सुखी दांपत्य जीवन 17 उपाय, पति- पत्नी में कभी नहीं होंगे झगड़े, महिलाएं जरुर जानें

ज्योतिष शास्त्र- मनुष्य के पूरे जीवन में कई ऐसी समस्या आ जाती है जो उनके जीवन पर बहुत ही बुरा प्रभाव डालती है. अक्सर व्यक्ति का वैवाहिक जीवन कई ऐसी समस्याओं का शिकार हो जाता है. जिनको उसके साथ किसी भी प्रकार का वास्ता नहीं होता है. पर हम आपको कुछ ऐसे उपाय को बताने की कोशिश कर रहे हैं. जिनसे आप अपने वैवाहिक जीवन को खुशहाल बिता सकते हैं.

सुखी दांपत्य जीवन 17 उपाय, पति- पत्नी में कभी नहीं होंगे झगड़े, महिलाएं जरुर जानें

कहा जाता है कि बाप बड़ा ना भैया सबसे बड़ा रुपैया, एक ऐसी चीज है जिसके पास ज्यादा है वह परेशान है जिसके पास कम हो उसे अधिक पाने की लालसा है. यही लालसा परिवार और समाज पर भारी पड़ती है. पैसों को लेकर अक्सर रिश्तो में दरार आ जाती है.

कभी-कभी पैसा ऐसा विवाद बढ़ जाता है जो समाज में रिश्तो को शर्मिंदगी की ओर ढकेलता है. अपनों के बीच खींचातानी परिवार में लड़ाई झगड़े, मारपीट आदि. यहां तक कि लोग अपनों का खून बहाने में जरा भी परहेज नहीं करते हैं. कहा जाता है कि दुनिया में तीन चीजें हैं जो अपनों को आपस में लड़ा देती है जर, जोरू और जमीन. यह ऐसी चीजें हैं जिनसे एक हंसता खेलता परिवार बर्बादी की कगार पर पहुंच जाता है.

गीता में लिखा है बुरे कर्म करने वाले व्यक्ति को नर्क तथा अच्छे काम करने वाले को स्वर्ग का स्थान मिलेगा. उन्होंने कहा है कि वर्तमान में धन- दौलत, जमीन- जायदाद के लालच में पारिवारिक रिश्तो में दरार पड़ जाती है. लेकिन अज्ञानता के कारण मनुष्य घमंड एवं लालच में ही यह सब कर रहा है. किंतु जो व्यक्ति समझदार, मोह, लोभ, लालच से दूर है उसका परिवार स्वयं खुशी से जीवन व्यतीत कर रहा है.

यदि आपका विवाहित जीवन किसी न किसी समस्या जूझ रहा है इसकी वजह से आपके विवाहित रिश्ते को काफी चोट पहुंचती है तो आपको जल्द ही इसका उपाय करना चाहिए. आज हम कुछ उपायों के बारे में बताने जा रहे हैं जो आपके और आपके वैवाहिक जीवन के लिए काफी लाभदायक सिद्ध होंगे.

* कहा जाता है कि पति के भोजन कर लेने के बाद उसी थाली में पत्नी को भोजन करना चाहिए. साथ ही पति द्वारा छोड़े गए खाने के अंश का सेवन भी पत्नी द्वारा किया जाना चाहिए. ऐसा करने से पति और पत्नी के बीच प्रेम बना रहता है.

* पति अपनी पत्नी को सदैव सम्मान करें, पति अपनी पत्नी को सम्मान बिल्कुल लक्ष्मी की तरह करें तो घर शांति बनी रहती है शादीशुदा जिंदगी खुशहाल बितता है.

* शास्त्रों के अनुसार सुखी वैवाहिक जीवन के लिए पीपल और केले के पेड़ की पूजा करना फलदायक होता है.

* आपके द्वारा कमाए जाने वाले वेतन को प्रतिमाह अपनी पत्नी को दें और आपकी पत्नी द्वारा ही उस वेतन को तिजोरी में रखा जाए इससे धन में वृद्धि होती है.

* पति या पत्नी द्वारा कभी भी अपने जीवनसाथी को उसकी कम आय के लिए ताने मारने का काम नहीं किया जाना चाहिए. इससे पति-पत्नी के बीच झगड़े होते हैं और दूरियां बढ़ने लगती है.

जानिए सुखी दांपत्य जीवन के लिए कुछ टोने- टोटके-

1. यदि कोई स्त्री रात्रि के समय एक चुटकी सिन्दूर अपने पति के सिराहने रखे और प्रातः बिस्तर पर उठने से पहले (पलंग से उतरने से पूर्व) ही वह सिंदूर अपनी मांग में भर ले तो पति-पत्नी का दाम्पत्य जीवन खुशहाल बना रहेगा.
2. यदि पत्नी सदैव अपने हाथ में पीली चूड़ी पहन के रखे तो भी दाम्पत्य जीवन में प्रेम व सुख बना रहेगा.
3 . विवाह पश्चात विदाई के समय यदि एक लोटे पानी में एक चुटकी हल्दी, एक रूपये का सिक्का व गंगाजल डालकर दुल्हन के सर पर से ग्यारह बार उसार कर उसके आगे डाल दिया जाय तो उसका वैवाहिक जीवन सदैव सुखमय बना रहेगा.
4. विवाह से चार दिन पहले साबुत हल्दी की सात गाँठ, पीतल के सात सिक्के, थोड़ा सा केसर, गुड तथा चने की दाल इत्यादि सामग्री क पीले वस्त्र में बांधकर कन्या अपनी ससुराल की देश में ओर उछाल दें. इस टोटके से कन्या का दाम्पत्य जीवन सुखमय बना रहेगा.
5. यदि कभी कोई स्त्री दान करना चाहे तो दान सामग्री में लाल सिंदूर के साथ इत्र की शीशी, चने की दाल तथा केसर अवश्य रखें. इससे पति की आयु में वृद्धि होती है.
6. यदि विवाहित स्त्री नित्य प्रतिदिन दुर्गा चालीसा का पाठ करे एवं माँ दुर्गा के १०८ नामों का जाप करे तो उस स्त्री का परिवार खुशहाल और दाम्पत्य प्रेम अटूट बना रहेगा.
7. यदि पुराना खुला ताला सात बार शरीर पर से घडी की उलटी दिशा में घुमाकर अँधेरे में गुपचुप चौराहे पर रख आएं. पीछे मुड़कर ना देखें यह उपाय शुक्ल पक्ष के गुरुवार को प्रातः मुँह अँधेरे करें तो उस कन्या का विवाह शीघ्र ही होगा.
8. विवाहित स्त्री अपने दाम्पत्य जीवन को खुशहाल बनाने के लिए यदि प्रतिदिन केले के वृक्ष का पूजन करे साथ ही किसी वृद्धा स्त्री का आशीष ले तो उसे सौभाग्य प्राप्त होता है.
9. लाल रंग के कपडे की थैली में पिली सरसों के साथ दो अभिमंत्रित गोमती चक्र रख दें. एक गोमती चक्र पर पति का नाम तथा दूसरे गोमती चक्र पर अपना नाम लिखें. तत्पश्चात थैली बंद करके अलमारी में रख दें. इससे पति-पत्नी में आपस में प्रेम बढ़ता है.
10. यदि पति-पत्नी के दाम्पत्य जीवन में कलह हो तो अपने शयन कक्ष में पति अपने तकिये के नीचे लाल सिंदूर रखे एवं पत्नी अपने तकिये के नीचे कपूर रखें. तत्पश्चात प्रातः काल पति आधा सिंदूर घर में कहीं भी गिरा दे एवं आधे से अपनी पत्नी की मांग भर दें. पत्नी कपूर जला दे. इससे पति-पत्नी में प्रेम बना रहता है.
11. यदि स्त्री कनेर के पुष्प क पानी में पीसकर अपने पति के माथे पर तिलक करे तो पति कभी भी किसी अन्य स्त्री से सम्बन्ध नहीं बनाएगा.
12. संक्रांति के पुण्यकाल में रविवार के अलावा गोमूत्र का छिड़काव पुरे घर में करने से पति-पत्नी में प्रेम बना रहता है.
13. पति सदैव केसर मिश्रित दूध का सेवन करे, साथ ही काम के लिए जाते समय जीभ पर केसर लगाय तथा पत्नी अपने हाथों में सोने की एक या दो चूड़ियाँ धारण करके रहे, इससे दाम्पत्य जीवन में सदैव सुख शान्ति बानी रहती है.
14. जब भी घर में कोई खाने पीने की वस्तु आये तो उसे पहले भगवान के चरणों में अर्पित करें. इससे भी वैवाहिक जीवन खुशहाल बना रहता है.
15. शनिवार, मंगलवार तथा गुरुवार को जाने-अनजाने में कभी भी नाख़ून नही काटें तथा घर के पुरुष न तो बाल कटवाएं और न ही शेव बनवाएं.
16. यदि विवाहित स्त्री नियमित रूप से प्रत्येक दिन चमेली का दीपक जलाकर श्रद्धा सस्वर सही सुन्दर कांड का पाठ करे तो दाम्पत्य जीवन तथा गृहस्थ जीवन निर्विघ्न व्यतीत होता है.
17. वैवाहिक सुख की प्राप्ति और अनबन के निवारण के लिए सुबह स्नानादि से निवृत्त होकर भगवती दुर्गा की प्रतिमा के सामने दीया और अगरबत्ती जलाकर पुष्प अर्पित करें. अब नीचे लिखे मंत्र का 108 बार जाप करें. ज्योतिषी औऱ पंडितों का मानना है कि ऐसा करने से कुल 21 दिनों में ही सुख-शांति का वातारण व्याप्त हो जाएगा-
मंत्र
धां धीं धूं धूर्जटे! पत्नी वां वीं वूं वाग्धीश्वरि।
क्रां क्रीं क्रूं कालिका देवि! शांत शीं शूं शुभं कुरू।
18. अक्सर महिलाओं में यह शिकायत की जाती है कि उनके पति उऩको प्यार नहीं करते हैं ,इसके पीछे तमाम तरह कारण हो सकते हैं पर, ज्योतिष यानि ग्रह नक्षत्रों का भी अहम होता है. इसलिए ज्योतिष इस रिश्ते की बीच प्यार को पनपाने के लिए कई उपायों का सृजन करता है जिनके प्रयोग से इन रिश्तों के बीच प्यार पनप जाएगा. पति और पत्नि का रिश्त बहुत ही अहम माना जाता है. इस दुनिया में पति और पत्नि दोनों एक दूसरे के पूरक हैं. इसलिए इनके रिश्ते के बीच प्यार का होना बहुत ही अहम समझा जाता है. पर अक्सर ऐसा देखा जाता है कि पति और पत्नि के बीच इस आधूनिक युग में तमाम तरह की समस्याएं आ जाती हैं. जिससे उनका रिश्ता बिगड़ जाता है.

19. ज्योतिष के अनुसार कई तरह की सलाह दी जाती है, उन्हीं में से एक है पुखराज को पहने जाने की. दरअसल ज्योतिष के अनुुसार ऐसा माना जाता है कि अगर महिलाएं अपने पति का प्यार पाना चाहती है तो उन्हें पुखराज रत्न को पहनाना चाहिए. ये रत्न ग्रह के हिसाब से काम करता है और जल्दी ही उनकी जिंदगी में पति के प्यार को लेता है. जो भी महिलाएं पुखराज को पहनना चाहती है वे ज्योतिष की सलाह के आधार पर पुखराज को धारण कर सकती है.

नोट- यह पोस्ट शैक्षणिक उदेश्य से लिखा गया है. किसी भी प्रयोग से पहले योग्य ज्योतिष कि सलाह लें.धन्यवाद.

स्रोत- पंडित दयानंद शास्त्री का लेख से.

Post a Comment

0 Comments