बेझिझक खेले होली, रंग छुड़ाने में मदद करेंगे ये नुस्खे

कल्याण आयुर्वेद- रंगों का त्यौहार होली आने में कुछ ही दिन बाकी है. इस त्यौहार में बच्चे, बूढ़े सभी रंग से खेलना बहुत पसंद करते हैं लेकिन होली के रंग काफी पक्के होते हैं. जिसके कारण यह त्वचा और बालों पर चढ़ने के बाद उतरने में समय लेते हैं. साथ ही यह त्वचा और बालों को नुकसान भी पहुंचाते हैं. आज के पोस्ट में हम आपको कुछ ऐसे टिप्स बताएंगे जिसकी मदद से आप आसानी से रंगों को छुड़ा पाएंगे.

बेझिझक खेले होली, रंग छुड़ाने में मदद करेंगे ये नुस्खे

तो आइए जानते हैं विस्तार से-

होली खेलने से पहले इस तरह करें तैयारी-

होली खेलने के बाद अक्सर रंग छुड़वाने में परेशानी होती है. ऐसे में आप पहले से ही कुछ तैयारी कर सकते हैं इसके लिए अपने बालों और शरीर पर नारियल, बादाम व किसी भी तेल से मसाज करें. तेल रंग को जल्दी त्वचा और बालों पर लगने से बचाएगा.

आइए जानते हैं चेहरे पर लगा रंग छुड़ाने का तरीका-

रंग को सूखने न दें- यदि आप पानी वाली होली खेलने वाले हैं तो रंग को त्वचा पर सूखने ना दे और चेहरे को साफ पानी से धोएं. इससे रंग आपकी त्वचा पर नहीं चढ़ेगा और आसानी से निकल जाएगा.

नींबू, दूध तथा बेसन- एक कटोरी में दो बड़े चम्मच बेसन, एक छोटा चम्मच नींबू का रस तथा आवश्यकता अनुसार दूध मिलाएं. फिर इसे प्रभावित जगह पर हल्के हाथों से मसाज करते हुए लगाएं. 10 मिनट तक इसे लगा रहने दे बाद में गुनगुने पानी से धो लें.

जौ का आटा तथा बादाम का तेल- जौ के आटे में जरूरत अनुसार बादाम का तेल मिलाकर प्रभावित जगह पर हल्के हाथों से मसाज करें. 10 मिनट तक लगा रहने दें उसके बाद गुनगुने पानी से धो लें.

मुल्तानी मिट्टी तथा दूध- एक कटोरी में एक बड़ा चम्मच मुल्तानी मिट्टी, कच्चा पपीता का पेस्ट डालें. फिर इसमें एक छोटा चम्मच बादाम तेल और दूध मिलाएं, तैयार पेस्ट को जिद्दी दाग पर लगाएं और लगभग आधा घंटा तक रहने दें. उसके बाद गुनगुने पानी से धो लें.

खीरा का रस, गुलाब जल तथा सिरका- तीनों चीजों को बराबर मात्रा में मिलाकर प्रभावित जगह पर लगाएं. इसे हल्के हाथों से मलें तथा 10 मिनट तक लगा रहने दें. उसके बाद गुनगुने पानी से धो लें.

आपको यह जानकारी कैसी लगी हमें कमेंट में जरूर बताएं और अगर अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट को लाइक तथा शेयर जरूर करें. धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments