जानें- थायराइड की बीमारी को ठीक करने के रामबाण आयुर्वेदिक इलाज

कल्याण आयुर्वेद- आजकल के लाइफस्टाइल में थायराइड एक आम समस्या हो गई है. जिससे बहुत सारे लोग परेशान हैं. थायराइड एक किस्म का हार्मोन होता है जो हमारे थायराइड ग्लैंड शरीर से आयोडीन लेकर इन्हें बनाते हैं. मेटाबॉलिज्म को बनाए रखने के लिए यह हार्मोन जरूरी होते हैं. जब गलैंड्स किसी वजह से ज्यादा हार्मोन का निर्माण करने लगते हैं तो उसे हम थायराइड बीमारी के नाम से जानते हैं. थायराइड का बड़ा होना बड़ी दिक्कत देता है. थायराइड से सबसे ज्यादा महिलाएं शिकार होती हैं. इससे शरीर का वजन बढ़ने के साथ-साथ बेचैनी, भरपूर, नींद नहीं आना, पीरियड प्रॉब्लम, दिल की धड़कन बढ़ना जोड़ों और मांसपेशियों में दर्द जैसी समस्या उत्पन्न होती है.

Copyright Holder: suman beauty
इसके सही और उचित इलाज के लिए डॉक्टर की सलाह लें. उनके अनुसार दवाओं का सेवन करें. यह उतनी बड़ी बीमारी नहीं है कि इसे नियंत्रित न किया जा सके. इसके अलावा आपको अपने खान-पान पर विशेष ध्यान रखना आवश्यक है. जिससे अधिक थायराइड पैदा होने वाली परेशानियों से मुक्ति मिले.
Copyright Holder: suman beauty
थायराइड में इन चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए.
कैफीन
कैफीन का सेवन वैसे तो सीधे थायराइड को नहीं बढ़ाता है. लेकिन यह उन परेशानियों को बढ़ा देता है जो थायराइड की वजह से पैदा होती है. जैसे- बेचैनी और नींद में खलल. इसलिए आप कैफीन से दूरी बनाकर रखें तो आपके लिए बेहतर होगा.
आयोडीन वाला पदार्थ-
पहले ही बताया गया है कि थायराइड ग्रंथ हमारे शरीर से आयोडीन लेकर थायराइड हार्मोन को पैदा करते हैं. ऐसे में जो लोग थायराइड से परेशान हैं. उन्हें ऐसे खाने से परहेज करना चाहिए. जिसमें ज्यादा मात्रा में आयोडीन मौजूद हो सीफूड और आयोडीन वाले नमक को परहेज रखना चाहिए.
वनस्पति घी-
हम इसे आमतौर पर डालडा बोलते हैं. इसकी को दरअसल वनस्पति तेल को हाइड्रोजन में से गुजार कर तैयार किया जाता है. इस घी का इस्तेमाल खाने-पीने की दुकानों में जमकर होता है. इससे अच्छे कोलेस्ट्रोल बाधित होता है और बुरे बढ़ते हैं. बढे थायराइड से जो परेशानियां होती है उन्हें या बढ़ा देते हैं.
रेड मीट-
रेड मीट में कोलेस्ट्रॉल और सैचुरेटेड फैट अधिक होता है जिस वजह से शरीर का वजन तेजी से बढ़ता है थायराइड वाले को एक तो वैसे ही आगे की ओर भागता है इसके अलावा रेड मीट खाने से थायराइड के रोगियों को बदन में जलन की समस्या होने लगती है आप चिकन वगैरह ले सकते हैं चिकन की चेस्ट में अच्छा प्रोटीन होता है और उसे फैट बढ़ने की समस्या नहीं होती है
थायराइड मरीजों के लिए रामबाण आयुर्वेदिक उपाय-
त्रिफला चूर्ण-
त्रिफला चूर्ण को एक चम्मच की मात्रा में रात को खाना खाने के बाद और सोने से आधे घंटे पहले एक चम्मच की मात्रा में गुनगुने पानी के साथ सेवन करने से थायराइड की समस्या से निजात मिलती है
अमृतादी गूगल-
यह दवा यह दवा आयुर्वेदिक दवा दुकानों पर आसानी से मिल जाती है थायराइड को दूर करने के लिए अमृतादी गूगल दे दो गोली सुबह शाम गर्म पानी के साथ सेवन करने से थायराइड की समस्या से निजात मिलती है. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि अमृतादी गूगल और त्रिफला चूर्ण के नियमित सेवन करने से थायराइड की समस्या से निजात पाया जा सकता है इसके लिए इसका सेवन लंबे समय तक करना होगा
हम उम्मीद करते हैं कि यह जानकारी आपको जरूर अच्छी लगी होगी. अगर अच्छी लगी हो तो लाइक, शेयर करें और कमेंट में जरूर बताएं यह जानकारी आपको कैसी लगी.
आपका दिन शुभ हो. धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments