2021 में कब है लोहड़ी, जाने क्यों मनाया जाता है यह त्यौहार ?

लोहड़ी 2021- लोहड़ी पौष के अंतिम दिन सूर्यास्त के बाद यह पर्व मनाया जाता है. प्रायः लोहड़ी का पर्व अंग्रेजी महीने के 13 जनवरी को पड़ता है. लोहड़ी मुख्यतः पंजाबियों का पर्व है और पंजाब एवं हरियाणा में बड़े ही धूमधाम से इस त्यौहार को मनाया जाता है. मकर संक्रांति की पूर्व संध्या पर इस त्यौहार का उल्लास रहता है. रात में खुले स्थान में परिवार और आस पड़ोस के लोग मिलकर आग जलाकर किनारे घेरा बना कर बैठते हैं. इस समय रेवड़ी, मूंगफली, लावा आदि खाए जाते हैं.

क्यों मनाया जाता है यह पर्व?

मान्यता है कि मुगल काल के दौरान पंजाब का एक व्यापारी वहां की लड़कियों और महिलाओं को कुछ पैसे की लालच में बेचने का व्यापार किया करता था. उसके इस आतंक से इलाके में काफी दहशत का माहौल बना रहता था और लोग अपनी बहन- बेटियों को घर से बाहर नहीं निकलने देते थे. लेकिन कुख्यात व्यापारी घरों में घुसकर जबरन महिलाओं और लड़कियों को उठा लिया करता था. महिलाओं और लड़कियों को इस आतंक से बचाने के लिए बुल्ला भाटी नाम के नौजवान शख्स ने उस व्यापारी को कैद कर लिया और उसकी हत्या कर दी.

उस कुख्यात व्यापारी का अंत करने और लड़कियों को उससे बचाने के लिए पंजाब में सभी ने बुल्ला भाटी का शुक्रिया अदा किया और तभी से लोहड़ी का पर्व बुल्ला भाटी के याद में मनाया जाने लगा. उनकी याद में इस दिन लोक गीत भी गाए जाते हैं.

Post a Comment

0 Comments