नियमित रूप से घर में करें इस मंत्र का जाप, कुबेर की तरह बन जाएंगे धनवान

ज्योतिष शास्त्र- कुबेर भगवान को धन के देवता के रूप में जाना जाता है और यह आपसे प्रसन्न हो जाते हैं तो आपको रुपए- पैसों की या किसी भी तरह की सुख- सुविधा की कमी नहीं होगी. कुबेर भगवान को पूजने के लिए आपको यह मंत्र बहुत ही फलदायक माना गया है. ज्योतिष शास्त्र के अनुसार इस मंत्र का पूरी श्रद्धा और भाव के साथ जप करने से आपकी सभी मनोकामना भगवान कुबेर जरूर पूरी करते हैं.

नियमित रूप से घर में करें इस मंत्र का जाप, कुबेर की तरह बन जाएंगे धनवान

चलिए जानते हैं विस्तार से-

* यदि भगवान कुबेर आपसे प्रसन्न हैं तो धन संबंधित कोई भी नुकसान आपको हो ही नहीं सकता है और आपके ऊपर उनकी कृपा हमेशा बनी रहती है. जिसके कारण आपके घर में कभी धन की कमी हो ही नहीं सकती.

* इस मंत्र का नियमित जाप करने से पारिवारिक और आर्थिक दोनों ही क्षेत्रों में सफलता प्राप्त होती है. नकारात्मकता आपके घर में प्रवेश कर ही नहीं सकती है.

* इस मंत्र का जाप करना रावण संहिता में बहुत ही फलदाई बताया गया है और इसे पढ़ने की बात कही गई है. जिससे कुबेर भगवान की कृपा प्राप्त होती है.

* इस मंत्र का जाप करते समय मन में किसी भी प्रकार की द्वेष भावना, छल, क्रोध आदि का वास नहीं होना चाहिए. अगर आपके मन में एकाग्रता नहीं है तो इस मंत्र का जाप कारगर साबित नहीं होता है.

* सुबह के समय स्नान आदि के बाद इस मंत्र का जाप पूजा के स्थान पर बैठकर करना चाहिए और यह भी ध्यान रखें कि जहां पूजा कर रहे हैं वहां का वातावरण बिल्कुल ही शांत हो.

मंत्र इस प्रकार है-

ॐ यक्षाय कुबेराय वैश्रवाणाय, धन धन्याधिपतये !

धन धान्य समृद्धि में देहि दापय स्वाहा !

* इस मंत्र का जाप करते समय पूजा के स्थान पर 5 या 7 कौड़ी रखणा शुभ मानी गई है. कौड़ी का उपयोग लक्ष्मी जी की पूजा में भी किया जाता है.

* इस मंत्र का जाप नियमित रूप से करते रहें, आपको स्वयं ही अपनी जिंदगी में इसका असर दिखना शुरू हो जाएगा और सकारात्मक प्रभाव के कारण मन भी प्रसन्न रहेगा.

* 40 दिन तक नियमित इस मंत्र का जाप करने के बाद रखी हुई कौड़ियों को पैसे रखने वाले स्थान पर रखें और मंत्र का जाप नियमित रूप से करते रहें.

* अगर आप अधिक बार इस मंत्र का जाप प्रतिदिन नहीं कर सकते हैं तो कम से कम 11 बार तो आसानी से किया जा सकता है.

नोट- यह पोस्ट शैक्षणिक उद्देश्य से लिखा गया है, अधिक जानकारी के लिए योग्य ज्योतिष की सलाह लें. धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments