शरीर में ये लक्षण दिखे तो तुरंत हो जाए सावधान, हो सकती है यह खतरनाक बीमारी

कल्याण आयुर्वेद- हमारे शरीर में जब कोई भी बीमारी प्रवेश करने लगती है तो हमारा शरीर अलग ही लक्षण प्रकट करने लगता है. आज हम इस पोस्ट के माध्यम से डायबिटीज के लक्षणों के बारे में बात करेंगे.

शरीर में ये लक्षण दिखे तो तुरंत हो जाए सावधान, हो सकती है यह खतरनाक बीमारी

आज हमारे देश में डायबिटीज के मरीजों की संख्या दिन प्रतिदिन बढ़ती ही जा रही है. आंकड़ों के अनुसार दुनियाभर में डायबिटीज के सबसे ज्यादा मामले भारत में ही है. भारत की लगभग 5 फीसदी आबादी डायबिटीज की बीमारी से पीड़ित है. जिन लोगों में डायबिटीज होने की अधिक संभावना होती है उन्हें पहले से ही कई लक्षण शरीर में दिखने लगते हैं. लेकिन जानकारी न होने के कारण लोग डायबिटीज के लक्षण पहचान नहीं पाते हैं और समय पर इलाज न होने की वजह से डायबिटीज के शिकार हो जाते हैं.

डायबिटीज बहुत ही खतरनाक बीमारी है, यदि किसी को एक बार हो जाए तो पूरी जिंदगी उसका साथ नहीं छोड़ता है. डायबिटीज कई प्रकार की होती है. टाइप-1, टाइप- 2 और जेस्टेशनल डायबिटीज. टाइप- 1 और टाइप- 2 डायबिटीज बहुत जानलेवा होती है. वही जेस्टेशनल डायबिटीज गर्भावस्था के दौरान होती है बच्चे के जन्म के बाद कई बार खुद ही खत्म हो जाती है.

तो चलिए जानते डायबिटीज के लक्षण-

* भरपूर मात्रा में पानी पीना सेहत के लिए काफी फायदेमंद होने के साथ जरूरी भी होता है, लेकिन अगर भरपूर पानी पीने के बाद भी पानी पीने की अधिक जरूरत महसूस होती है तो यह चिंता का विषय हो सकता है क्योंकि ज्यादा प्यास लगना डायबिटीज के लक्षणों में शामिल है.

* जब आपको डायबिटीज होता है तो आपको बार-बार पेशाब जाने की जरूरत पड़ने लगती है. दरअसल, बार बार पेशाब जाने से ब्लड स्ट्रीम में मौजूद अधिक शुगर शरीर से बाहर निकलती है और यह डायबिटीज का लक्षण है अगर आपको जरूरत से ज्यादा पेशाब जाने की जरूरत महसूस हो रही है तो आपको डायबिटीज की जांच करानी चाहिए.

* अगर भरपूर नींद लेने के बाद भी आपको थकान महसूस होती है तो यह चिंता का विषय हो सकता है क्योंकि डायबिटीज से पीड़ित लोगों के शरीर में कार्बोहाइड्रेट सही तरह से ब्रेक नहीं हो पाता है. इस वजह से खाने से मिलने वाली एनर्जी शरीर को पूरी तरह से नहीं मिलती है, एनर्जी नहीं मिलने के कारण शरीर में थकावट महसूस होता है. अगर आपको भी अधिक थकान महसूस होती है तो आपको डायबिटीज की जांच करानी चाहिए.

* जरूरत से ज्यादा भूख लगना भी डायबिटीज का लक्षण है. दरअसल, शरीर में मौजूद कोशिकाएं इन्सुलिन प्रोडक्शन में बाधा पड़ने के कारण शरीर में मौजूद शुगर एब्जोर्ब नहीं कर पाती है इससे शरीर में सही तरह से एनर्जी प्रोड्यूस्ड नहीं हो पाती है जिस वजह से ज्यादा भूख लगने लगती है.

* अगर अच्छा और सेहतमंद खानपान होने के बावजूद भी आपका वजन दिन-प्रतिदिन कम हो रहा है तो यह डायबिटीज का लक्षण हो सकता है. इसलिए आपको इसे नजरअंदाज नहीं करना चाहिए बल्कि ब्लड शुगर लेवल की जांच करानी चाहिए.

* आंखों की रोशनी पर फर्क पड़ना भी डायबिटीज के लक्षणों में शामिल है. यदि आपको धुंधला दिखाई देता है, आंखों की रोशनी कम ज्यादा बार-बार हो रही है तो आपको डायबिटीज की जांच करानी चाहिए.

* डायबिटीज से पीड़ित लोगों को किसी भी कारण से लगी चोट जल्दी ठीक नहीं होती है. अगर आपकी चोट भी ठीक होने में ज्यादा समय लग रहा है तो इसे बिल्कुल भी नजरअंदाज नहीं करें. दरअसल, जब शुगर का स्तर अधिक होता है तो बैक्टीरिया इंफेक्शन हो जाता है. साथ ही शरीर में खून का सर्कुलेशन धीमा होने से भी चोट जल्दी ठीक नहीं होता है.

यदि उपर्युक्त लक्षण शरीर में दिखे तो आपको डायबिटीज की जांच जरूर करवा लेनी चाहिए क्योंकि समय रहते इसका परहेज और इलाज कर लिया जाए तो एक स्वस्थ जीवन यापन आसानी से किया जा सकता है.

Post a Comment

0 Comments