फेफड़ों के कैंसर के लिए रामबाण औषधि है यह चीज, वैज्ञानिकों ने किया शोध

कल्याण आयुर्वेद- आज के समय में कैंसर की बीमारी काफी तेजी से सामने आ रही है, दुनिया भर में कैंसर जैसी घातक बीमारी के शिकार लोगों की संख्या तेज गति से बढ़ रही है. इसके साथ ही फेफड़ों का कैंसर भी लोगों को तेजी से अपनी चपेट में ले रहा है. एक अध्ययन में पाया गया है कि मिर्च को तीखा बनाने वाले कंपाउंड से कैंसर की बीमारी को फैलने से रोकने में मदद मिल सकती है.

फेफड़ों के कैंसर के लिए रामबाण औषधि है यह चीज, वैज्ञानिकों ने किया शोध

शोधकर्ताओं के अनुसार कैंसर से जुड़ी अधिकतर मौतें कैंसर के दूसरे अंगों तक फैलने से होती है. कैंसर फैलने की प्रक्रिया को मेटास्टेटिस कहा जाता है. हरी मिर्च में विटामिन बी6, विटामिन सी, कॉपर, प्रोटीन, पोटेशियम, आयरन और कार्बोहाइड्रेट आदि मौजूद होते हैं. इसके अलावा beta-carotene और क्रिप्टोक्संथिन इत्यादि चीजें पाई जाती है जो कि स्वास्थ्य के लिए काफी लाभदायक होती है.

हरी मिर्च के फायदे-

* तीखी हरी मिर्च खाने से केवल सेहत ही अच्छी नहीं रहती है बल्कि सुंदरता में भी चार चांद लग जाता है. हरी मिर्च में मौजूद तत्व त्वचा को सुंदर बनाते हैं और शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को भी बेहतर करते हैं. रोजाना हरी मिर्च का सेवन करना सेहत के लिए फायदेमंद होता है.

* आपकी जानकारी के लिए बता दें कि हरी मिर्च में कैप्सीयासीन नामक कंपाउंड मौजूद होता है जो मिर्च के स्वाद को तीखा बनाता है. इसके रस का सेवन करने से नसों में खून का फ्लो तेज होता है जिससे चेहरे पर पिंपल्स की समस्या उत्पन्न नहीं होती है. इसके साथ ही मिर्च के सेवन से खून साफ भी होता है.

* वैज्ञानिकों द्वारा किए गए एक शोध के मुताबिक हरी मिर्च खाने से प्रोस्टेट की समस्या पूरी तरह से समाप्त हो जाती है, इतना ही नहीं हरी मिर्च खाने से कई तरह के फायदे होते हैं जो कि सेहत के लिए जरूरी होते हैं.

* हरी मिर्च में प्रचुर मात्रा में विटामिन सी पाया जाता है, इसके साथ ही हरी मिर्च का सेवन करने से फेफड़ों के कैंसर का खतरा बहुत कम हो जाता है, खास तौर पर पुरुषों के लिए हरी मिर्च का सेवन करना बेहद फायदेमंद हो सकता है क्योंकि पुरुषों को प्रोस्टेट कैंसर का खतरा रहता है.

यह जानकारी अच्छी लगे तो लाइक, शेयर जरूर करें, धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments