हाई कोलेस्ट्रोल को प्राकृतिक रूप से कम करने के घरेलू उपाय

कल्याण आयुर्वेद- आज के समय में कोलेस्ट्रोल लोगों के बीच एक आम समस्या बनती जा रही है, जिससे स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है. आज हम इस पोस्ट के माध्यम से कोलेस्ट्रोल को प्राकृतिक रूप से कम करने के उपाय के बारे में बात करेंगे.

हाई कोलेस्ट्रोल को प्राकृतिक रूप से कम करने के घरेलू उपाय

चलिए जानते हैं विस्तार से-

क्या होता है कोलेस्ट्रॉल?

कोलेस्ट्रोल एक वसा होता है. यह हमारे लिवर द्वारा उत्पन्न होता है. इंसान के शरीर को सुचारू रूप से काम करने के लिए कोलेस्ट्रोल की आवश्यकता होती है. दरअसल इंसान के शरीर की प्रत्येक कोशिका को जीवित रहने के लिए इसकी जरूरत होती है. कोलेस्ट्रोल एक मोम जैसा चिकना पदार्थ होता है जो इंसान को ब्लड प्लाजमा द्वारा शरीर के विभिन्न हिस्सों में पहुंचाता है.

कोलेस्ट्रोल दो तरह के होते हैं- एलडीएल ( लो डेंसिटी लिपॉप्रोटीन ) और एच डी एल ( हाई डेंसिटी लिपॉप्रोटीन )

शरीर में कोलेस्ट्रोल का काम क्या है?

कोलेस्ट्रोल कोशिकाओं की बाहरी परत का निर्माण करता है और उसका रखरखाव भी करता है. यह इस बात का ध्यान रखता है कि कौन से अणु कोशिकाओं में प्रवेश करें और कौन से नहीं.

कोलेस्ट्रॉल बढ़ने के कारण-

कोलेस्ट्रोल बढ़ने की निम्न कारण हो सकते हैं? जैसे- गलत खान-पान, अधिक शराब का सेवन, जंक फूड- फास्ट फूड का अधिक सेवन, मोटापा, धूम्रपान, शारीरिक श्रम नहीं करना, खाने के साथ पानी पीना, अनियमित दिनचर्या, उच्च रक्तचाप, ठंडे चीजों का अधिक सेवन करना इत्यादि.

कोलेस्ट्रॉल बढ़ने के लक्षण-

कोलेस्ट्रोल बढ़ने के लक्षणों में सांस फूलना, थकावट होना, ज्यादा पसीना आना, पैरों में लगातार दर्द रहना, सिर में तेज दर्द का होना, लगातार और अचानक वजन बढ़ाना, स्किन टैग या बाईल निकलना, ब्लड प्रेशर, जोड़ों में दर्द, सीने में दर्द या बेचैनी होना, हृदय की धड़कन तेज होना इत्यादि लक्षण कोलेस्ट्रोल की ओर इशारा करते हैं.

कोलेस्ट्रोल को नियंत्रित करने के घरेलू उपाय-

लहसुन- वैज्ञानिक शोध में यह बात साबित हुआ है इसके सेवन करने सेकोलेस्ट्रोल समस्या नहीं होती है. लहसुन के सेवन से एल डी एल कोलेस्ट्रोल नियंत्रित रहता है. इसके लिए सुबह खाली पेट लहसुन की एक- दो कलियां चबाकर कच्चा खाना चाहिए.

ओट्स- ज्यादातर लोगों में एलडीएल कोलेस्ट्रॉल बढ़ता है. यदि आप अपने सुबह के नाश्ते में ओट्स शामिल करते हैं तो इससे अच्छे नाश्ता कुछ भी नहीं है. दरअसल ओट्स में बीटा ग्लूटेन मौजूद होता है जो एलडीएल को खत्म करता है.

नींबू- नींबू आपके शरीर में मौजूद बैड कोलेस्ट्रोल को खत्म करता है. इसमें मौजूद विटामिन सी रक्त वाहिका नालियों की सफाई करता है और यह पाचन तंत्र के जरिए उसे शरीर से बाहर निकाल देता है.

पालक- पालक बहुत ही बेहतर चीज है. इसमें मौजूद ल्युटेन आपके कोलेस्ट्रोल को कम करने में मदद करता है. पीले रंग का यह पिगमेंट हरी पत्तेदार सब्जियों व अंडे के पीले वाले हिस्से में पाया जाता है.

अलसी के बीज- इसमें प्रचुर मात्रा में फाइबर मौजूद होता है जो कोलेस्ट्रोल को नियंत्रण में रखता है. यह वजन कम करने में भी मदद करता है. यदि आप साबुत अलसी बीज की जगह उसे पीसकर खाएंगे तो यह आपके लिए ज्यादा बेहतर होगा.

धनिये के बीज- यदि आप बढे कोलेस्ट्रोल की समस्या से परेशान है तो धनिया का बीज काफी लाभदायक सिद्ध होगा. इसके लिए धनिया के बीजों को पीसकर पाउडर बना लें. उसके बाद आधी चम्मच से भी कम धनिए को एक कप पानी में उबालकर दिन में दो बार पिएं. इससे कोलेस्ट्रोल कम होता है. इसमें ऐसी चीजें होती है जो बढ़ते कोलेस्ट्रोल को कम करती है.

प्याज- प्याज भी कोलेस्ट्रोल को कम करने में काफी मददगार होता है. इसके लिए प्रतिदिन लाल प्याज का सेवन करना चाहिए. प्याज के सेवन से अच्छे कोलेस्ट्रोल को बढ़ने में मदद मिलती है.

ऑलिव आयल- अक्सर आपने विज्ञापनों में देखा होगा कि एक सामान्य आयल और ऑलिव आयल में क्या अंतर होता है. यदि आप ऑलिव आयल से बना खाना खाते हैं तो इससे आपके शरीर में कोलेस्ट्रोल 8% तक कम रहता है. यह उच्च रक्तचाप और मधुमेह को भी कंट्रोल में रखता है.

ड्राई फ्रूट्स- ड्राई फ्रूट्स (सूखे मेवे ) खाना हमारे सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है. यह इंसान के शरीर में प्रोटीन की कमी को दूर करता है और कोलेस्ट्रोल को भी कम करता है क्योंकि ये प्रोटीन, फाइबर और विटामिन ई से भरपूर होते हैं. साथ ही मेवों में स्वस्थ फैटी एसिड भी पाया जाता है.

आंवला- यदि आप प्रतिदिन एक चम्मच सूखे आंवले के पाउडर को एक ग्लास गर्म पानी में मिलाकर पिए और एक आंवला का सेवन करें तो यह आपकी कोलेस्ट्रोल को कम करने में काफी मददगार साबित होता है.

संतरे का जूस- यदि आप हाई कोलेस्ट्रॉल को प्राकृतिक रूप से कम करना चाहते हैं तो नियमित रूप से तीन कप संतरे के जूस पिए. आपको तुरंत कोलेस्ट्रोल की समस्या से छुटकारा पाना है तो यह आपके लिए काफी फायदेमंद साबित होगा.

यदि किसी व्यक्ति को हाई कोलेस्ट्रोल की समस्या रहती है तो डॉक्टरी सलाह जरूर लेनी चाहिए.

नोट- यह पोस्ट शैक्षणिक उद्देश्य से लिखा गया है. अधिक जानकारी के लिए आप अपने डॉक्टर या डाइटिशियन की सलाह जरूर लें. धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments