बहुत ही चमत्कारी है इस पौधे की जड़ कुछ ही दिनों में दूर कर देती है धन संबंधी परेशानी, एक बार आजमाकर देखें

ज्योतिष शास्त्र- भारतीय संस्कृति में पेड़ों की पूजा सदियों से होती आ रही है, इसके अनुसार कई ऐसे पूजा का धर्म ग्रंथों में पूजा करने का विधान बताया गया है. बताया गया है कि पेड़ों की पूजा करने से मनुष्य को प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष रूप में लाभ होता है. लेकिन क्या आपको पता है कि पेड़ों की जड़ भी बहुत महत्वपूर्ण होती है जो कि व्यक्ति को धनवान बना देती है. इसे ज्योतिष में बहुत ही असरदार टोटका माना जाता है.

कुछ विशेष पेड़ों की जड़ से व्यक्ति धनवान बन सकता है. भारतीय संस्कृति में कई चमत्कारी पौधों के बारे में बताया गया है. इनके बारे में कई बार हमें जानकारों द्वारा सुनने को मिलता है. लेकिन एक बात याद रखें कि इन पौधों की जड़ें तभी उपयोग में ले जब सूख चुकी हो या फिर का उपयोग ना हो.

तो आज हम आपको उन पांच पौधे की जड़ों के बारे में बताने जा रहे हैं जिसके बारे में बताया गया है कि वे धन और समृद्धि बढ़ाते हैं.

1 .हत्था जोड़ी-

बहुत ही चमत्कारी है इस पौधे की जड़ कुछ ही दिनों में दूर कर देती है धन संबंधी परेशानी, एक बार आजमाकर देखें
हत्था जोड़ी सिद्ध करने के बाद लाल कपड़े में बांधकर तिजोरी में रख दें. इसके बाद इस लाल कपड़े को तिजोरी में रख दें. इससे आय में बढ़ोतरी होती है और व्यक्ति को हर प्रकार के संकटों से भी छुटकारा मिलता है.

2 .मदार की जड़-

रवि पुष्य नक्षत्र में लाई गई मदार की जड़ को दाहिने हाथ में धारण करने से आर्थिक समृद्धि में बढ़ोतरी होती है.

3 .काले धतूरे की जड़-

इसकी जड़ रविवार, मंगलवार या किसी भी शुभ नक्षत्र में घर में लाकर रखने से घर में ऊपरी हवा का असर नहीं होता है, घर में सुख, चैन बना रहता है तथा धन से जुड़ी समस्याएं दूर होती है.

4 .बहेड़ा की जड़-

पुष्य नक्षत्र में बहेड़ा वृक्ष की जड़ तथा उसका एक पत्ता लाकर पैसे रखने वाले स्थान पर रख लें. इस प्रयोग से घर में कभी भी दरिद्रता नहीं रहेगी.

5 .शंखपुष्पी की जड़-

रवि पुष्य नक्षत्र में शंखपुष्पी की जड़ को लाकर चांदी की डीबी में रख दें और उसके बाद उसे घर की तिजोरी में रखें ऐसा करने से आपके घर में धन और समृद्धि बढ़ने लगेगी.

नोट- यह पोस्ट शैक्षणिक उद्देश्य से लिखा गया है. किसी भी प्रयोग से पहले आप योग्य ज्योतिषी की सलाह अवश्य लें. धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments