ज्यादा एंटीबायोटिक दवाओं के सेवन से रोग प्रतिरोधक क्षमता हो सकती है कमजोर, जानें बचाव के उपाय

कल्याण आयुर्वेद- जब भी हमें कोई भी छोटी- मोटी स्वास्थ्य से जुड़ी समस्या होती है, हल्का सा दर्द या घाव आदि हो जाता है तो हमारा शरीर उसे अपने आप ठीक करने में सक्षम होता है. लेकिन आजकल लोग ना तो थोड़ी सी सेहत से जुड़ी समस्या को सहन करना चाहते और ना ही उनके अंदर धैर्य है. छोटी- मोटी परेशानियां होने पर तुरंत ज्यादातर लोग एंटीबायोटिक दवाओं का सेवन करते हैं. अगर आप भी उन्हीं में से एक है तो आपको जानकर हैरानी होगी कि ज्यादा एंटीबायोटिक दवाओं का सेवन करना रोग प्रतिरोधक क्षमता को कमजोर बना सकता है.

ज्यादा एंटीबायोटिक दवाओं के सेवन से रोग प्रतिरोधक क्षमता हो सकती है कमजोर, जानें बचाव के उपाय

इसलिए आप प्रयास करें कि छोटी- मोटी सेहत से जुड़ी समस्या है या हल्का सा दर्द या घाव हो गया है तो आप घरेलू उपायों की मदद से दूर करने का प्रयास करें. एकदम जरूरी पड़ने पर ही आप एंटीबायोटिक का सहारा लें.

बचाव के उपाय-

औषधियां- जब भी आप वायरल या शारीरिक दर्द महसूस करें तो ऐसी आयुर्वेदिक या घरेलू औषधियों का इस्तेमाल करें जिससे आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता प्रभावित ना हो.

पर्याप्त नींद लें- पर्याप्त नींद ना होना आपके दिमाग और शरीर को बेवजह थकावट देता है और आपकी प्रतिरोध क्षमता को भी कम करता है. हर दिन 8 घंटे की नींद आपको स्वस्थ और खुशहाल बनाए रखने में मददगार होगा.

शुगर- शक्कर खाने से मना ही नहीं है, लेकिन अतिरिक्त शकर से भरे खाद पदार्थ जैसे सोडा, एनर्जी ड्रिंक, जूस व अन्य पदार्थों से दूरी बनाए. यह आपकी सेहत का पूरा हिसाब गड़बड़ कर देंगे और रोग प्रतिरोधक क्षमता में कमी भी लाएंगे.

धूप है जरूरी- त्वचा को अगर धूप से बचाते हैं तो विटामिन डी की कमी हो सकती है, धूप लेना रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए फायदेमंद साबित होता है, इसलिए आपको पर्याप्त धूप लेने का नियम बनाना चाहिए.

जिंक- जिंक की पर्याप्त मात्रा का सेवन से भी प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मदद मिलती है. इसके लिए अलग से जिनकी गोलियां खाने के बजाय आप ऐसे खाद्य पदार्थों का सेवन करें जिसमें प्राकृतिक जिंक मौजूद हो.

करें हरे पत्तेदार सब्जियों का सेवन- हरे पत्तेदार सब्जियां या फिर सलाद जैसे खाद पदार्थों का सेवन करें, इन से प्राप्त होने वाले एंजाइम आपके की रोग प्रतिरोधक क्षमता इजाफा करते हैं और हर तरह का पोषण प्रदान करते हैं जिसकी आपको जरूरत होती है.

करें मौसमी फलों का सेवन- नियमित मौसमी फलों का सेवन करना सेहत के लिए फायदेमंद होता है. यह ना सिर्फ हमारे शरीर को सुदृढ़ और मजबूत बनाता है बल्कि रोग प्रतिरोधक क्षमता को भी बेहतर बनाए रखता है.

यह जानकारी अच्छी लगे तो लाइक, शेयर जरूर करें. धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments