काला तिल के इस उपाय से रोगों से मिलती है मुक्ति, खुल जाते हैं भाग्य के द्वार

ज्योतिष शास्त्र- हर किसी की चाहत होती है कि उनका शरीर स्वस्थ रहने के साथ ही भाग्य भी प्रबल हो ताकि उन्हें किसी तरह की परेशानियों का सामना करना ना पड़े. इसके लिए न जाने ज्योतिष के चक्कर में या फिर पंडितों से राय- सलाह लेकर लोग कई तरह के उपाय करते हैं. लेकिन आज हम आपको एक ऐसे उपाय बताने जा रहे हैं जिसकी मदद से आप रोगों से छुटकारा पाने के साथ भाग्यशाली बन सकते हैं.

काला तिल के इस उपाय से रोगों से मिलती है मुक्ति, खुल जाते हैं भाग्य के द्वार

इस उपाय को करने के लिए आपको काले तिल की आवश्यकता होगी.

* यदि प्रतिदिन तांबे के लोटे में शुद्ध जल लेकर उसमें काले तिल डाल कर उसके बाद इस जल से शिवलिंग पर जलाभिषेक करते हैं और ॐ नमः शिवाय मंत्र का जाप करते हैं तो इससे व्यक्ति को रोगों से मुक्ति मिलती है.

* काले तिल का दान करना राहु, केतु और शनि संबंधी कई अशुभ योगों के बुरे प्रभावों से छुटकारा दिलाता है. काले तिल का दान करने से कालसर्प योग, साढ़ेसाती, ढैया, पितृ दोष आदि से भी मुक्ति मिलती है.

* दूध में काले तिल डालकर पीपल की जड़ में अर्पित करें. इससे भाग्यहीन व्यक्ति भी भाग्यशाली बन जाता है.

* प्रत्येक शनिवार काले तिल, काली उड़द को काले वस्त्र में बांधकर किसी गरीब या जरूरतमंद को दान करें. ऐसा करने से पैसों से संबंधित समस्याएं दूर होती है.

* किसी पवित्र नदी में प्रति शनिवार को काले तिल प्रवाहित करें. ऐसा करने से शनि की साढ़ेसाती और शनि दोष शांत होता है.

नोट- यह पोस्ट शैक्षणिक उद्देश्य से लिखा गया है. किसी भी प्रयोग से पहले योग्य ज्योतिषी की सलाह अवश्य लें. धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments