शुक्रवार को करें ये काम, धन बरसाएंगी मां लक्ष्मी

ज्योतिष शास्त्र- हर किसी की चाहत होती है कि वह धनवान हो, उसके घर में किसी चीज की कोई कमी ना हो. हालाकि ज्यादातर लोग इसके लिए शुक्रवार के दिन उपाय करते हैं. ऐसे में आज हम कुछ उपाय बताने जा रहे हैं जिसे करने से मां लक्ष्मी प्रसन्न होंगी और आपको किसी चीज की कमी नहीं रहेगी.

शुक्रवार को करें ये काम, धन बरसाएंगी मां लक्ष्मी
चलिए जानते हैं विस्तार से-

शुक्रवार के दिन को शुक्र ग्रह और माँ लक्ष्मी को समर्पित माना जाता है. शुक्रवार के दिन किए गए कुछ कार्य मां लक्ष्मी को प्रसन्न करते हैं और आपके जीवन की बाधाओं को दूर करने में मदद मिलती है. आज हम इसी कड़ी में आपके लिए शुक्रवार के दिन किए जाने वाले कुछ ऐसे उपाय को लेकर आए हैं. जिसकी मदद से आपको धन संबंधी हर परेशानियों से छुटकारा मिलेगा और जीवन में सौभाग्य की प्राप्ति होगी.

करें इस मंत्र का जाप-

सुबह उठते ही ॐ श्रीं श्रीये नमः मंत्र का जाप कम से कम 108 बार करें. स्नान करते समय भी आप इस जाप को लगातार पढ़ते रहें, ऐसा करने से घर की आर्थिक स्थिति में काफी सुधार आएगा.

करें मां लक्ष्मी और विष्णु जी की स्तुति-

सुबह उठकर स्नान करें, इसके बाद आप माता लक्ष्मी की स्तुति करते हुए उनकी तस्वीर या मूर्ति के सामने दीपक जलाएं. इसके साथ ही आप भगवान विष्णु के नामों का जाप भी करें.

गौ माता को खिलाएं रोटी-

हर शुक्रवार के दिन गौ माता को ताजी रोटी बनाकर खिलाएं, ऐसा करने से माता की कृपा आप पर बनी रहेगी, साथ ही धन से जुड़ी समस्याएं दूर होगी.

कन्याओं को कराएँ भोजन-

आपको मालूम होगा कि कन्याओं को मां लक्ष्मी का रूप माना जाता है, मां लक्ष्मी को मिश्री और खीर का भोग लगाएं. तत्पश्चात 7 वर्ष की आयु से कम की कन्याओं को श्रद्धा पूर्वक भोजन कराएं और भोजन में खीर और मिश्री जरूर खिलाएं एवं यथासंभव दान देकर विदा करें.

करें खास उपाय-

शुक्रवार को स्नान के बाद लाल या सफेद वस्त्र पहने. वस्त्र पहनने के पश्चात हाथ में चांदी की अंगूठी या छल्ला धारण करें, हो सके तो अपने हाथ से किसी योग्य ब्राह्मण को भोजन करवा दें. प्रतिदिन इस उपाय को करने के साथ आप को कम से कम तीन शुक्रवार निरंतर यह कार्य करना होगा. यह उपाय आपके आने वाले धन की हर कठिनाइयों को आपसे दूर रखेगा.

यह पोस्ट शैक्षणिक उद्देश्य से लिखा गया है. अधिक जानकारी के लिए योग्य विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें. धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments