बिना दवाई शरीर के हर दर्द हो जाएगा छूमंतर, सिर्फ करना होगा यह काम

कल्याण आयुर्वेद- हमारे एक हाथ में 5 अंगुलियां होती है जो शरीर के अलग-अलग अंगों से जुडी हुई होती है. इसका मतलब आपको दर्द नाशक दवाई ना खाने की वजह इस आसान और प्रभावी तरीके का इस्तेमाल करना चाहिए. आज हम आपको इस पोस्ट के माध्यम से अपने अंगुली की मदद से शरीर के हर हिस्से के दर्द को कैसे दूर कर सकते हैं बताने की कोशिश करेंगे.

बिना दवाई शरीर के हर दर्द हो जाएगा छूमंतर, सिर्फ करना होगा यह काम
हमारे हाथ की अलग-अलग अंगुलियां, अलग-अलग बीमारियों और भावनाओं से जुड़ी होती है. शायद आपको पता ना हो पर यह सच है कि अंगुलियां चिंता और चिड़चिड़ापन दूर करने की क्षमता रखती है. अंगुलियों पर धीरे से दबाव डालने से शरीर के कई अंग पर प्रभाव पड़ता है और उस हिस्से में हुए समस्याएं दूर होती है.

चलिए जानते हैं विस्तार से-

1 .अंगूठा- हाथ का अंगूठा हमारे फेफड़ों से जुड़ा होता है. अगर आप दिल की धड़कन की समस्या से परेशान हैं तो हल्के हाथों से अंगूठे पर मसाज करें और हल्का सा खींचे. इससे आपको राहत मिलेगा.

2 .तर्जनी- यह अंगुली आँतों से जुड़ी होती है. अगर आप पेट में दर्द की समस्या से परेशान हैं तो इस अंगुली को हल्का सा रगड़ें तुरंत ही आराम मिलना शुरू हो जाएगा.

3 .मध्यमा- मध्यमा यानी हाथ की बीच की उंगली परिसंचरण तंत्र और सर्कुलेशन सिस्टम से जुड़ी होती है. अगर आपको चक्कर या जी घबराने की समस्या है तो इस अंगुली पर मालिश करने से आपको तुरंत ही आराम मिलने लगेगा.

4 .अनामिका- अनामिका यानी हाथ की चौथी अंगुली आपकी मनोदशा से जुड़ी हुई होती है. अगर किसी कारण आपका मनोदशा अच्छा नहीं है या शांति चाहते हैं तो इस अंगुली को हल्का सा मसाज करें और खींचे. आपको जल्द ही इसके अच्छे परिणाम सामने आएंगे और आपका मूड खिल उठेगा.

5 .कनिष्ठा- कनिष्ठा यानी हाथ की पांचवी और छोटी उंगली यह किडनी और सिर के साथ संबंध रखता है. अगर आपको सिर में दर्द है तो इस अंगुली को हल्का सा दबाएं और मसाज करें. आपका सिर दर्द गायब हो जाएगा. इसे मसाज करने से किडनी भी तंदुरुस्त रहती है.

नोट- यह उपाय एक्यूप्रेशर चिकित्सा के अंतर्गत आने वाली है, अधिक जानकारी के लिए एक्यूप्रेशर चिकित्सक की सलाह ले सकते हैं. धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments