जानें- सूखी खांसी होने के कारण, लक्षण और अचूक घरेलू उपाय

कल्याण आयुर्वेद- खांसी का होना एक आम समस्या है जो किसी को भी हो सकता है. इसके लिए उम्र कोई मायने नहीं रखता है. खांसी तब होती है जब शरीर में कोई बाहरी कण या वायरस प्रवेश करता है. सूखी खांसी के कफ वाली खांसी किसी को कभी भी हो सकती है. कफ वाली खांसी में  शरीर से बलगम बाहर निकलती है, लेकिन सूखी खांसी में ऐसा नहीं होता है. इसमें बलगम नहीं आता है. सूखी खांसी वायरस इन्फेक्शन से होती है जिन लोगों को साइनस, अस्थमा, एलर्जी, फेफड़ों से संबंधित कोई रोग होता है या फिर वायरल या बैक्टीरियल इनफेक्शन, फ्लू आदि के कारण सूखी खांसी होती है.

जानें- सूखी खांसी होने के कारण, लक्षण और अचूक घरेलू उपाय

तो चलिए जानते हैं सूखी खांसी के लक्षण और घरेलू उपाय-

सूखी खांसी बहुत अधिक होने पर आपको सीने में जलन, दर्द, गले में दर्द, थकान, कर्कश आवाज जैसी समस्याएं हो सकती है. हालांकि इससे राहत पाने के लिए बाजार में कई तरह के कफ सिरप उपलब्ध हैं. इसके इस्तेमाल से कफ ढीला होकर निकलने लगता है और सूखी खांसी से छुटकारा मिलती है. लेकिन यदि 1 से 2 सप्ताह तक किसी भी तरह की खासी बनी रहे तो इसे नजरअंदाज नहीं करना चाहिए और डॉक्टर से संपर्क कर उचित इलाज कराना चाहिए.

सूखी खांसी के लक्षण-

खांसी आने पर बलगम ना आना, खांसते समय हाफ़ने लगना, सोते समय भी बार- बार खांसी आना, गले से घर-घराहट की आवाज आना, कुछ लोगों में बुखार का होना. यदि संक्रमण के कारण खासी है तो ठंड लग सकती है, गले में खराश हो सकती है,

सूखी खांसी दूर करने के अचूक घरेलू उपाय-

1 .सूखी खांसी हो या गीली खांसी, दूर करने के लिए तुलसी आपकी मदद कर सकता है. इसके लिए 8-10 तुलसी के पत्ते को दो कप पानी में आंच पर चढ़ा दें, बाद में इसमें दो 2-3 काली मिर्च और स्वादानुसार गुड़ डालकर तब तक उबालें जब तक पानी एक कप ना रह जाए. अब इसे आंच से उतारकर तुलसी पत्ते को मसलकर छान लें और हल्का गुनगुना रहने पर चाय की तरह पी लें. यह किसी भी तरह के खांसी से तुरंत ही आराम दिलाता है.

2 .बार-बार गुनगुना पानी पिने से भी सर्दी, खांसी और गले की खराश, खांसी और जुकाम से लड़ने में मदद मिलती है क्योंकि गर्म पानी गले में सूजन को कम करता है और शरीर से तरल पदार्थ बाहर निकालने में मदद करता है.

3 .काली मिर्च, जीरा और गुड़ के साथ उबला हुआ पानी मिलाकर काढ़ा बनाएं. इसको खाने से आपके सीने में जमा हुआ बलगम निकलने लगता है और खांसी से राहत मिलती है.

यह जानकारी अच्छी लगे तो लाइक, शेयर जरूर करें. धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments