डायबिटीज के मरीजों के लिए जहर के समान है यह फल, भूलकर भी न करें इसका सेवन

कल्याण आयुर्वेद - वैसे तो फल हमारे सेहत के लिए बहुत फायदेमंद तथा आवश्यक होते हैं. हर फल का अपना एक अलग फायदा होता है. वही कुछ बीमारियां ऐसी हैं. जिनमें कुछ फलों का परहेज करना सही होता है. आज के इस पोस्ट में हम आपको एक ऐसे फल के बारे में बताएंगे, जो डायबिटीज के मरीजों के लिए जहर के समान होता है.

डायबिटीज के मरीजों के लिए जहर के समान है यह फल, भूलकर भी न करें इसका सेवन

तो आइए जानते हैं इस फल के बारे में -

सबसे पहले हम आपको बता दें, कि हम जिस फल के बारे में बात कर रहे हैं, उसका नाम है अनानास. जी हां अनानास ही वह फल है, जिसका सेवन डायबिटीज मरीजों के लिए जहर के समान होता है. आज हम आपको यह भी बताएंगे कि डायबिटीज के मरीजों के लिए अनानास का सेवन जहर के समान क्यों है.

दरअसल स्वास्थ्य विशेषज्ञों के अनुसार ज्यादा कार्बोहाइड्रेट अथवा हाइपोग्लाइसेमिक फूड के सेवन से डायबिटीज के मरीजों को बचना चाहिए और आपको बता दें कि अनानास में ग्लाइसेमिक इंडेक्स का स्तर मध्यम होता है. ऐसे में इसके सेवन से बचना चाहिए. अनानास के सेवन से ब्लड में ग्लूकोज की मात्रा बढ़ जाती है.

इसलिए डायबिटीज के मरीजों को अनानास का सेवन नहीं करना चाहिए. आपको बता दें ताजे फल की तुलना में अनानास के जूस का सेवन करना और अधिक हानिकारक हो सकता है. ऐसे में डायबिटीज के मरीजों को पाइनएप्पल के टुकड़ों का सेवन करना चाहिए तथा खासकर उन्हें अनानास के जूस पीने से परहेज करना चाहिए.

दरअसल इसका जूस तैयार करने के लिए ज्यादा अनानास की जरूरत होती है. जिससे बॉडी में शुगर की मात्रा ज्यादा बढ़ती है. विशेषज्ञों के अनुसार यदि आप डायबिटीज के मरीज हैं, तो आप दोपहर के समय केवल 100 ग्राम अनानास का सेवन कर सकते हैं. इससे आपको दिक्कतों का सामना नहीं करना पड़ेगा. ज्यादा मात्रा में इसका सेवन करना आपके लिए जहर के समान हो सकता है.

दोस्तों, आपको यह जानकारी कैसी लगी ? हमें कमेंट में जरूर बताइए और अगर अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट को लाइक तथा शेयर जरूर करें. धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments