प्रसव के बाद पेट और वजन कम करने के बेहतर घरेलू उपाय

कल्याण आयुर्वेद-प्रसव के बाद महिलाएं घर से बाहर कम निकलती हैं.क्योंकि बच्चे का देखभाल करना उनकी जिम्मेदारी हटी है.साथ ही बच्चे को दूध पिलाना होता है.इसलिए औरों के मुकाबले प्रसव के बाद महिला को निकला पेट अन्दर करना और वजन कम करना थोडा मुश्किल होता है.महिलाएं माँ बनाने के बाद वजन कम करने के लिए वे तरीके नही अपना सकती है जो सामान्य महिला अपनाती है.तो आज हम इस पोस्ट के माध्यम से बताने जा रहे हैं प्रसव के बाद निकला पेट अन्दर और वजन कम करने के बेहतर उपाय के बारे में.

प्रसव के बाद पेट और वजन कम करने के बेहतर घरेलू उपाय 
तो चलिए जानते हैं विस्तार से-

प्रसव के बाद महिलाओं को शरीर को सही शेप में लाना थोडा मुश्किल तो है लेकिन उतना भी मुश्किल नही है जो नही किया जा सकता है.अगर आप प्रसव के बाद वजन और पेट कम करना चाहती हैं तो एक बात यद् रखने की जरुरत है.इस काम में थोडा वक्त लगेगा.इसलिए अप पेट को अन्दर और वेट घटाने के लिए छोटे-छोटे लक्ष्य बनायें.

इसके अलावा आप इन बातों को ध्यान रखें अगर आपकी नार्मल डिलेवरी नही हुई है ऑपरेशन हुई है तो पेट और वजन घटने की जल्दी बजी नही करें.बल्कि पहले शरीर को रिकवर होने दें.इसके बाद वेट घटाने की सोचें.क्योंकि आपके बच्चे और आपको बुरा असर पड़ सकता है.

प्रसव के बाद मोटापा बढ़ने के कारण-
*गर्भावस्था के समय शरीर में कई बदलाव होते हैं.जिसमे पाचन क्रिया में बदलाव आता है.जिस वजह से महिला का वजन बढ़ता है.
*गर्भावस्था के दौरान शारीरिक श्रम कम हो जाता है.जिस वजह से कैलोरी बर्न नही होने पाती है.जिस वजह से वजन बढ़ने लगता है.
*गर्भवस्था के दौरान महिला की डाईट बढती है जिससे कैलोरी भी बढ़ता है जिस वजह से मोटापा होता है.
*गर्भावस्था के दौरान कई विटामिन्स,मिनरल्स का लोग इस्तेमाल करते है.इस वजह से भी वजन बढ़ता है.
*मोटापा बढ़ने का कारण थाइराइड का बढ़ना भी हो सकता है.
प्रसव के बाद पेट और वजन कम करने के बेहतर उपाय-
*प्रेगनेंसी के बाद वजन कम करना है तो पहले अपनी डाईट चार्ट बनायें.अपने आहार में प्रयाप्त मात्रा में प्रोटीन लें.क्योंकि यह भूख को नियंत्रित करता है.वीनस,डाल अंडे में प्रोटीन ज्यादा मात्रा में होता है.इसके साथ ही ब्रेकफास्ट में दलीय खाएं इसमें आयरन और फाइबर भरपूर होता है.
*वजन कम करने के लिए बेहतर होता है आप भोजन एक बार में भर पेट करने के वजाय टुकड़ों में करके खाएं.इस बात का ध्यान रखें भोजन को जीता ज्यादा चबा-चबा कर खायेंगी पाचन अच्छा होगा.
*पानी अधिक मात्रा में पिएं.पानी हमारे शरीर में मेटाबोलिज्म बढाता है जिस वजह से चर्बी कम करने में मदद मिलती है.जेनरल पानी की अपेक्षा गुनगुना पानी का सेवन बेहतर होगा.
*प्रेगनेंसी के बाद वजन कम करने के लिए डिब्बा बंद आहार खाने की वजाय घर में ताजा और पक्का हुआ खाना खाएं.
*बच्चे को दूध पिलाने से शरीर में मिनरल्स और विटामिन्स की कमी हो सकती है.इसलिए इसकी पूर्ति के लिए अपने आहार में फल सब्जियां जरुर खाएं.सब्जियों में गाजर,वीनस,ब्रोकली,शलगम कद्दू शामिल करें और फलों में अंगूर,संतरा,अमरुद स्ट्राबेरी खा सकती हैं.फल हमेशा ताजा खाएं ज्यादा देर का फ्रिज में रखा नही खाना चाहिए.
*गर्भावस्था के बाद पेट और वजन कम करने के लिए.फास्टफूड खाने से बचें.हेल्दी चीजें खाएं.गेहूं का बिस्कुट,सुखा मेवा,अखरोट मुनक्का और ड्राई फ्रूट खाएं.
*वजन और पेट कम करने के लिए भरपूर नींद लेना जरुरी होता है.इसलिए नींद पूरी करें.
*तनाव में रहने से शरीर पर बुरा असर पड़ता है इसलिए तनाव मुक्त रहें
*1 चम्मच शहद,आधा चम्मच कालीमिर्च पाउडर,और आधा चम्मच अदरख का रस एक गिलास गुनगुने पानी में मिलाकर सुबह खाली पेट सेवन करें.इससे पेट कम करने के साथ शरीर में ताकत मिलती है.
*दालचीनी 2 से 3 इंच,लौंग 2 से 3 लें और 7 गिलास पानी में डालकर थोड़ी देर उबालें.फिर छानकर रख लें.इसे सर्दी के मौसम में गुनगुना और गर्मी में ठंढा करके पियें.इस पानी में स्वादानुसार शहद भी मिला सकते है.जब भी पानी पीने का मन करे इसी पानी को पियें.इस उपाय को नियमित करने से 1 महीने में चर्बी कम होने लगेगी.
*इसके अलावा अगर प्रसव के बाद पेट की चर्बी कम करने के लिए एक दुपट्टा लें और पेट के चारो तरफ लपेट कर रखें.और अपना नियमित खान-पान और काम करते रहें धीरे-धीरे लटका हुआ पेट अन्दर चला जायेगा.
हम आशा करते हैं की यह जानकारी अच्छी लगी होगी.अगर अच्छी लगी हो तो लाइक,कमेन्ट और सहेलियों को जरुर शेयर करें.जिंदगी में जरुर काम आयेगी.धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments