इस अंगूठी को पहनकर देखें रातोंरात बदल जाएगी किस्मत, हो जायेंगे मालामाल

ज्योतिष शास्त्र- सोना,चांदी,लोहा,पीतल आदि धातुओं का इस्तेमाल कई रोगों को दूर करने के लिए किया जाता है. जिसे भस्म, पिष्टी आदि के रूप में उपयोग सदियों से किया जाता है जो कई रोगों से लड़ने की क्षमता रखता है.लेकिन वही सोना,चांदी,लोहा पीतल आदि को ज्योतिष शास्त्र में शरीर में धारण करने के लिए बताया गया है जो कई रोगों की शांति करने के साथ किस्मत में बदलाव के लिए बताया गया है.

इस अंगूठी को पहनकर देखें रातोंरात बदल जाएगी किस्मत, हो जायेंगे मालामाल
तो हम बात करने जा रहे हैं चांदी का रिंग यानि अंगूठी पहनने के फायदे के बारे में-

* ज्योतिष शास्त्र के अनुसार चांदी की अंगूठी कनिष्टिका अंगुली में धारण करने से हाथ की खूबसूरती के साथ सुख-समृधि के कारक भी माने जाते हैं.

* ज्योतिष के अनुसार नौ ग्रह होते हैं जिसमे चांदी शुक्र और चन्द्रमा से जुड़ा हुआ है और कहा जाता है कि चांदी भगवन शिव के नेत्र से उत्पन्न हुआ था. इसलिए जहाँ चांदी होती है वहां वैभव और शुख-समृधि की कमी नही होती है किस्मत चमक जाती है.

तो आइये जानते हैं चान्धी की अंगूठी धारण करने की विधि-

अपनी मन पसंद की डिजाइन की अंगूठी बाजार से लाकर किसी गुरुवार के दिन रात को शुद्ध जल या गंगाजल में डालकर पूरी रात छोड़ दें. अगली सुबह नहा- धोकर अंगूठी को निकालकर भगवान् विष्णु के चरणों में रखकर आप विधि पूर्वक पूजा करें और अंगूठी पर चन्दन लगायें. धुप, दीप दिखाएँ और अक्षत चढ़ाएं. आपका चांदी की अंगूठी अब पूर्ण रूप से शुद्ध हो चूका है. इसे दाहिने हाथ की कनिष्ठिका अंगुली में धारण करें.

धारण करने के फायदे-

1 .विधि पूर्वक चांदी की अंगूठी धारण करने से शुक्र और चन्द्रमा शुभ परिणाम देते है और शरीर को शीतलता मिलती है. जिसके कारण चेहरे परनिखार आता है और चेहरे के दाग धब्बे मिट जाती है. चेहरे की चमक बढती है.

2 .चांदी की अंगूठी धारण करने से मस्तिष्क शांत रहता है अगर आपको बात-बात पर गुस्सा आता हो तो गुस्सा को नियंत्रित करने में मदद करता है.

3 .अगर जोड़ों में दर्द,और हड्डियों से जुडी समस्या हो तो आपको काफी हद तक फायद मिलता है.

4 .ज्योतिष के अनुसार चन्द्रमा गृह का कमजोर होना आपकी मानसिक तनाव को बढ़ा देता है. ऐसे में आपको किसी काम में मन नही लगता तो चांदी की अंगूठी धारण करने से मानसिक क्षमता बढती है.

यह पोस्ट अच्छी लगे तो लाइक और शेयर के साथ कमेन्ट जरुर करें.

Post a Comment

0 Comments