उत्तराखंड के चमोली में ग्लेशियर बांध टूटने से मची तबाही, इतने लोगों को मरने की है आशंका

उत्तराखंड के चमोली में नंदा देवी नेशनल पार्क के अंतर्गत कोर जोन में स्थित ग्लेशियर बांध टूटने से तबाही मच गई है, रिपोर्ट के अनुसार रानी गांव के पास ऋषि गंगा तपोवन हाइड्रो प्रोजेक्ट का बांध टूट गया है. जिससे  काफी नुकसान हो गया है और बाढ़ जैसी स्थिति पैदा हो गई है.

उत्तराखंड के मुख्य सचिव ओमप्रकाश ने ए एन आई को बताया कि बाढ़ में लगभग सौ से डेढ़ सौ लोगों को मरने की आशंका है. इसमें कई मजदूर भी शामिल है. जिला प्रशासन और पुलिस प्रशासन की टीम मौके पर पहुंच चुकी है, एसडीआरएफ भी घटनास्थल के लिए रवाना हो चुकी है. प्रशासन ने हरिद्वार तक हाई अलर्ट जारी कर दिया है.

रिपोर्ट के अनुसार रानी गांव के पास 24 मेगा वाट का प्रोजेक्ट निर्माणाधीन था. ग्लेशियर टूटने से नदी में बाढ़ जैसे हालात पैदा हो गए हैं. ऋषिकेश कोडियाला इको टूरिज्म जोन में जल पुलिस और एसडीआरएफ को अलर्ट कर दिया गया है. जल पुलिस के साथ आपदा प्रबंधन दल राफ्टिंग स्थलों पर पहुंच गया है. चमोली और रुद्रप्रयाग जिले में नदी किनारे सभी स्थलों पर प्रशासन ने अलर्ट जारी किया है. वह नदी किनारे बस्तियों में रहने वाले लोगों को ऊंचाई वाले इलाकों में ले जाने का आदेश जारी कर दिया गया है.

बांध टूटने से नदी विकराल रूप ले चुकी है. घटना का वीडियो भी सामने आया है, जिसमें नदी रौद्र रूप दिखाई दे रहा है, वीडियो में दिख रहा है कि नदी अपने पूरे उफान पर है. वीडियो में दिख रहा है कि अफरा-तफरी का माहौल बना हुआ है.

राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की अप्पर मुख्य कार्यकारी अधिकारी रिद्धम अग्रवाल ने एक बयान में कहा है कि सुबह पहाड़ से भारी मलवा हिमखंड टूट कर आने से इन हाइड्रो प्रोजेक्ट के बैराज छतिग्रस्त हुए हैं. बाढ़ के खतरे को देखते हुए तपोवन से लेकर हरिद्वार तक के सभी जिलों को अलर्ट कर दिया गया है. साथ ही गंगा और उसकी सहायक नदियों के किनारे के रास्ते बंद कर दिए गए हैं. उन्होंने बताया कि गंगा के किनारे के सभी कैंपों को खाली कराया जा रहा है.

 अफवाह पर ना दें ध्यान-

 मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने ट्वीट करते हुए लिखा है चमोली जिले से एक आपदा का समाचार मिला है. जिला प्रशासन पुलिस विभाग और आपदा प्रबंधन को इस आपदा से निपटने के आदेश दे दिए गए हैं. किसी भी तरह की अफवाहों पर ध्यान ना दें. सरकार सभी जरूरी कदम उठा रही है.

Post a Comment

0 Comments