वास्तुशास्त्र- आर्थिक तंगी से परेशान हैं तो घर में इस बात का रखें ध्यान, फिर देखें चमत्कार

वास्तुशास्त्र- जीवन में धन कमाना ही जरूरी नही है बल्कि कुछ धन संगृहीत करना भी आवश्यक होता है ताकि कभी-कभी ऐसे समय आते हैं जिसमे आपको संगृहीत धन काम आता है. लेकिन कई कोशिशों के बाबजूद धन संगृहीत नही कर पाते हैं. किसी न किसी कारण से धन निकल जाता है. अक्सर आपके साथ ऐसा होता है तो आज हम वास्तु के कुछ उपाय बताने जा रहे हैं जो आपको इस समस्या से मुक्ति दिलाने में मदद करेगी.

वास्तुशास्त्र- आर्थिक तंगी से परेशान हैं तो घर में इस बात का रखें ध्यान, फिर देखें चमत्कार
1 .जिस चीज में आप अपना पैसा रखते हों उसे कभी भी दक्षिण दीवाल से सटाकर नहीं रखना चाहिए. चाहे वह तिजोरी हो या आलमारी पुरुब दिशा की ओर आलमारी का मुख होने पर धन की बढ़ोतरी होती है. लेकिन उत्तर दिशा सबसे उपयुक्त मानी जाती है.

2 .नल से पानी का टपकना वास्तु शास्त्र के हिसाब से दरिद्रता का कारण बनता है. इसलिए आपके घर के नल से पानी टपकता हो तो उसे तुरंत ठीक करवाना चाहिए. नल से पानी टपकते रहना आपके धन को धीरे-धीरे कम करने का संकेत होता है.

3 .आप जिस कमरे में सोते हैं उस कमरे के दरवाजे के सामने वाली दिवार के बाएं कोने पर धातु की कोई चीज लटकाकर रखें. वास्तु शास्त्र के अनुसार यह स्थान भाग्य और सम्पति का क्षेत्र होता है. अगर इस दिशा में दिवार में किसी तरह का गढ़ा या फूटा-टुटा हो तो तुरंत मरम्मत करवा देना चाहिए. यह आर्थिक नुकसान का कारण बनता है.

4 .बहुत से लोग अपने घर से पानी की निकासी पर ध्यान नहीं देते छोटे-छोटे कारण ही आर्थिक नुकसान का कारण होता है. वास्तु के अनुसार पानी का निकास दक्षिण या पश्चिम दिशा के तरफ नहीं होना चाहिए. उत्तर या पूरब दिशा पानी निकास के लिए आर्थिक दृष्टि से अच्छा माना जाता है.

Post a Comment

0 Comments