सुबह के नाश्ते में शामिल करें ये 5 चीजें, मजबूत रहेगी हड्डियां

कल्याण आयुर्वेद- कुछ समस्याएं हमारे शरीर को धीरे-धीरे घेरती है और इतनी अधिक घेर लेती है कि इलाज में काफी समय लग जाता है. ओस्टियोपोरोसिस इन ही में से एक है जो शरीर में कैल्शियम की कमी होने से होती है.

सुबह के नाश्ते में शामिल करें ये 5 चीजें, मजबूत रहेगी हड्डियां

ऑस्टियोपोरोसिस में अस्थि खनिज घनत्व कम हो जाता है. हड्डियाँ कमजोर होने लगती है और हल्का दबाव पड़ने पर भी टूट जाती है. ऐसी स्थिति में हड्डी का फिर से जुड़ना काफी मुश्किल हो जाता है. ओस्टियोआर्थराइटिस में कार्टिलेज और इलास्टिसिटी खो देता है.

पुरुषों के मुकाबले महिलाओं में यह बीमारी अधिक पाई जाती है. उम्र के साथ-साथ महिलाओं के शरीर में एस्ट्रोजन का स्तर कम होता जाता है और उसमें ऑस्टियोपोरोसिस होने की संभावना बढ़ने लगती है. कई सर्वे बताते हैं कि मेनोपॉज के बाद 10 में से हर तीसरी महिला को यह बीमारी हो सकती है. सबसे बड़ी दिक्कत की बात यह है कि इस बीमारी का पता बहुत देर से लगता है.

इसलिए अगर डाइट का ध्यान रखा जाए तो ऑस्टियोपोरोसिस से बचा जा सकता है. एक्सपर्ट्स का कहना है कि विटामिन डी युक्त चीजें खाने से ऑस्टियोपोरोसिस के खतरे को काफी हद तक टाला जा सकता है. इसलिए अगर सुबह के नाश्ते में इन 5 चीजों को शामिल कर लिया जाए तो काफी बेहतर होगा.

1 .अंडे-

ब्रेकफास्ट में उबले अंडे का आमलेट लिया जा सकता है क्योंकि अंडे में प्रोटीन के साथ विटामिन ए और विटामिन डी भरपूर मात्रा में होती है इससे हड्डियां मजबूत होती है.

2 .धनिया पत्ता-

पोहा, आमलेट, पराठा इत्यादि को न सिर्फ धनिया पत्ता स्वादिष्ट बनाता है बल्कि यह सेहत के लिए काफी लाभदायक होता है. आयुर्वेद की जानकारी जौ घास, अल्फा अल्फा और रोज हिप्स जैसी जड़ी- बूटियां खाने की सलाह भी देते हैं. यह सभी चीजें हड्डियों को मजबूत करने में मदद करती है.

3 .दूध-

ब्रेकफास्ट में दूध का सेवन जरूर करना चाहिए, इसे सादा या शेक बना कर ले या फिर कॉर्नफ्लेक्स के साथ भी लिया जा सकता है. इसमें खूब सारा कैल्शियम, विटामिन डी, प्रोटीन, फास्फोरस और पोटैशियम मौजूद होता है जो की हड्डियों को मजबूत बनाने में मददगार होता है.

4 .दही-

कई लोगों को दूध से एलर्जी होती है यानी वे दूध नहीं पीना चाहते हैं. अगर आप दूध नहीं पी सकते तो दही खाना भी बेहतर होगा. दही में प्रोटीन और कैल्शियम मौजूद होता है जो हड्डियों को मजबूत बनाने में मददगार होता है.

5 .सोयाबीन-

सोयाबीन में प्रोटीन के साथ ही दूसरे जरूरी सप्लीमेंट्स मौजूद होते हैं. इसलिए सोयाबीन का सेवन करना सेहत के लिए फायदेमंद होने के साथ-साथ ऑस्टियोपोरोसिस से बचाव करने में मददगार होता है जो लोग नॉनवेज खाते हैं उनको मछली खाने से लाभ होगा. हालांकि रेड मीट से बचें. क्योंकि इसमें फैट ज्यादा होता है इसलिए मोटापा बढ़ने के चांस अधिक हो जाते हैं.

यह जानकारी अच्छी लगे तो लाइक, शेयर जरूर करें. धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments