जानें- महिलाओं के स्वास्थ्य जुड़ी समस्याएं और घरेलू उपचार

कल्याण आयुर्वेद- महिलाओं में स्वास्थ सम्बन्धी समस्याएं होती रहती है जिसका मुख्य कारण होता है अपने स्वास्थ्य का ध्यान नही रखना बहुत से महिलाये तो छोटी-मोती बिमारियों को तो किसी को एहसास भी नही होने देती की मै बीमार हूँ आजकल ९९%महिलाएं कुछ न कुछ बिमारियों से घिरी ही रहती हैं जैसे बुखार,सर्दी,खांसी,हरारत मासिक धर्म अनियमितता ,प्रसव के बाद पेट का बाहर आना जैसी समस्याएं होती रहती है.

जानें- महिलाओं के स्वास्थ्य जुड़ी समस्याएं और घरेलू उपचार 
तो आइये जानते हैं घरेलू उपाय-

1 .यदि आपको बुखार,थकान,हरारत या हलके सिर दर्द की समस्या हो तो 5 ग्राम अजवायन चूर्ण पानी के साथ सेवन करने से तुरंत आराम मिलता है अजवायन बुखार को जड़ से ख़त्म करने में मददगार है.

2 .गर्भवती महिला यदि साढ़े आठ महिना होने के बाद अगर 3 ग्राम हल्दी पाउडर दिन में एक बार पानी से सेवन करे तो प्रसव सुखपूर्वक होता है.

3 .प्रसव होने के 5-6 दिन बाद से मंगरैला का काढ़ा बनाकर पीने से पेट बाहर नही निकलता है.

4 .प्रसव होने के बाद हल्दी का लडडू बनाकर सेवन करने से शरीर को नवजीवन प्राप्त होता है क्योंकि इससे प्रसव के समय होनेवाली अंदरूनी छोटो को ठीक करता है और ज्वाइंट रोग नहीं होता है ब्रेस्ट कैंसर और स्किन कैंसर जैसी समस्याएं नही होती है.

5 .महिलाओं को पानी का ज्यादा सेवन करना फायदेमंद होता है क्योंकि इससे पथरी,बबासीर,गैस,मोटापा,जोड़ों का दर्द आदि बीमारियाँ दूर रहती है.

6 .चेहरे पर दाग-धब्बे,झाइयाँ हो जाए तो मंगरैला को सिरके में पीसकर चेहरे पर लगाकर सो जाएँ सुबह पानी से धो लें इससे चेहरे के दाग धब्बे कुछ ही दिनों में गाएब हो जायेंगे.

यह आपकी जानकारी के लिए है किसी भी प्रयोग से पहले अपने डॉक्टर से सलाह लेकर ही इस्तेमाल करें.

Post a Comment

0 Comments