए बालकनी तो है आप बालकनी में भी इन पेड़- पौधों को लगाकर सकारात्मकता प्राप्त कर सकते हैं.

तुलसी का पौधा-

तुलसी का पौधा ज्यादातर हिंदू घरों में आपको मिल जाएगा. हिंदू धर्म में इसे एक तरह से लक्ष्मी का दूसरा रूप माना गया है. सेहत के लिहाज से भी इसमें कई औषधीय गुण मौजूद होते हैं. साथ ही तुलसी के पौधे के बारे में भी यह कहा जाता है कि यह घर में विपत्ति आने से रोकता है और जिनको नहीं रोक पाता है उनके संकेत देता है.

आपको बता दें कि तुलसी का पौधा घर में उत्तर, उत्तर पूर्व या पूर्व दिशा में लगाना चाहिए यह घर से नागेतिव एनर्जी को रखता है वही अपने चारों ओर 50 मीटर तक का वातावरण भी शुद्ध रखता है. लेकिन गलती से भी तुलसी के पौधे को दक्षिण दिशा में नहीं लगाना चाहिए, क्योंकि फिर यह आपको फायदे की जगह नुकसान पहुंचा सकता है.

बांस का पौधा-

वास्तु शास्त्र के अनुसार बांस के पेड़ को लेकर ऐसी मान्यता है कि इसे लगाने से आपकी तरकी होती है और घर में सुख- समृद्धि आती है. वही घर की नेगेटिव एनर्जी भी दूर होती है. बांस के पेड़ के बारे में कहा जाता है कि हर वातावरण में तमाम मुश्किलों के बाद भी तेजी से बढ़ता है. इसलिए इसे उन्नति, दीर्घायु और सुख समृद्धि का प्रतीक माना गया है. वही हिंदू धर्म के अनुसार बांस का घर में होना बेहद शुभ है. भगवान श्री कृष्ण हमेशा अपने पास बांस की बनी बांसुरी रखते थे. सभी शुभ अवसरों जैसे मुंडन, जनेऊ आदि आदि में बांस का जरूर इस्तेमाल किया जाता है. इसे आप घर में कहीं भी लगा कर रख सकते हैं.

केले का पेड़-

केला भी एक दिव्य गुणों से भरा पौधा होता है. यह एक फलदार पौधा होने के साथ ही घर में सुख और शांति का संकेत भी देता है. हिंदू धर्म के अनुसार केले के पौधे में भगवान विष्णु का वास होता है और जिन घरों में होता है उन घरों की यह आर्थिक स्थिति काफी खराब होने नहीं देता है. ईशान कोण की दिशा में इसे लगाना शुभ माना जाता है.

हल्दी का पौधा-

तुलसी की तरह हल्दी वरदान प्राप्त पौधा है यह गुणकारी और चमत्कारी है. यह ऐसी चीज है जिसका हर चीज में इस्तेमाल किया जाता है जैसे कि पूजा, औषधि, आहार, सौंदर्य प्रसाधन.

आंवले का पेड़-

कहा जाता है कि आंवले के पेड़ की पूजा करने से आपकी सभी मनोकामनाएं पूर्ण हो जाती है. इसकी प्रतिदिन पूजा करने से सारे पापों का नाश नहीं होता है. इसे उत्तर या पूर्व दिशा में लगाना बेहद लाभकारी माना गया है.

श्वेतार्क का पौधा-

इस पौधे को गणपति का पौधा माना जाता है और यह दूध वाला पौधा होता है. अब वैसे तो वास्तु के हिसाब से ऐसे पौधे का घर के भीतर होना अशुभ माना जाता है. लेकिन श्वेतार्क इस मामले में अपवाद है. ऐसी भी मान्यता है कि जिसके घर के समीप यह पौधा फलता फूलता है वहां हमेशा बरकत बनी रहती है.

अनार का पेड़-

अनार भी बहुत ही गुणकारी पौधा है अनार खाना सेहत के लिए फायदेमंद तो होता ही है लेकिन वास्तु शास्त्र के अनुसार यह ग्रह दोष को भी दूर करने और व्यक्ति को समृद्धि बनाने वाला होता है. घर में अनार का पेड़ होने से ग्रह दोषों से बचाव हो सकता है.

हरसिंगार का पेड़-

शास्त्रों में हरसिंगार के बारे में बताया गया है कि यह समुद्र मंथन से निकला था. इसके फूल को भगवान के चरणों में चढ़ाने से स्वर्ण दान का पुण्य प्राप्त होता है. इसके घर में होने से सारे देवी- देवताओं की कृपा बनी रहती है. जिससे सुख- समृद्धि बनी रहती है.

शमी का पेड़-

शमी का पेड़ भी घर में होना बहुत शुभ माना गया है. वास्तु शास्त्र में इसका संबंध शनि से जोड़ा गया है और शनि की कृपा पाने के लिए शम्मी का पेड़ लगाकर इसकी पूजा उपासना की जाती है. घर के मुख्य द्वार के बाई और इस पौधे को लगाना शुभ बताया गया है. शमी के पेड़ के नीचे नियमित रूप से सरसों के तेल का दीपक जलाने से शनि के प्रभाव से बचा जा सकता है और आपका स्वास्थ्य बेहतर बना रहेगा.

गुड़हल का पौधा-

गुड़हल का पौधा दिखने में जितना सुंदर होता है. उतना ही लाभकारी होता है, कहा जाता है कि घर में इसे लगाने से कानून संबंधी सभी काम पूरे हो जाते हैं. वही इसको आप कहीं भी रख सकते हैं पूजा भी इसका इस्तेमाल होता है.

नारियल का पेड़-

नारियल का पेड़ को भी बहुत शुभ बताया गया है. कहा जाता है कि जिस घर में नारियल का पेड़ होता है उनके मान-सम्मान में खूब बढ़ोतरी होती है.

बेल का पेड़-

आप अच्छी तरह जानते होंगे कि बेलपत्र का पौधा भगवान शिव को बहुत ही प्रिय है, ऐसा कहा जाता है कि इस पर स्वयं भगवान शिव का वास होता है. जहां यह पौधा होता है वहां पीढ़ी दर पीढ़ी लक्ष्मी जी का वास ही होता है.

यह पोस्ट शैक्षिक उद्देश्य से लिखा गया है. अधिक जानकारी के लिए किसी ज्योतिषाचार्य से सलाह जरूर लें. धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments