नीलम नहीं है कोई छोटी सी चीज, पहनने वाले को बना देता है रंक से राजा, जानें अन्य फायदे

ज्योतिष शास्त्र- नवरत्नों में नीलम सबसे अधिक तेज और गतिशील रत्न होता है. इसे साउरी रत्न भी कहा जाता है. नीलम रत्न कश्मीर, श्रीलंका, रूस और अमेरिका आदि देशों में पाया जाता है.

नीलम नहीं है कोई छोटी सी चीज, पहनने वाले को बना देता है रंक से राजा, जानें अन्य फायदे

अच्छी क्वालिटी का नीलम रत्न श्रीलंका में पाया जाता है. मोर की गर्दन की तरह इस रत्न का रंग भी नीला होता है. नीलम रत्न दो प्रकार का होता है एक गहरा नीला जिसे इंद्रनील कहते हैं और दूसरा जलनील.

आपको बता दें कि नीलम रत्न को अंग्रेजी में ब्लू सेफायर भी कहते हैं. अन्य किसी शुभ रत्न के साथ नीलम को धारण करने से हड्डी के कैंसर, किडनी की समस्या, तंत्रिका रोग और पारालाइसिस से सुरक्षा मिलती है.

यदि यह रत्न किसी व्यक्ति को सूट कर जाए तो यह रत्न उस व्यक्ति को धन, समृद्धि, प्रसिद्धि, नाम, पैसा, शोहरत, सुख, शांति, दीर्घायु, मानसिक शांति और उत्तम संतान प्रदान करता है.

नीलम रत्न धारण करने से किसी भी प्रकार के खतरे, यात्रा संबंधी परेशानियां, आतंक, चोरी, दुर्घटना और बाढ़, आग और किसी भी तरह की प्राकृतिक आपदा से रक्षा होता है.

यह आपको बना सकता है धनवान-

नीलम रत्न के प्रभाव से कोई भी व्यक्ति रातों-रात रंक से राजा भी बन सकता है, यह रत्न जातक के कैरियर पर सकारात्मक प्रभाव डालता है और धारण करने वाले को अमीर बनने में मदद करती है. नीलम रत्न धारण करने वाले व्यक्ति को मानसिक अशांति से मुक्ति मिल जाती है.

शत्रु से करता है रक्षा-

इस रत्न को धारण करने वाले व्यक्ति को शत्रु परास्त नहीं कर पाते हैं बल्कि परास्त हो जाते हैं. भाग्योदय और बुरी शक्तियों से रक्षा पाने हेतु यह रत्न धारण किया जा सकता है.

इन कार्यों से जुड़े लोगों को पहनना चाहिए नीलम-

सर्जन, मैकेनिकल, इंजीनियर, ज्योतिषी, डॉक्टर, बिजली उपकरण निर्माता, वैज्ञानिक, लेखक, जेलर, सैनिक और आर्कियोलॉजिस्ट को नीलम रत्न धारण करने से लाभ होता है. डांस, ड्रामा, मार्शल आर्ट्स, सिनेमैटोग्राफी, एक्टिंग और डायरेक्शन से जुड़े लोगों को भी नीलम पहनना फायदेमंद होता है.

कितने कैरेट का पहने नीलम-

कम से कम 2 कैरेट का नीलम रत्न जरूर पहनना चाहिए, शनिवार के दिन चांदी की धातु में नीलम रत्न धारण करना चाहिए. इस रत्न को मध्यमा अंगुली में पहनना शुभ होता है.

नोट- यह पोस्ट शैक्षणिक उद्देश्य से लिखा गया है इसे धारण करने से पहले किसी विशेषज्ञ ज्योतिष की सलाह जरूर लें क्योंकि यह आपको सूट नहीं करता है तो खतरनाक हो सकता है.

यह जानकारी अच्छी लगे तो लाइक, शेयर जरूर करें. धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments