ये 3 गलतियां जो आपको बना सकती है बवासीर का शिकार, जान लें वरना पछताएंगे

कल्याण आयुर्वेद- बवासीर बहुत ही खतरनाक बीमारी है. आपको बता दें कि बवासीर दो प्रकार की होती है. आम भाषा में इसे खूनी और बादी बवासीर कहा जाता है.

ये 3 गलतियां जो आपको बना सकती है बवासीर का शिकार, जान लें वरना पछताएंगे

बवासीर एक ऐसी समस्या है जिसमें एनस के अंदरूनी और बाहरी हिस्से में मस्से और रेक्टम के निचले हिस्से में शिराओं में सूजन आ जाती है. बवासीर का मुख्य कारण अनियमित खानपान और अस्त-व्यस्त जीवन शैली है. कई बार बवासीर में असहनीय जलन और दर्द होने लगता है.

तो चलिए जानते हैं उन गलतियों के बारे में जो आपको बना सकते हैं बवासीर के शिकार-

1 .लगातार कब्ज बने रहना-

अगर किसी को लगातार कब्ज बना रहता है तो उसे बवासीर होने का खतरा काफी अधिक हो जाता है. इससे बचने के लिए प्रतिदिन कम से कम 8 से 9 गिलास पानी जरूर पीना चाहिए. इससे पाचन तंत्र ठीक रहता है और बवासीर की समस्या होने का खतरा कम हो जाता है. फिर भी यदि कब्ज की समस्या बनी रहे तो आपको डॉक्टरी सलाह जरूर लेनी चाहिए और कब्ज को दूर करने का उपाय करना चाहिए. आप कब्ज को दूर करने के लिए रात को सोने से पहले एक चम्मच इसबगोल की भूसी गुनगुने दूध के साथ सेवन कर सकते हैं या फिर एक चम्मच त्रिफला चूर्ण सेवन करना फायदेमंद होगा.

2 .अधिक मिर्च मसाले वाले भोजन करना-

जो लोग अधिक मिर्च मसाले वाले और तला- भुना भोजन ज्यादा करते हैं उन्हें भी बवासीर होने का खतरा अधिक हो जाता है. इसलिए मिर्च, मसाले और तले- भुने भोजन का सेवन कम से कम करना चाहिए.

3 .एक ही जगह पर लंबे समय तक बैठे रहना-

अगर आप लंबे समय तक एक ही जगह पर बैठे रहते हैं तो बवासीर की समस्या उत्पन्न हो सकती है. यदि आपका ऐसा काम है जिसमें लगातार बैठे ही रहना पड़ता है तो आपको हर आधे से 1 घंटे में कम से कम 5 मिनट के लिए टहलना चाहिए. इससे बवासीर का खतरा कम हो जाएगा.

यह जानकारी अच्छी लगे तो लाइक, शेयर जरूर करें. धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments