हर किसी को पता होना चाहिए, डायबिटीज नियंत्रित करने के ये 2 अचूक उपाय

कल्याण आयुर्वेद- आज डायबिटीज एक आम बीमारी बनती जा रही है, जिससे काफी लोग ग्रसित हो रहे हैं, डायबिटीज एक ऐसी बीमारी है जो किसी को एक बार हो जाए तो पूरी जिंदगी उसका साथ नहीं छोड़ता है और डायबिटीज के साथ ही उन्हें पूरा जिंदगी जीना पड़ता है.

हर किसी को पता होना चाहिए, डायबिटीज नियंत्रित करने के ये 2 अचूक उपाय

डायबिटीज खराब लाइफ़स्टाइल, खानपान की गलत आदतें और मोटापा की वजह से होती है. डायबिटीज में ब्लड शुगर लेवल इतना बढ़ जाता है जिससे शरीर की इन्सुलिन प्रोडक्शन पर असर होने लगता है कई बार ऐसा भी होता है कि शरीर एक्टिव रूप से इंसुलिन का इस्तेमाल ही नहीं कर पाती है और यदि डायबिटीज को कंट्रोल करने के उपाय नहीं किया जाए तो यह बीमारी शरीर के अन्य अंगों पर अपना असर दिखाना शुरू कर देता है.

जी हां, डायबिटीज एक ऐसी बीमारी है जिस पर अगर नियंत्रण ना किया जाए तो यह कई बीमारियों और स्वास्थ्य समस्याओं जैसे हाई ब्लड प्रेशर, हार्ट और किडनी रोग, आंखों से जुड़ी समस्याएं आदि होने का खतरा अधिक हो जाता है.

एक्सपर्ट की मानें तो डायबिटीज को कंट्रोल करने के लिए सबसे जरूरी है कि आप अपनी डाइट पर ध्यान दें. एक्सरसाइज को अपने रुटीन में शामिल करें और तनाव से दूर रहें. तनावमुक्त और शांत रहने से आप डायबिटीज को आसानी से नियंत्रित कर सकते हैं. लेकिन साथ ही आप जिन चीजों का इस्तेमाल कर रहे हैं उसके गुणों की जानकारी होना भी बेहद जरूरी है. इसलिए आपको अपने खान-पान के बारे में डाइटिशियन की सलाह जरूर लेनी चाहिए.

आयुर्वेद के अनुसार निम, चिरायता, गिलोय, मेथी, करेला, सौंफ, जामुन, दालचीनी, शिलाजीत, अश्वगंधा, तुलसी, सदाबहार, करी पत्ता जैसे हर्ब डायबिटीज को कंट्रोल करने में मददगार होते हैं. आप इन सभी चीजों को मिलाकर इसका पाउडर बनाकर सेवन कर सकते हैं. लेकिन जरूरी नहीं आप इन सभी चीजों का ही इस्तेमाल करें. आपको इनमें से जितनी भी चीजें मिलती है आप इनका इस्तेमाल कर डायबिटीज को नियंत्रित कर सकते हैं.

डायबिटीज को नियंत्रित करने के 2 अचूक उपाय-

1 .दालचीनी- दालचीनी का इस्तेमाल ज्यादातर घरों में मसाले के रूप में किया जाता है. इसके इस्तेमाल से खाने का स्वाद तो बढ़ता ही है पाचन को भी मजबूत करने के लिए यह जाना जाता है. लेकिन इससे डायबिटीज से प्रभावित लोगों को भी काफी लाभ होता है क्योंकि दालचीनी में इंसुलिन की दक्षता बढ़ाने की क्षमता देखी गई है यानी कि इंसुलिन ब्लड से ग्लूकोज को सेल्स में ले जाने में ज्यादा सक्षम होता है. जी हां, दालचीनी कैल्शियम और फाइबर का एक बेहतर स्रोत होता है. दालचीनी डायबिटीज कंट्रोल करने के लिए एक प्रभावी औषधि है. इसलिए इसे गरीब आदमी का इंसुलिन भी कहा जा सकता है.

2 .मेथी दाना- वैसे तो मेथी दाना का स्वाद थोड़ा कड़वा होता है, लेकिन इससे होने वाले फायदों के बारे में जानकर आपकी सारी कड़वाहट दूर हो जाती है. हरी मेथी डायबिटीज के रोगियों के लिए तो किसी वरदान से कम नहीं है. इसके सेवन से डायबिटीज को नियंत्रित किया जा सकता है. मेथी हमारे ब्लड में शुगर की मात्रा को बैलेंस करती है. इसलिए हाई ब्लड प्रेशर, डायबिटीज, अपच जैसी बीमारी में इसका प्रयोग काफी लाभकारी होता है.

मेथी में ब्लड शुगर लेवल को कम करने की ताकत होती है. साथ ही इसमें काफी मात्रा में फाइबर होता है जो डाइजेशन को तेज करता है. इसके साथ ही यह शरीर के माध्यम से शुगर के इस्तेमाल को भी बेहतर करता है. इसके लिए आपको मेथी को हल्का भून कर पीसकर पाउडर बना लेना चाहिए. अब आधा से एक चम्मच की मात्रा में सुबह खाली पेट सेवन करना चाहिए.

यह जानकारी अच्छी लगे तो लाइक, शेयर जरूर करें. धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments