कड़वे करेले के बीज, जड़ और पत्तियां होती है स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद, जानें इस्तेमाल करने का तरीका

कल्याण आयुर्वेद- करेले का सेवन स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है यह तो आप सभी ने सुना होगा. लेकिन क्या आप जानते हैं कि करेला और उसका जूस ही नहीं बल्कि करेले के बीज और पत्तियां भी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होती हैं. आज के पोस्ट में हम आपको इनका इस्तेमाल करने का तरीका तथा इनके फायदे बताएंगे.

कड़वे करेले के बीज, जड़ और पत्तियां होती है स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद, जानें इस्तेमाल करने का तरीका 

तो आइए जानते हैं विस्तार से-

इस तरह से करें इनका इस्तेमाल-

* पेट में कीड़े होने पर- 2-3 ग्राम करेले के बीज को पीसकर इसका सेवन करने से कीड़ों से छुटकारा मिलता है. यदि आपको बीज ना मिले तो उसके लिए आप 10 से 12 मिलीग्राम करेले के पत्ते का रस सेवन कर सकते हैं. इससे भी आपको फायदा मिलेगा.

* जुकाम और कफ की दिक्कत होने पर- आप 5 ग्राम करेले की जड़ को पीसकर इसमें शहद मिलाकर इसका सेवन करें. यदि आप शहद नहीं मिलाना चाहते हैं तो इसमें 5 ग्राम तुलसी के पत्तों का रस मिलाकर भी इसका सेवन कर सकते हैं.

* गले में सूजन की दिक्कत को दूर करने के लिए- सूखे करेले को पीसकर सिरके में मिलाएं, उसको हल्का गर्म करके गले पर लेप करने से सूजन से राहत मिलती है.

* हैजा के लिए- हैजा होने की परेशानी में करेले की जड़ का सेवन करना बहुत फायदेमंद होता है. इसके लिए 20 ग्राम करेली की जड़ लेकर इसका काढ़ा बनाएं. इसमे तिल का तेल मिलाकर इसका सेवन करें.

* पेट में पानी होने पर- पेट में पानी भर जाने यानी जलोदर रोग हो जाने की स्थिति में 10 से 15 मिलीग्राम करेले के पत्ते पीसकर उसका रस निकालकर शहद मिलाकर पीने से आराम मिलता है.

* मासिक धर्म के लिए- मासिक विकार में भी करेले का सेवन करना फायदेमंद होता है. इसके लिए 10- 15 करेले के पत्ते का रस निकालकर इसमें काली मिर्च के दाने पीसकर मिलाएं साथ ही इसमें आधा चम्मच पीपल का चूर्ण और 1 ग्राम सोंठ मिलाकर पीने से फायदा होगा.

आपको यह जानकारी कैसी लगी हमें कमेंट में जरूर बताएं और अगर जानकारी अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट को लाइक तथा शेयर जरूर करें. धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments