शोधकर्ताओं ने किया दावा- कोविड-19 संक्रमण बढ़ने से रोकेगी डिप्रेशन की दवा

कल्याण आयुर्वेद- अभी भी कोरोना संक्रमण महामारी का दौर जारी है और इससे बचाव के लिए डॉक्टर, वैज्ञानिक शोध में जुटे हुए हैं वही अब कोरोना वैक्सीन भी आ चुकी है. इसी बीच वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि कोविड-19 संक्रमण बढ़ने से रोकने में डिप्रेशन की दवा मददगार है.

शोधकर्ताओं ने किया दावा- कोविड-19 संक्रमण बढ़ने से रोकेगी डिप्रेशन की दवा

एक नए अध्ययन में दावा किया गया है कि डिप्रेशन के इलाज में उपयोग की जाने वाली एंटीडिप्रेसेंट दवा फ़्लूवोक्सामाइन कोरोना संक्रमण को बढ़ने से रोक सकती है.

शोधकर्ताओं ने कहा है कि इसके प्रयोग से हल्के संक्रमण को गंभीर होने से रोका जा सकता है. शोधकर्ताओं ने कहा है कि पशु और कोशिका अध्ययन से प्राप्त डाटा के आधार पर इसकी पुष्टि की गई है.

यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया के शोधकर्ताओं ने श्रमिकों पर इसका परीक्षण किया. उन्होंने 2 सप्ताह तक डिप्रेशन की दवा का प्रयोग किया, इसमें पाया गया कि जिन कोरोना के हल्की लक्षणों वाले श्रमिकों ने फ़्लूवोक्सामाइन लेने का विकल्प चुना उनमें से कोई भी अधिक बीमार नहीं हुआ, बल्कि 2 सप्ताह में उनके लक्षण खत्म हो गए.

इनकी तुलना में इस दवा का उपयोग न करने वाले लोगों कई गंभीर संक्रमण से ग्रसित हो गए, उनका हल्का कोरोना संक्रमण गंभीर हो गया और वे इतना अधिक बीमार हो गए कि उन्हें सांस लेने में परेशानी होने लगी जिसकी सहायता के लिए वेंटीलेटर पर रखा गया था. इनमें से एक ने अस्पताल में दम तोड़ दिया.

इस अध्ययन के निष्कर्षों को ओपन फोरम क्रिटिकल डिजीज में प्रकाशित किया गया है.

स्रोत- हिंदुस्तान

Post a Comment

0 Comments