यौन शक्ति को बढ़ाना चाहते हैं तो करें इस चीज का सेवन

कल्याण आयुर्वेद- महिला हो या पुरुष हर किसी की चाहत होती है कि उन्हें चरम यौन सुख की प्राप्ति हो और इसके लिए वे अपने खान-पान के साथ रहन-सहन का भी विशेष ध्यान रखते हैं. लेकिन कई बार ऐसा होता है कि किन्ही कारणों से यौन शक्ति कमजोर हो जाती है और सेक्स के दौरान उन्हें चरम आनंद की प्राप्ति नहीं हो पाती है. यदि ऐसी समस्या से आप भी परेशान हैं तो आज हम एक ऐसे चीज के बारे में बताने जा रहे हैं जो इस समस्या को दूर कर देगा.

यौन शक्ति को बढ़ाना चाहते हैं तो करें इस चीज का सेवन

जी हां, हम जिस चीज के बारे में बात कर रहे हैं वह है हरड़. नियमित रूप से हरड़ का सेवन करना पाचन तंत्र से लेकर बवासीर तक की समस्याओं को दूर कर सकता है. इस पेड़ के फल, जड़ और छाल का इस्तेमाल कई हर्बल दवाओं को तैयार करने के लिए किया जाता है.

आपको बता दें कि हरड़ में नमक को छोड़कर पांचो रस यानी मीठा, तीखा, कड़वा, कसैला और खट्टा पाए जाते हैं. मिनरल, विटामिन, प्रोटीन, एंटी बैक्टीरियल, एंटीबायोटिक गुण हरड़ में मौजूद होते हैं.

आयुर्वेद में हरड़ का उपयोग यौन समस्याओं को दूर करने के लिए सदियों से किया जाता रहा है. यौन शक्ति बढ़ाने के लिए प्रतिदिन 1 से 2 ग्राम हरड़ का सेवन किया जाता है. यह शीघ्रपतन के इलाज में काफी लाभदायक है. हरड़ के इस्तेमाल को लेकर इस बात का ध्यान रखना जरूरी है कि ज्यादा समय तक इसका इस्तेमाल करने पर इसके गर्म और कसेली गुण के कारण यौन शक्ति की कमी भी हो सकती है. इसलिए आपको योग्य वैध की सलाह के अनुसार ही इसका सेवन करना चाहिए.

त्वचा और बालों की समस्याओं से हरड़ का पाउडर निजात दिला सकता है. मुंहासे दूर करने के लिए गर्म पानी में हरड़ का पाउडर मिलाएं और इसके पेस्ट को ठंडा कर सीधे प्रभावित क्षेत्र पर लगाएं.

यदि बालों के झड़ने की शिकायत हो या रुसी की समस्या हो तो आंवले के तेल में हरड़ के पाउडर को मिलाकर बालों पर लगाएं.

हरड़ पाचन तंत्र में सुधार लाने के लिए भी काफी लाभदायक है. भोजन से पोषक तत्वों के अवशोषण को और बढ़ाने और आँतों को स्वस्थ रखने में हरड़ का नियमित रूप से सेवन करना फायदेमंद होता है. इसके लिए एक कप गर्म पानी में 2- 3 ग्राम हरड़ डालकर पीने से लाभ होता है.

बवासीर में गुर्दा और मलाशय में मौजूद नसों में सूजन और तनाव आ जाता है हरड़ में मल को पतला करने वाला गुण पाया जाता है जिसके कारण पेट से जुड़ी समस्याएं दूर होकर बवासीर की समस्या से राहत मिलती है.

नोट- यह पोस्ट शैक्षणिक उद्देश्य से लिखा गया है. किसी भी प्रयोग से पहले योग्य वैध की सलाह जरूर लें. धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments