अगर चाहिए अच्छा पति और खुशहाल तो लड़कियां शुक्रवार को करें ये उपाय

ज्योतिष शास्त्र- शुक्र ग्रह शनि, राहु और केतु के बाद सबसे उग्र ग्रह माना जाता है. इसके अलावे शुक्र गृह को लाभ देने वाला माना गया है. भारतीय ज्योतिष में शुक्र की गिनती नौ ग्रहों में होती है. यह सात वार में शुक्रवार का स्वामी होता है. यह वृषभ और तुला का स्वामी है. इनका वाहन ऊंट, घोड़ा और मगरमच्छ है. इनको खुश कर आप अपार धन वैभव और भौतिक सुख यहां तक की अच्छा पति भी प्राप्त कर सकती हैं.

अगर चाहिए अच्छा पति और खुशहाल तो लड़कियां शुक्रवार को करें ये उपाय

जो कोई भी संतोषी माता की पूजा और आरती पूरी आस्था और विश्वास के साथ करता है उसे सभी मनोवांछित फल की प्राप्ति होती है. साथ ही जिनको बेटे की तमन्ना है उन्हें भी शुक्र की आराधना करने से पुत्र रत्न की प्राप्ति होती है ऐसा शास्त्रों में बताया गया है.

शुक्रवार व्रत करने वाले व्यक्तियों को सुबह जल्दी उठना चाहिए. इसके बाद साफ- सफाई करना चाहिए. फिर स्नान ध्यान करके घर में गंगाजल छिड़ककर घर को शुद्ध करना चाहिए. इसके बाद उत्तर पूर्व के कोने में संतोषी माता की तस्वीर लगाना चाहिए. बाद में संतोषी माता की पूजा पूरी भाव से करना चाहिए. संतोषी माता की कथा सुननी चाहिए. प्रसाद के रूप में गुड़ और चना रखना चाहिए.

शास्त्रों के अनुसार नियमित रूप से 16 शुक्रवार के व्रत करना चाहिए. व्रत को करने वाले महिला और पुरुष को खट्टा सामान छूना या खाना नहीं चाहिए. भोजन में कोई खट्टी चीजें आचार या खट्टे फल शामिल नहीं करना चाहिए.

देवी संतोषी के आशीर्वाद से महिलाओं और पुरुषों की सभी मनोकामना को पूरा करने में यह व्रत मदद करता है जो इस व्रत का पालन करता है उनको कई लाभ होते हैं.

घर में व्यापार अच्छा, धन की वृद्धि, परीक्षा में सफलता, अदालत में जीत, लाभ और खुशी की तरह के फल प्राप्त होते हैं. अविवाहित लड़कियों को जल्द ही माँ संतोषी की कृपा से अच्छा पति मिलता है और खुशहाल परिवार में जाती हैं.

नोट- यह पोस्ट शैक्षणिक उद्देश्य से लिखा गया है. अधिक जानकारी के लिए किसी अच्छे ज्योतिष की सलाह जरूर लें. धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments