जानें-पौरुष शक्ति बढ़ाने के 9 घरेलू नुस्खे

कल्याण आयुर्वेद- आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में अनियमित खानपान, खानपान में पौष्टिक तत्वों की कमी और तनाव आदि पुरुष शक्ति को कमजोर बना देते हैं. जिसके वजह से नपुंसकता, शीघ्रपतन, स्वप्नदोष, धातु दोष वीर्य में शुक्राणु की कमी जैसी समस्या उत्पन्न होती है. जो शादीशुदा जिंदगी को प्रभावित करती है. आजकल ज्यादातर लोग धूम्रपान, शराब आदि का इस्तेमाल करते हैं एवं खानपान में डिबा पैकिंग चीजों का इस्तेमाल ज्यादा करना पसंद करते हैं. जिसमें पौष्टिकता नहीं के बराबर होती है जो शरीर को कमजोर बना देता है और पुरुष शक्ति प्रभावित होती है.

पौरुष शक्ति कमजोर होने के कारण-

अनियमित खानपान एवं खानपान में पौष्टिक तत्वों की कमी

धूम्रपान शराब जैसी चीजों का अत्यधिक सेवन करना

* अत्यधिक तनाव लेना.

* महिला के प्रति ज्यादा आकर्षण का होना और हमेशा sex विषय में सोचना.

* हस्तमैथुन करना याद गुदामैथुन करना.

* शीघ्रपतन या स्वप्नदोष की समस्या.

* मोटापा अधिक होने के कारण.

* मधुमेह, पुराना बुखार, टाइफाइड, दमा, अर्थराइटिस, जननांगों में संक्रमण तथा एड्स के कारण व्यक्ति के अंदर मर्दाना ताकत की कमजोरी आ जाती है.

* इसके अलावे आजकल इलेक्ट्रॉनिक्स चीजें का ज्यादा प्रयोग जैसे- मोबाइल, लैपटॉप जांघ पर रखकर चलाना आदि.

तो चलिए जानते हैं पौरुष शक्ति बढ़ाने के घरेलू नुस्खे-

1 .सेब-


पुरुष शक्ति बढ़ाने में सेव बहुत ही मददगार होता है. इसके लिए एक बड़े आकार का सेब लीजिए. अब उस सेब में लौंग लेकर चारों तरफ से जितना लग सके लगाकर इसे 1 सप्ताह के लिए किसी बर्तन में रहकर ढककर छोड़ दीजिए 1 सप्ताह बाद लौंग निकालकर अलग बोतल में भरकर रख लें. ठीक इसी तरह एक नींबू लीजिए और लोंग लगाकर छोड़ दीजिए फिर 1 सप्ताह बाद इसे भी निकाल कर किसी शीशी में रख लीजिए. अब इस मे से दो लौंग नींबू वाला निकाल कर पीसकर इसे गाय के दूध में मिलाकर सेवन कीजिए. दूसरे दिन सेब वाला लौंग दूध में मिलाकर सेवन कीजिए. इसी तरह अदल- बदल कर सेवन करने से पुरुष शक्ति में बढ़ोतरी होती है. अगर गाय के दूध की जगह बकरी का दूध मिले तो अति उत्तम है.
2 .आंवला-
पुरुष शक्ति बढ़ाने में आंवला बहुत ही मददगार होता है. इसके लिए आंवला को सुखाकर पीसकर पाउडर बना लें. अब इस पाउडर में से एक चम्मच निकालकर शुद्ध शहद के साथ मिलाकर सुबह-शाम पानी या दूध के साथ सेवन कीजिए. इसके नियमित सेवन करने से धीरे-धीरे पुरुष शक्ति बढ़ती चली जाएगी.

3 अश्वगंधा चूर्ण-
अश्वगंधा और विदारीकंद बराबर मात्रा में लेकर पीसकर पाउडर बना लें. यही अश्वगंधा चूर्ण होता है. अब इस चूर्ण को एक चम्मच की मात्रा में सुबह- शाम दूध के साथ सेवन करें. इसके नियमित सेवन करने से वीर्य गाढ़ा बनाता है एवं शीघ्रपतन की समस्या से छुटकारा मिल जाती है. जिससे पुरुष शक्ति में बढ़ोतरी होती है.

4 .अजवाइन-
100 ग्राम अजवायन लें. अब इसे सफेद प्याज के रस में भिगोकर सुखा लें. सूखने के बाद इसे फिर से प्याज के रस से भिगो कर सूखा लें. इस प्रकार 3 से 4 बार करें. इसके बाद सुखाकर इसे पीसकर पाउडर बनाकर सुरक्षित रख लें. अब इस पाउडर में से आधा चम्मच और मिश्री का पाउडर आधा चम्मच मिलाकर सुबह-शाम सेवन करें. एवं ऊपर से दूध पी लें. तकरीबन इस चूर्ण को 1 महीने तक प्रतिदिन सेवन करने से पुरुष शक्ति बढ़ती है. अगर इस दौरान ब्रह्मचर्य का पालन किया जाए तो हंड्रेड परसेंट यह कारगर नुस्खा है.
5 .छुहारा-
पुरुष शक्ति बढ़ाने में छुहारा सबसे बेहतर उपाय है. इसके लिए प्रतिदिन सुबह खाली पेट दो छुहारा खाकर ऊपर से एक चम्मच शहद मिलाकर एक गिलास दूध पी लें. नियमित ऐसा करने से पुरुष शक्ति में बढ़ोतरी होती है या एक चौड़े मुंह वाली बोतल लें. अब इसमें छुहारा बीज निकाल कर डाल दें. इसके बाद ऊपर से इतना शहद डालें कि वह अच्छी तरह डूब जाए. अब इसे 2 दिन के लिए छोड़ दें. इसके बाद इसमें से एक से दो छुहारा निकालकर सुबह खाली पेट चबाकर खाएं और ऊपर से दूध पी लें. यह पुरुष शक्ति बढ़ाने के लिए बहुत ही फायदेमंद चीज है.
6 .इमली का बीज-
अक्सर लोग इमली खाकर इमली के बीज को फेंक देते हैं. लेकिन आपको बता दें कि यह पुरुषों के लिए बहुत फायदेमंद चीज होती है. पुरुष शक्ति बढ़ाने में इसका अहम रोल होता है. इसके लिए आधा किलो इमली का बीज लाए. अब इसे रात को पानी में डालकर छोड़ दे. सुबह इसका छिलका उतार कर फेंक दे और सफेद बीज को सुखाकर खरल में या मिक्सिंग में पीसकर पाउडर बना लें और इसे सुरक्षित रख लें. अब आधा चम्मच इस पाउडर को लें और उतना ही मात्रा में पीसी हुई मिश्री मिलाकर सेवन करें एवं ऊपर से दूध पी लें. इस बेहतर उपाय से 1 सप्ताह में आपको फायदा नजर आने लगेगा.

7 .कौंच बीज-

100 ग्राम कौंच बीज और 100 ग्राम दरियाई ताल मखाना लेकर पीसकर पाउडर बना लें. अब इसमें पाउडर के बराबर मिश्री का पाउडर मिलाकर सुरक्षित रख लें. अब इस पाउडर में से एक चम्मच की मात्रा में प्रतिदिन सुबह खाली पेट सेवन कर गाय का दूध पिए. इसके सेवन करने से वीर्य गाढ़ा हो जाता है. शीघ्रपतन एवं स्वप्नदोष की समस्या दूर होती है.
8 .तुलसी का बीज-


15 ग्राम तुलसी का बीज 30 ग्राम, सफेद मूसली 30 ग्राम, कौंच का बीज 30 ग्राम, सतावर 30 ग्राम, अश्वगंधा सभी को लेकर कूट पीसकर चूर्ण बना लें. अब सभी के बराबर मिश्री का पाउडर मिलाकर सुरक्षित रख लें. इस पाउडर में से 5 ग्राम की मात्रा में सुबह-शाम गाय के दूध के साथ नियमित सेवन करें. इसके सेवन करने से शारीरिक दुर्बलता दूर होती है. साथ ही स्वप्नदोष, शीघ्रपतन जैसी समस्या दूर हो कर नामर्दी दूर हो जाती है.

9 .हल्दी-

एक चम्मच हल्दी का पाउडर एक चम्मच शहद के साथ मिलाकर सुबह खाली पेट सेवन करने से संभोग शक्ति में वृद्धि होती है. अगर हो सके तो इसके सेवन करने के बाद गाय का दूध पीना अधिक उत्तम होता है.

Post a Comment

0 Comments