शरीर में ये लक्षण दिखाई दे तो हो सकता है ब्लड कैंसर, न करें नजरअंदाज

कल्याण आयुर्वेद- आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी, बदलती लाइफस्टाइल और गलत खान-पान के कारण लोगों को कई बीमारियों का सामना करना पड़ रहा है. जिसमें से एक है ब्लड कैंसर यानी ल्यूकेमिया. ब्लड कैंसर के मरीजों की संख्या दिनों दिन बढ़ती ही जा रही है. यह किसी भी उम्र के व्यक्तियों को हो सकता है. लेकिन 30 साल के बाद इस बीमारी के होने का संभावना अधिक होता है. ब्लड कैंसर के मरीजों को शुरुआती में इसके लक्षणों का पता नहीं चलता है. जिसके कारण यह बीमारी गंभीर रूप ले लेती है. इसलिए हर किसी को इसके शुरुआती लक्षणों की जानकारी होनी चाहिए. ताकि समय रहते इसका इलाज कर इस बीमारी से बचा जा सके. इसलिए आज हम इस पोस्ट के माध्यम से शरीर में कुछ आए बदलाव जो ब्लड कैंसर की ओर संकेत करता है के बारे में बताने जा रहे हैं.

शरीर में ये लक्षण दिखाई दे तो हो सकता है ब्लड कैंसर, न करें नजरअंदाज  
चलिए जानते हैं लक्षणों के बारे में-

1 .एनीमिया या बुखार- ब्लड कैंसर के शुरुआती स्टेज में आपको एनीमिया, हल्का बुखार जैसे संकेत दे सकते हैं. हर समय थकावट, कमजोरी रहना ब्लड कैंसर का संकेत होते हैं.
2 .गले में सूजन होना- ब्लड कैंसर होने पर गले या अंडरआर्मस में हल्का दर्द के साथ सूजन आ जाती है. इसके अलावा अगर आपके पैरों में लगातार सूजन और सीने में जलन रहती है तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए. क्योंकि यह ब्लड कैंसर के शुरुआती लक्षण है.
3 .रक्त स्राव होना- अगर आपके मुंह, नाक, शौच के समय रक्त हो रहा है तो इसे नजरअंदाज बिल्कुल ना करें. इसके बारे में सचेत होकर जल्दी से डॉक्टर के पास जाएं और ब्लड कैंसर की जांच करवाएं.
4 .न्यूमोनिया होना- बार-बार न्यूमोनिया होना, मुंह में घाव हो जाना, त्वचा पर रैशेज, सिर में दर्द होना, हल्का बुखार या गले में इन्फेक्शन होने को नजरअंदाज ना करें. इस तरह के लक्षण दिखने पर आपको तुरंत चेकअप करवाना चाहिए. यह ब्लड कैंसर के लक्षण हो सकते हैं.
5 .वजन कम होना- अचानक वजन का कम होना या भूख नहीं लगना ब्लड कैंसर का संकेत होता है. जिन लोगों को कैंसर होता है उनका वजन असामान्य रूप से कम होने लगता है. अगर बिना वजन कम करने के कोई प्रयास के यदि आपका वजन कम हो जाए तो यह ब्लड कैंसर का शुरुआती लक्षण हो सकता है. इसलिए तुरंत डाक्टर से जांच करानी चाहिए.
6 .बार-बार संक्रमण का होना- ब्लड कैंसर से ग्रस्त व्यक्ति को बार-बार संक्रमण हो जाती है. जब शरीर में ल्यूकीमिया के सेल विकसित होते हैं तो रोगी के मुंह, गले, त्वचा, फेफड़ों आदि में संक्रमण की शिकायत होती रहती है.
7 .लिंफ नोड्स का बढ़ना- लिंफ नोड्स में या गले में सूजन या गांठ पड़ जाती है. लिंफ नोड्स में परिवर्तन होना भी ब्लड कैंसर की ओर इशारा करता है. इसलिए बिना देर किए आपको डॉक्टर से मिलना चाहिए.
8 .सोते समय पसीना- अगर मौसम सही है फिर भी यदि आपको रात को सोते समय खूब पसीना आए तो इसे नजरअंदाज ना करें यह ब्लड कैंसर का संकेत है.
9 .शरीर पर निशान पड़ना- खून में प्लेटलेट्स की संख्या कम हो जाना भी ब्लड कैंसर का लक्षण हो सकता है. प्लेटलेट्स की संख्या कम होने के कारण त्वचा के नीचे छोटी रक्त वाहिकाए टूट जाती है. जिसके कारण शरीर पर नीले या बैगनी रंग के निशान पड़ जाते हैं.
9 .थकावट महसूस होना- ब्लड कैंसर के दौरान शरीर में हीमोग्लोबिन की संख्या बहुत तेजी से कम होने लगती है और ऑक्सीजन शरीर की अंगों तक सही मात्रा में नहीं पहुंच पाती है. इस वजह से शरीर के सभी अंग काम करना बंद कर देते हैं. जिससे थकावट महसूस होने लगती है.
10 .हड्डियों और जोड़ों में दर्द रहना- हड्डियों और जोड़ों में दर्द रहना सिर्फ अर्थराइटिस ही नहीं है. बल्कि यह ब्लड कैंसर का लक्षण भी हो सकता है. ब्लड कैंसर अस्थि मजा में होने वाला रोग है जो की हड्डियों और जोड़ों के आसपास ज्यादा मात्रा में पाया जाता है. यह मेरू में सफेद रक्त कोशिकाओं की मात्रा बढ़ जाने की वजह से होता है.
11 .पेट की समस्या बने रहना- ब्लड कैंसर होने पर असामान्य सफेद रक्त कोशिकाएं लीवर में जमा होने से एकत्र हो जाती है. जिससे पेट में सूजन और अन्य समस्याएं होने लगती है. इस तरह की सूजन से आपकी भूख कम हो जाती है. थोड़ा सा खाने पर भी आपका पेट भरा लगने लगता है. ऐसे में आपको डॉक्टर से जरूर संपर्क करना चाहिए.

Post a Comment

0 Comments